[फॉर्म] झारखंड अंतरजातीय विवाह योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन

Jharkhand-Inter-Caste-Marriage-Scheme-In-Hindi
Jharkhand-Inter-Caste-Marriage-Scheme-In-Hindi

Jharkhand Inter-Caste Marriage Scheme 2020-: नमस्कार पाठकों, आज हम आपको इस लेख के माध्यम से झारखंड सरकार द्वारा शुरू की गयी “अंतरजातीय विवाह योजना (इंटर-कास्ट मैरिज स्कीम)” की जानकारी देंगे। इस योजना के तहत झारखण्ड राज्य सरकार अंतर जाति विवाह करने वाले जोड़ों (दम्पति) को सहायता राशि प्रदान करती है। जैसे की आपको मालूम होगा कि राज्य में जात-पात भेदभाव को खत्म करने के लिए सरकार तरह-तरह की समाज कल्याणकारी योजनाएं बनती है। अंतर जाति विवाह योजना भी एक ऐसी ही योजना है जिसमे नवविवाहित दंपतियों (जिन्होंने अंतर्जातीय विवाह किया हो) को प्रोत्साहन राशि सरकार द्वारा प्रदान की जा रही है। योजना का लाभ लेने वाले दम्पति में से कोई एक सवर्ण जाति से संबंध रखना चाहिए, जबकि दूसरा अनुसूचित जाति (SC) से होना चाहिए। तभी उन्हें इस योजना का लाभ दिए जाएगा।

झारखंड के नागरिकों को राज्य सरकार द्वारा इंटर कास्ट मैरिज यानि अंतर्जातीय विवाह के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। जिसमे सवर्ण जाति का नागरिकों को अनुसूचित जाति की लड़की या लड़के से शादी करनी होगी, ताकि समाज में सबको बराबरी का हक मिल सके। इसके लिए झारखण्ड सरकार केंद्र सरकार के साथ मिलकर ऐसे जोड़ों को प्रोत्साहन राशि दे रही है, जिन्होंने अंतरजातीय विवाह किया हो। प्रोत्साहन राशि के तौर पर 2.5 लाख रूपये डॉ भीमराव अंबेडकर फाउंडेशन की तरफ से दी जाएंगे, जबकि 50 हजार रुपये झारखंड सरकार द्वारा प्रदान किए जायेंगे। इस प्रकार लाभार्थी दम्पति को सरकार द्वारा पूरे 3 लाख रुपये प्रोत्साहन राशि प्राप्त होगी।

झारखंड अंतरजातीय विवाह योजना 2020 की जानकारी

Jharkhand Antarjatiye Vivah Yojana Details – जैसा कि हम सभी जानते हैं कि ऐसे कई उम्मीदवार हैं जिन्होंने अंतरजातीय लड़के या लड़कियों से शादी की है। परन्तु उन्हें इस बात का ज्ञात नहीं होता की कैसे वो इंटर-कास्ट मैरिज स्कीम के तहत लाभ उठा सकते हैं। यदि आप भी अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना का लाभ उठाने चाहते हैं तो आप बिलकुल सही जगह आये हैं। यहाँ हम आपको Jharkhand Inter-Caste Marriage Scheme Incentive & Eligibility Conditions | इंटर-कास्ट मैरिज झारखण्ड – प्रोत्साहन राशि व पात्रता शर्ते की पूरी जानकारी प्रदान कर रहे हैं। कृपया इसके लिए इस आर्टिकल को अंत तक ध्यान से पढ़ें।

योजना का नाम  झारखंड अंतरजातीय विवाह योजना
शुरू की गयी  केंद्र व राज्य सरकार द्वारा
सहायता राशि  डॉ अंबेडकर फाउंडेशन द्वारा 2.50 लाख रुपए
झारखण्ड सरकार द्वारा 50 हजार रुपये
आधिकारिक वेबसाइट http://jsmc.co.in/
सम्बंधित विभाग  झारखंड राज्य अल्पसंख्यक आयोग
डॉ अंबेडकर फाउंडेशन अंतर्जातीय विवाह योजना आवेदन फॉर्म
अंतर जाति विवाह योजना का लाभ कौन उठा सकता है?

