India's Largest Hindi Information Website

BSNL VRS Scheme- बीएसएनएल वीआरएस योजना 2020

BSNL VRS Scheme 2020 Details In Hindi | Check Voluntary Retirement Package & Minimum Age of BSNL Employees | स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति पैकेज और न्यूनतम आयु

BSNL-MTNL-VRS-Scheme-Details-In-Hindi
BSNL-MTNL-VRS-Scheme-Details-In-Hindi

BSNL VRS Scheme 2019-20: नमस्कार मित्रो, आज आपके लिए “बीएसएनएल वीआरएस योजना” की जानकारी लेके आएं हैं। यह तो सभी जानते ही है की BSNL काफी समय से घाटे में चल रही है। तो अभी बीएसएनएल की कुल कमाई का करीब 75 फीसदी हिस्सा कर्मचारियों के ऊपर खर्च होता है। इसे कम करने के लिए स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति प्लान (BSNL Voluntary Retirement Scheme) तैयार किया गया है। कंपनी के 55 साल से ज्यादा उम्र के कर्मचारियों को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेने का विकल्प दिया जाएगा। साथ ही कर्मचारियों के लिए सेवानिवृत्ति की उम्र 58 साल कर दी जाएगी। अभी सेवानिवृत्ति की उम्र 60 साल है। यह नियम 1 जनवरी 2020 से लागू होगा। सरकार इस कदम से कर्मचारियों की संख्या में 50 फीसदी कमी लाना चाहती है। करीब 10 हजार करोड़ रुपये जुटाने के लिए गवर्नमेंट एश्योरेंस बांड भी लाने का प्लान है।

योजना की घोषणा महानगर टेलीफोन निगम लिमिटेड और भारत संचार निगम लिमिटेड द्वारा की गई है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बीएसएनएल और एमटीएनएल विलय को एक पुनरुद्धार पैकेज के रूप में मंजूरी दी है। जिसमें संप्रभु बांड, संपत्ति का मुद्रीकरण और स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति शामिल है। कर्मचारियों के लिए योजना (वीआरएस)। BSNL के 1.76 लाख कर्मचारी और MTNL के पूरे भारत में 22,000 कर्मचारी हैं। जो प्रतिभागी योजना का लाभ लेने के इच्छुक हैं। उन्हें पात्रता मानदंड के तहत आना चाहिए जैसा कि आगे बताया गया है। आवेदक बीएसएनएल वीआरएस योजना के बारे में विवरण में इस लेख से जानकारी ले सकते हैं। इसके लिए आपको यह लेख अंत तक पढ़ना होगा।

बीएसएनएल वीआरएस योजना 2019-20

BSNL VRS Scheme Details – संकट में घिर चुकी बीएसएनएल को बचाने के लिए सरकार का दावा है कि वह जल्द ही रिवाइवल पैकेज (स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना) का ऐलान करेगी। टेलीकॉम मंत्रालय से जुड़े एक अधिकारी के अनुसार अभी तक जो पैकेज का खाका तैयार हुआ है, उसके तहत सरकार का भरोसा कंपनी की संपत्तियों को बेचकर और कर्मचारियों की संख्या में कटौती कर कंपनी को बचाने के मॉडल पर है। मंत्रियों के समूह ने 15 जून 2019 को रिवाइवल प्लान को मंजूरी दी। इसमें कंपनी को 4जी लाइसेंस देने का फैसला किया गया है। इसके लिए सॉलिसिटर जनरल से कानूनी सलाह भी ली जा चुकी है।

योजना का नाम   स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना
संगठन का नाम भारत संचार निगम लिमिटेड और महानगर टेलीफोन निगम लिमिटेड 
लाभार्थि  BSNL कर्मचारी
आधिकारिक वेबसाइट   bsnl.co.in
बीएसएनएल वीआरएस प्लान की आवश्यकता क्यूँ पड़ी-

Requirement of BSNL & MTNL VRS Scheme – आपको हम कुछ मुख्य तथ्यों से बताते हैं की बीएसएनएल वीआरएस प्लान की आवश्यकता क्यूँ पड़ी दी गयी जानकारी ध्यान से पढ़ें:

