[MJSA] जल स्वावलंबन अभियान योजना राजस्थान 2020

Mukhyamantri Jal Swavlamban Abhiyan Yojana Rajasthan 2020 | Check MJSA Phase 4 Details In Hindi | राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन योजना क्या है

Jal-Swavlamban-Abhiyan-Yojana-In-Hindi
Jal-Swavlamban-Abhiyan-Yojana-In-Hindi

Mukhyamantri Jal Swavlamban Abhiyan Yojana 2020: जल स्वालंबन अभियान योजना को जल की सुरक्षा के लिए राजस्थान सरकार ने शुरू किया है। इस योजना के तहत राजस्थान सरकार जल संरक्षण तथा जल संचयन के लिए समग्र नेतृत्व साझेदारी, दृष्टिकोण, पवित्रता, उत्कृष्टा तथा नैतिक जिम्मेदार के मूल्यों का इस्तेमाल कर ग्रामीण इलाकों से संबंधित क्रियाओं के प्रभावी कार्यान्वयन निश्चित करने के लिए किया है।

जल स्वावलंबन योजना के तहत इस प्रोग्राम को कार्य करने के लिए इस प्रकार से रचना की है की सभी गाँव के निचले स्तर पर सामुदायिक उन्नति हो। इस योजना के तहत इस प्रोग्राम में पहले साल में 3 हज़ार गावों को प्राथमिकता के आधार पर चयन किया गया है तथा आने वाले 3 सालों में 6 हज़ार के आसपास गांव हर वर्ष इस योजना में युक्त होंगे।

इस योजना का मुख्य लक्ष्य राजस्थान राज्य के 21 हज़ार गावों को वर्ष 2020 तक फायदा पहुँचना है। इस योजना के तहत राजस्थान में बारिश बहुत कम होती है तथा देख जाये तो हर वर्ष केवल 3-4 महीने में छोटे बादल होते है। यह योजना राजस्थान राज्य में पानी को बचाने के लिए बहुत लाभदायक है। इस योजना के तहत राजस्थान सरकार ने तीन करोड़ का बजट मिशन के प्रथम भाग के लिए बनाया है।

राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान योजना का लक्ष्य-

Aim of Rajasthan Mukhyamantri Jal Swavlamban Abhiyan Yojana – मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान योजना के तहत सिंचित इलाकों को बढ़ाने के लिए अलग अलग विभागों के संसाधनों के अभिसरण के जरिये से प्रभावी जल संरक्षण निश्चित करने के लिए किया गया है।

  1. इस योजना के तहत 40 % बारिश को सिंचित इलाके को सिचाई के तहत लाया जाना है।
  2. जल स्वावलंबन योजना के अंतर्गत फसल पद्धति में भी बदलाव करना है।
  3. इस योजना के तहत राजस्थान राज्य को एक स्थायी पानी वाला राज्य बनाने के लिए इस योजना को शुरू किया है।
  4. Jal Swavlamban Abhiyan के तहत फसल उत्पादन में बढ़ोतरी करना है।
  5. इस योजना के तहत सामुदायिक भागीदारी के जरिये से पानी बजट के जरिये से एक गांव को काम करने के लिए तैयार किया गया है। इस योजना के तहत उपजाऊ तथा सिंचित इलाकों में बढ़ोतरी करनी है।
  6. जल स्वावलंबन योजना के तहत राजस्थान के सभी गॉवों को पानी के लिए आत्म-निर्भर बनाना है।
  7. Jal Swavlamban Yojna के तहत स्थायी उपायों के जरिये से पीने के पानी में गांव को एक आत्म निर्भर बनाने के लिए किया गया है। जल स्वावलंबन योजना के तहत भू जल स्तर में बढ़ोतरी करना है।
  8. इस योजना के अंतर्गत वाटरशेड की प्रमुख धारा में सतह के प्रवाह को प्राप्त कराना है।

मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान योजना के लक्षण- 

Characteristics of Rajasthan CM Jal Swavlamban Abhiyan Scheme – मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान योजना 4 वर्ष का प्रोग्राम है तथा प्रत्येक भाग एक एक वर्ष के लिए है।

  • जल स्वावलंबन अभियान के तहत कम खर्च में जल संचयन सरंचना का निर्माण करना है।
  • इस योजना के तहत नागरिकों की भागीदारी को भी आमंत्रित किया जाना है।
  • Jal Swavlamban Yojana के तहत सभी गॉवों को पानी के लिए आत्म निर्भर बनाना है।
  • इस योजना के तहत इस प्रोग्राम में टेक्नोलॉजी का बड़े स्तर पर इस्तेमाल होगा।
  • इस योजना के तहत यह प्रोग्राम राज्य में 33 जिलों के 295 ब्लॉकों में आरंभ किया गया है।
  • जल स्वावलंबन अभियान योजना के तहत सामाजिक समूहों, आदिवासी  ग्रामीणों, धार्मिक न्यास, कॉर्पोरेट घरानों, लाइन विभागों तथा गैर सरकारी संगठन आदि जैसे कई साधनों से वित्तीय संसाधन जुटाएं जायेंगे।

मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान योजना में अंशदान कैसे करे?

How to Subscribe to Chief Minister’s Jal Swavlamban Abhiyan Yojana – मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान योजना के तहत कोई भी व्यक्ति इस योजना में अपना पंजीकरण कर सकता है तथा दान या गुमनाम रूप से दान करे।

इसके लिए आप इस लिंक पर क्लिक करे:

यहाँ क्लिक करे >> http://mjsa.water.rajasthan.gov.in/

  • इस योजना के तहत कोई भी व्यक्ति ऑनलाइन पोर्टल के जरिये से इस योजना के किसी भी तरह से दान कर सकते है।
  • जल स्वावलंबन अभियान के तहत आपको जो लिंक दिया गया है। उस लिंक पर क्लिक करे तथा केवल निधि अभियान पर क्लिक करे।

Jal Swavlamban Abhiyan Yojana की जानकारी तथा पंजीकरण करने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे:-

यहाँ क्लिक करे: http://mjsa.water.rajasthan.gov.in/

Rajasthan MJSA Scheme Phase 4 Launched: Click Here

RM-Helpline-Team

Comments are closed.