Jharkhand Inter-Caste Marriage Scheme Benefits – जैसे कि इसके नाम से पता चलता है कि अंतरजातीय विवाह योजना या इंटर-कास्ट मैरिज स्कीम का मतलब दूसरी जाति में विवाह करना है। अगर कोई व्यक्ति अंतर जाति में शादी करता है तो उसे इस योजना का लाभ दिया जायेगा। परन्तु इसमें शर्ते यह है कि दम्पति में से कोई एक सवर्ण जाति से होना चाहिए वही दूसरा अनुसूचित जाति/जनजाति (दलित) समुदाय से होना चाहिए। तभी उन्हें सरकार द्वारा सहायता राशि के तौर पर 3 लाख रुपये प्रोत्साहन के तौर पर दिए जायेंगे।

झारखण्ड राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि यह एक अच्छी शुरुआत है जिससे नवविवाहित दंपतियों को राज्य सरकार द्वारा प्रोत्साहन राशि प्रदान की जा रही है। योजना के तहत पहले ₹25,000 की राशि प्रदान की जाती थी, लेकिन अब राज्य सरकार ने इसे बढ़ाकर ₹50,000 कर दिया है। वही दूसरी तरफ 2.50 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि डॉ अंबेडकर साहेब फाउंडेशन की तरफ से प्रदान की जाती है। इस तरह से लाभार्थी दम्पति को कुल मिलकर 3 लाख रुपये की आर्थिक सहायता (Incentive) मिलती है। जिससे ये अपना आगे का जीवन खुशी से व्यतीत कर सके।

इसे भी पढ़ें: झारखंड संशोधित पेंशन योजना 2020 हिंदी में देखिए

इंटर-कास्ट मैरिज स्कीम झारखण्ड हेतु पात्रता/योग्यता शर्ते-

Eligibility Conditions for Jharkhand Inter-caste Marriage Scheme – इस योजना का लाभ लेने के लिए सरकार ने कुछ पात्रता शर्ते निर्धारित की हैं, जिसका पालन करने के बाद ही आवेदकों को प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी।

  • योजना का लाभ केवल राज्य के स्थाई निवासियों को दिए जाएगा, जोकि इंटर-कास्ट मैरिज कर चुके हैं या करने वाले हैं।
  • विवाहित दंपतियों को इस योजना का लाभ उठाने हेतु शादी के 6 महीने से लेकर 1 साल के अंदर आवेदन करना होगा।
  • Antarjatiye Vivah Yojna के अंतर्गत आवेदन करने वाले दम्पति में से कोई एक सवर्ण जाति से संबंध रखता हो जबकि दूसरा अनुसूचित जाति (दलित) से संबंध रखना चाहिए।
  • सरकार द्वारा दी जाने वाली सहायता राशि दम्पति/युगल के संयुक्त बैंक खाता में जमा की जाएगी।
  • इसके साथ ही नवदंपत्ति को कोर्ट मैरिज करनी होगी, साथ ही उसके पास इसका प्रमाण (मैरिज सर्टिफिकेट) भी होना चाहिए।
Jharkhand Inter-caste Marriage Scheme के लिए जरूरी दस्तावेज-
  • Aadhaar Card: – नवविवाहित दंपत्ति के पास आधार कार्ड होना अनिवार्य है।
  • Passport-size Photograph: – आवेदन करने वाली दंपत्ति के पास एक पासपोर्ट-साइज की संयुक्त फोटो व एक अलग-अलग फोटो होनी चाहिए।
  • Caste Certificate: – नवविवाहित दंपतियों को अपनी जाति का प्रमाण पत्र देना होगा।
  • Marriage Certificate: – आवेदनकर्ता के पास मान्यता प्राप्त कोर्ट में हुई शादी का प्रमाण पत्र (मैरिज सर्टिफिकेट) होना चाहिए।
  • Residence Certificate: – योजना का लाभ केवल झारखंड राज्य के स्थाई निवासी ही ले सकते हैं, इसीलिए स्थाई निवास प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।
  • Jharkhand Bonafide: – आवेदन करने वाले नवविवाहित दंपत्ति के पास झारखंड का बोनाफाइड होना अनिवार्य है।
  • Income Certificate: – विवाहित दंपति का पारिवारिक आय सर्टिफिकेट
  • Joint Bank Account: – दम्पति/युगल का संयुक्त बैंक खाता जो उनके आधार कार्ड के साथ लिंक हो।