  • एक अक्टूबर 2000 को डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकॉम ऑपरेशंस और सर्विसेज को मिलाकर भारत संचार निगम लिमिटेड का गठन किया गया।
  • 2001-02 में 6,312 करोड़ मुनाफे के साथ देश की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली सार्वजनिक कंपनी बनी।
  • कंपनी ने 2002 में सेल वन नाम से शुरू की मोबाइल सेवाएं, हालांकि निजी कंपनियों ने 1995 -96 से अपनी सेवाएं देनी शुरू कर दी थी।
  • बढ़ती कमाई से 2007-08 में कंपनी के पास 37,162 करोड़ रुपये की नकदी थी।
  • 2009-10 में पहली बार कंपनी को 1,822 करोड़ रुपये का घाटा हुआ।
  • 2012 में कंपनी ने 3जी सेवाएं शुरू की, 3जी लाइसेंस और वाइमैक्स तकनीक के इस्तेमाल पर कंपनी को 19 हजार करोड़ रुपये खर्च करने पड़े।
  • गठन के समय कर्मचारियों पर कमाई का कुल खर्च 22 फीसदी था, जो अब बढ़कर 75 फीसदी तक पहुंच चुका है।
  • फरवरी 2019 में पहली बार कर्मचारियों की सैलरी अटकी।
  • केरल एकमात्र सर्किल है जो कंपनी के लिए फायदेमंद है। बाकी 21 सर्किल में कंपनी को घाटा हो रहा है।
  • जून 2019 तक कंपनी पर 11,788 करोड़ रुपये की देनदारी हो चुकी है।
  • डाटा के दौर में कंपनी के पास अभी तक 4जी लाइसेंस नहीं है।

15 साल में कंपनी की मोबाइल ग्राहकों में हिस्सेदारी 15 फीसदी से घटकर 10 फीसदी पर आ गई है। इस कारण सरकार अब BSNL VRS Scheme (Voluntary Retirement Scheme) के जरिए कंपनी को उबारने की तैयारी कर रही है। 4जी लाइसेंस और कर्मचारियों के लिए वीआरएस स्कीम लाने का प्लान है।

BSNL स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना के लाभ-

Benefits of BSNL VRS Scheme (Voluntary Retirement Scheme) – बीएसएनएल स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना के लाभ निम्नलिखित हैं।

  • भारत संचार निगम लिमिटेड और महानगर टेलीफोन निगम लिमिटेड ने कर्मचारियों के लिए एक स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना की घोषणा की है।
  • बीएसएनएल और एमटीएनएल को 15,000 करोड़ के सॉवरेन बॉन्ड को जुटाने जा रहे हैं
  • और अगले चार वर्षों में रु 38,000 करोड़ की संपत्ति अर्जित की जाएगी।
  • सरकार MTNL के लिए Rs.2,36,00 करोड़- Rs.3,600 करोड़ और BSNL स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना पर Rs.20,000 करोड़ खर्च करने जा रही है।
  • यह योजना केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा अनुमोदित है। कैबिनेट ने प्रशासनिक आवंटन पर 4 जी स्पेक्ट्रम को भी मंजूरी दी।
बीएसएनएल स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना का उद्देश्य-

Objective of BSNL VRS Scheme (Voluntary Retirement Scheme) – स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना के उद्देश्य निम्न प्रकार से हैं:

  1. इस योजना की घोषणा उन कर्मचारियों के लिए की गई है जो संगठन के भीतर 55 वर्ष और 31 वर्ष की आयु प्राप्त कर चुके हैं।
  2. वीआरएस के पीछे मुख्य उद्देश्य वर्तमान में 15,000 के आसपास कार्यबल को कम करना है।
  3. यह योजना बीएसएनएल के 3 लाख कर्मचारियों में से लगभग 1 लाख कर्मचारियों को लाभ प्रदान करेगी।
  4. सरकार के इस कदम का महानगर टेलीफोन निगम लिमिटेड के कर्मचारियों ने स्वागत किया है, लेकिन भारत संचार निगम लिमिटेड के कर्मचारियों ने वीआरएस का विरोध किया है।
  5. बीएसएनएल के कर्मचारियों के विरोध के पीछे कारण नौकरी छूटने का डर है। बीएसएनएल के कर्मचारियों को लगता है कि इससे उन्हें किसी तरह से ज्यादा फायदा नहीं होने वाला है।
BSNL VRS Scheme के लिए पात्रता मापदंड-

Eligibility Criteria for BSNL VRS Scheme – इस योजना का लाभ उठाने के इच्छुक कर्मचारियों के पास निम्नलिखित पात्रता होनी चाहिए।

  • संगठन में कुल सेवा के 31 वर्ष
  • 55 वर्ष की आयु को बनाए रखा

Official Notice: BSNL-VRS-Scheme (Voluntary Retirement Scheme)

नोट:- अभी बीएसएनएल के अधिकारियों द्वारा इस योजना के बारे में अधिक जानकारी नहीं दी है। आप इसकी अन्य जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं।


यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री द्वारा शुरू योजनाओं की सूची 2019-20 PDF

प्यारे दोस्तों, आपको हमारा आर्टिकल “बीएसएनएल वीआरएस योजना 2020 (BSNL VRS Scheme In Hindi)” केसा लगा? यदि आपको इससे जुडी कोई अन्य जानकारी या सवाल पूछने हों। तो आप हमे नीचे कमेंट के माध्यम से लिख भेजिए हम जल्द ही आपको जवाब देंगे। अन्य सभी सरकारी योजनाओ की सबसे पहले जानकारी पाने के लिए हमारे पेज www.readermaster.com के साथ बने रहें। धन्यवाद-

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.