India's Largest Hindi Information Website

[राजस्थान] नवजात सुरक्षा योजना की जानकारी हिंदी में देखिए

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana Details In Hindi | Kangaroo Mother Care Will Take Care of Newborns | कंगारू मदर केयर से होगी नवजातों की देखभाल

Rajasthan-Navjaat-Suraksha-Yojana-In-Hindi
Rajasthan-Navjaat-Suraksha-Yojana-In-Hindi

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana 2020: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको इस लेख के माध्यम से “राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना” की जानकारी देंगे। राजस्थान सरकार प्रदेश में नवजात बच्चों की सुरक्षा और बेहतर देखभाल के लिए ‘मुख्यमंत्री नवजात सुरक्षा योजना 2020’ शुरू करने जा रही है। वीडियाे काॅन्फ्रेंसिंग में सीएमएचओ कार्यालय से बातचीत करते हुए चिकित्सा-स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर रघु शर्मा ने कहा है कि प्रदेश में कम वजनी, कुपोषित और समय से पहले जन्मे नवजात शिशुओं की बेहतर देखभाल के लिए इस सरकारी योजना का प्रारंभ किया जा रहा है। इसके साथ ही राजस्थान Navjaat Suraksha Yojana में कंगारू मदर केयर पद्धति को भी निरोगी राजस्थान अभियान का हिस्सा बनाया जाएगा। जिससे शिशु मृत्यु दर में कमी आएगी। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. शर्मा ने बताया कि प्रदेश में किसी भी नवजात की मौत नहीं हो, इसके लिए जल्द ही ट्रेनिंग प्रोग्राम भी शुरू किए जाएंगे।

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को राजस्थान सरकार से हाल ही में कोटा के एक अस्पताल में 100 से ज्यादा शिशुओं की मौत पर जवाब सौंपने के लिए कहा था। जिसके संदर्भ में ही राजस्थान सरकार द्वारा इस नवजात सुरक्षा योजना को प्रदेश में शुरू किया गया है। इसके तहत 77 मास्टर ट्रेनर्स भी तैयार किए जाएंगे, जो कि जिला और ब्लॉकस्तर पर जाकर आम लोगों के बीच जाकर कंगारू मदर केयर के प्रति जागरूक करेंगे।राज्यभर में लगाए जाने वाले स्वास्थ्य मित्रों को भी कंगारू मदर केयर का प्रशिक्षण दिया जाएगा, ताकि प्रदेश में शिशु मृत्यु दर में और कमी आ सके। नीचे हम आपको Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana Details In Hindi | Kangaroo Mother Care Will Take Care of Newborns | कंगारू मदर केयर से होगी नवजातों की देखभाल की पूरी जानकारी प्रदान कर रहे है। कृपया इसके लिए पूरा लेख अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें।

मुख्यमंत्री नवजात सुरक्षा योजना की पूरी जानकारी-

Mukhyamantri Navjaat Suraksha Yojana Details – राजस्थान सीएम नवजात सुरक्षा योजना को प्रदेश की सरकार निरोगी राजस्थान योजना के अंतर्गत मिलाएगी। जिससे की स्वस्थ्य देखभाल को अगले चरण तक ले जाया जा सके। इसके अलावा कंगारू मदर केयर प्रोग्राम को समय-समय पर राज्य के हर जिलें में आयोजित किया जाएगा। जिससे लोगों के अंदर स्वस्थ्य को लेकर जागरूकता पहुंचाई जा सके।

राज्य सरकार के कंगारू मदर केयर केंद्रों में 77 मास्टर ट्रेनर होंगे। जो जिलें और ब्लॉक में जाकर स्वास्थ्य केयर स्टाफ को प्रशिक्षण देंगे। चिकित्सा मंत्री ने कहा कि नवजातों के लिए कंगारू मदर केयर बेहतरीन काॅन्सेप्ट है, जिसमें बिना किसी खर्चे के केवल स्पर्श चिकित्सा के जरिए बच्चा बेहतर स्वास्थ्य पा सकता है। इसके साथ ही स्वास्थ्य मित्रों को भी कंगारू मदर केयर का प्रशिक्षण दिया जाएगा, ताकि प्रदेश में शिशु मृत्यु दर में और कमी आ सके।

राजस्थान कंगारू मदर केयर क्या है?

What is Rajasthan Kangaroo Mother Care – कंगारू मदर केयर एक ऐसी तकनीक है, जिसमें बच्चे को मां के सीने से चिपका कर रखा जाता है। जिससे माँ के शरीर की गर्मी बच्चे को मिल सके। ऐसा करने से मां का तापमान बच्चे को मिलने से बच्चे का तापमान स्थिर रहता है और उसे ठंडा बुखार होने की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है। चिकित्सा मंत्री के बयान के अनुसार नवजातों के लिए ‘कंगारू मदर केयर’ बेहतरीन काॅन्सेप्ट है। जिसमें बिना किसी खर्चे के केवल ‘स्पर्श चिकित्सा’ (Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana) के माध्यम से बच्चा बेहतर स्वास्थ्य पा सकता है।

उन्होंने यह भी बताया कि प्रदेश भर में शिशु मृत्यु दर में हालांकि काफी कमी आई है। पहले जहां पर यह 41% था वहीं अब 35 प्रतिशत रह गई है। आने वाले समय में इसे आगामी योजनाओं के माध्यम से और भी कम किया जाएगा। सवाई मानसिंह मेडिकल काॅलेज के प्राचार्य डॉक्टर सुधीर भंडारी ने कंगारू मदर केयर के बारे में बताते हुए माँ की गोद को प्राकृतिक इन्क्यूबेटर बताया। उन्होंने कहा कि विज्ञान के अनुसार केएमसी काॅन्सेप्ट के जरिए ही बच्चे का संपूर्ण विकास होता है।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना 2020 राजस्थान सूची देखें

आयुष्मान भारत: महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना-

Rajasthan Mahatma Gandhi Swasthya Bima Yojna – महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना, आयुष्मान भारत की तरह ही राज्य के नागरिकों को स्वास्थ्य बीमा प्रदान करती है। राजस्थान सरकार द्वारा पहले से भामाशाह योजना को चलाया जा रहा था। परंतु सरकार के बदल जाने के बाद, इस बीमा योजना को बदल दिया गया है। अब यह बीमा योजना “आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना (AB-MGRSBY)” के नाम से चलाई जाएगी।

इस स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत भी गरीबों का फ्री में इलाज किया जाएगा। इस योजना के तहत कैशलेस इलाज किया जाएगा। इसके लिए सरकार एक स्मार्ट कार्ड जैसा पेपर परिवार को दे सकती है। जिसमें इलाज का और बीमा राशि का पूरा विवरण होगा। अभी फिलहाल बीमा राशि तय नहीं की गई है। केंद्र सरकार द्वारा जो योजना चलाई जाती है उसमें 5 लाख तक का बीमा प्रदान किया जा रहा है। यह योजना सरकार द्वारा गरीब जनता के लिए लाई जा रही है। अतः इसका प्रीमियम बहुत कम होगा अथवा जो भी प्रीमियम बनता है वह सरकार द्वारा भरा जाएगा।

यह भी पढ़ें: राजस्थान महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना 2020 | आवेदन फॉर्म

RM-Helpline-Team

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.