इसे भी पढ़ें: झारखंड राशन कार्ड नई लिस्ट 2020 में अपना नाम देखें

झारखण्ड अंतरजातीय विवाह योजना 2020 आवेदन/पंजीकरण प्रक्रिया-

Jharkhand Inter-caste Marriage Scheme 2020 Application / Registration Process – अंतर्जातीय विवाह योजना या इंटर-कास्ट मैरिज स्कीम के लिए आवेदन / पंजीकरण करने हेतु इच्छुक और योग्य उम्मीदवार को नीचे दिए स्टेप्स को फॉलो करना होगा।

  1. सबसे पहले आपको झारखंड राज्य अल्पसंख्यक आयोग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. इसके पश्चात, आपको ‘अंतर जाति विवाह प्रोत्साहन योजना’ का एक लिंक प्राप्त होगा, उस पर क्लिक कर दीजिए।
  3. फिर आपको Antarjatiye Vivah Protsahan Yojana का रजिस्ट्रेशन फॉर्म प्राप्त होगा।
  4. पंजीकरण फॉर्म को ध्यानपूर्वक भरकर ऊपर दिए गए सभी आवश्यक दस्तावेज की फोटोकॉपी अपलोड करें।
  5. अंत में आवेदन फॉर्म को ऑनलाइन जमा करने के लिए ‘Submit’ बटन पर क्लिक कर दीजिये।
Antarjatiye Vivah Yojana Jharkhand हेतु ऑफलाइन आवेदन-
  1. अंतरजातीय विवाह योजना का लाभ लेने के लिए आपको अपने निकटतम डीसी ऑफिस में जाकर निर्धारित आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  2. उसके बाद, आपको एप्लीकेशन फॉर्म को सही तरह से भरकर उसमे सभी जरूरी दस्तावेजों को संलग्न करें।
  3. अंत में आवेदन फॉर्म को उसी कार्यालय में जमा करा दे, जहां से आपने फॉर्म प्राप्त किया था।
  4. इस तरह से आप Jharkhand Inter-caste Marriage Scheme के तहत प्रोत्साहन राशि प्राप्त कर सकते हो।

झारखंड अंतरजातीय विवाह योजना के अंतर्गत सभी योग्य दम्पति को 2.50 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि डॉ भीमराव अंबेडकर फाउंडेशन की तरफ से दी जाएगी और बाकि के बचे 50 हजार रुपये राज्य सरकार द्वारा दी जाएगी। सरकार द्वारा दी जाने वाली इस प्रोत्साहन राशि से अंतरजातीय विवाह करने वाले युवाओं और युवतियों को काफी मदद मिलेगी। जिससे उनको भविष्य में आर्थिक तंगी का सामना न करना पड़े। साथ ही इस योजना से राज्य में चल रही छुआ-छूत तथा अन्य प्रकार की कुप्रथाओं से मुक्ति मिलेगी और ज्यादा से ज्यादा लोग अब अंतर्जातीय विवाह (इंटर-कास्ट मैरिज) के लिए प्रोत्साहित होंगे।

इसे भी पढ़ें: झारखंड बेरोजगारी भत्ता योजना 2020 लाभार्थी सूची देखें

RM-Helpline-Team

Leave A Reply

Your email address will not be published.