[HP] मुख्यमंत्री हिम सेवा टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर जल्द शुरू

Mukhyamantri-Him-Sewa-Helpline-Number
Mukhyamantri-Him-Sewa-Helpline-Number

HP Mukhyamantri Him Sewa Helpline Number-: हिमाचल प्रदेश सरकार बहुत ही जल्द राज्य में मुख्यमंत्री हिम-सेवा हेल्पलाइन नंबर शुरू करने जा रही है। इस मुख्यमंत्री हिम सेवा हेल्पलाइन नंबर (CM Him Seva Toll-Free No) पर, लोग अपने मोबाइल फोन से कॉल कर सकते हैं और अपनी समस्याएं सरकार को अधिकारियों को बता सकते हैं। जिसके बाद, अधिकारी उनकी सेवाओं का उचित उपाय बताएंगे। राज्य सरकार अपनी तरफ से यह भी सुनिश्चित करेगी की लोगों को उनकी परेशानी का समाधान ठीक से मिला है या नहीं इसके लिए एक फॉलो-अप कॉल भी देगी। जिसके लिए कॉल सेंटर शिमला में खोले जाएंगे।

राज्य सरकार हिमाचल प्रदेश में मुख्यमंत्री हिम सेवा हेल्पलाइन नंबर के लिए 4 अंकों का टोल फ्री नंबर शुरू करेगी। इस हेल्पलाइन नंबर पर एक समय में 60 लोगों की कॉल या फिर उनकी कठिनाइयों का समाधान किया जा सकेगा। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने ट्वीट करके सीएम हिम सेवा हेल्पलाइन नंबर (Mukhyamantri Him Seva Toll-free Helpline Number) के बारे में लोगों को यह जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने यह भी बताया की यह हेल्पलाइन नंबर सुविधा अगले कुछ दिनों में शुरू हो जाएगी।

Latest Update – हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन नंबर सुविधा: 1100

HP मुख्यमंत्री हिम-सेवा हेल्पलाइन नंबर

CM Him Sewa Toll-Free Helpline Number – हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा स्थापित कॉल सेंटर पर हिम सेवा टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर पर आई कॉल पर एक अधिकारी लोगों की समस्याओं को नोट करेगा। फिर वह इसे कंप्यूटर के अंदर डालेगा और इसे संबंधित अधिकारी को भेज देगा। उस अधिकारी को इस समस्या पर समयबद्ध कार्यवाही करनी होगी और उस समस्या का समाधान करना होगा।

  • जैसे ही समस्या पर उचित कार्रवाई हो जाएगी, तब शिकायतकर्ता को इस संबंध में जानकारी दे दी जाएगी।
  • मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर हर महीने सीएम हिम सेवा हेल्पलाइन नंबर पर आने वाली कॉल के कामकाज की समीक्षा करेंगे।
  • नए सेटअप कॉल सेंटर में, दर्जनों अधिकारी एक साथ बैठकर लोगों की समस्याओं का समाधान करेंगे।
  • इसके अलावा, सभी कॉल को सॉफ्टवेयर द्वारा नियंत्रण किया जाएगा जिससे की कॉल अटेंडेंट किसी समस्या को मना ना कर सके।
मुख्यमंत्री हिम सेवा हेल्पलाइन नंबर जल्द शुरू-

Mukhyamantri Him Sewa Toll-Free Helpline Number – राज्य में अभी तक लोगों के पास केवल ई-मेल के माध्यम से अपनी शिकायतें भेजने का विकल्प है पर अब इस सर्विस के आ जाने से लोग अपनी समस्याओं को सीधे मुख्यमंत्री तक पहुंचा सकते हैं।

जो लोग कम पढे लिखे है वे भी अब इस HP CMO Helpline/टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर का इस्तेमाल कर सकते हैं। क्योकि कॉल का जवाब हिन्दी और क्षेत्रीय भाषा में दिया जाएगा। मुख्यमंत्री कार्यालय ने नागरिकों से चुनी हुई सरकार के बेहतर कामकाज के लिए अपने सुझाव देने के लिए कहा है। जिसके लिए हिमाचल प्रदेश के नागरिक इस ई-मेल आईडी [email protected] पर अपनी राय दे सकते हैं।

  • Mukhyamantri Him Sewa Toll-Free Helpline: 1100
  • HP CM Him-Sewa Officail Email ID: [email protected]
  • CMO Himachal Pradesh Official Website: Click Here

यह भी पढ़ें: हिम-केयर हेल्थ स्कीम 2020 ऑनलाइन पंजीकरण

दोस्तों, यहां हमने आपको मुख्यमंत्री हिम सेवा टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर के (HP Mukhyamantri Him Sewa Toll-Free Helpline Number) बारे में सभी जानकारी प्रदान कर दी है। अगर आपको इस लेख से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना है तो नीचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हो। हम आपकी पूरी सहायता करेंगे। हमारी वेबसाइट www.readermaster.com में आने के लिए धन्यवाद, अधिक अपडेट के लिए बने रहें।

5 Comments
  1. Anonymous says

    Himachal Pradesh himcare yojana ke liye panjikaran kaise kare?

  2. Anonymous says

    Hello Sir,
    Mera naam HP Himcare Seva Yojna list me aa gya hai, ab iske liye avedan kaha se kare?

    1. Alammeen. Chauhan says

      Himachal Pradesh Kaisa Rajya hai tourist ko ghumne Nahin Dete Hain majdur Ko majduri Nahin Karen Dete Hain dukandar Yahan per Yahan to Raja ka shasan Chalta Hai Magar Desh Azad hai Kahin Bhi ghoom sakte hain Chand 47 Mein Azad desh hua tha 1950 Mein sanvidhan lagu ho gaya tha vahan Modi abhi Modi ko bahut kam karna hai yah majdur kahan jaega Ek to Naukari Nahin aur Fir majduri Bhi Nahin karne dete mujhe bahut Shikayat Hai Himachal Walon se Yahan market wale bhi apna ko Dada mante Hain Raja mante

  3. Rampal,[email protected] says

    सर जी,
    हम फॉरेस्ट में चल रहे प्रोजेक्ट्स में काम करते हैं हमारी सोशल स्टाफ की पॉलिसी भी बनी थी। जिसकी notificationभी अप्रैल 2017 में हुई थी।जिसके तहत हम natural resource management society के रेगुलर कर्मचारी है लेकिन हमारा अभी तक रेगुलर कर्मचारी का स्केल नहीं मिला। कभी बोला जाता है बजट नहीं है कभी बोला जाता है एक दो महीने में हो जाएगा ये बोलते हुए एक साल से अधिक समय हो गया है हमारा कुछ नहीं कर रहे है। हम 7500रुपए में 150/200km जा कर कार्य कर रहे है।ये कौन सा स्केल हमें मिल रहा है कहने को तो हम रेगुलर कर्मचारी है बात सैलरी की करें तो महीने के 2500रुपए प्राप्त होते है।हम से तो लोकल पार टाइम जॉब बाले ठीक है ।
    इस लिए सर जी हमारी इस समस्या का समाधान दिया/किया जाए।

  4. Rampal says

    Reply please

Leave A Reply

Your email address will not be published.