India's Largest Hindi Information Website

उत्तर प्रदेश वृद्धावस्था पेंशन योजना 2019-20 सूची देखें

UP Old Age Pension Scheme 2019-20 List | Uttar Pradesh Vridhjan-Budhapa Pension Yojana In Hindi | यूपी वृद्धावस्था पेंशन योजना ऑनलाइन आवेदन करें

वृद्धा पेंशन योजना उत्तर प्रदेश | मुख्यमंत्री पेंशन योजना उत्तर प्रदेश | उत्तर प्रदेश वृद्धावस्था पेंशन योजना 2019 | वृद्धावस्था पेंशन योजना यूपी | वृद्धावस्था पेंशन योजना उत्तर प्रदेश 2019 | Old Age Pension UP | Old Age Pension Form Online Application | UP Old Age Pension Scheme 2019 | Vridha Pension List 2019 UP | Vridha Pension List Uttar Pradesh

UP-Old-Age-Pension-Scheme-In-Hindi
UP-Old-Age-Pension-Scheme-In-Hindi

UP Old Age Pension Scheme 2019-20: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको उत्तर प्रदेश वृद्धावस्था पेंशन योजना के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देंगे। आज के समय में देखा जाता है कि लोग जब अपने पैरों पर खड़े हो जाते हैं और अपना गृहस्थ जीवन अच्छे से जीने लगते हैं। तो वे अपने वृद्ध माता-पिता को अपने ऊपर बोझ समझने लगते हैं और वे उन्हें घर से बेघर कर देते हैं। ऐसे में वृद्धावस्था में लोग दर-दर भटकते रहते हैं। ऐसे लोगों की सहायता के लिए उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने अपने राज्य के सभी वृद्ध लोगों को सहायता देने के लिए एक पेंशन योजना की शुरुआत की है। जिसके तहत उन्हें मासिक आधार पर 800 रूपये तक प्रदान करने का प्रावधान है।

तत्कालिक राज्य सरकार ने इस तरह की पुरानी योजना से तुलना करते हुए नई योजना को बेहतर बताया है। जैसे कि आपको मालूम होगा कि योगी सरकार प्रदेश के पिछड़े और गरीब तबके के लोगों के लिए समय-समय पर समाजकल्याणकारी योजनाएं बनाती रहती है। उत्तर प्रदेश वृद्धजन/बुढ़ापा पेंशन योजना भी इन में से एक है। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार ने अपने पिछले 4 साल के कार्यकाल में बहुत-सी सामाजिक कल्याणकारी योजनाएं बनाई है। इस लेख के माध्यम से हम आपको UP Old Age Pension Scheme से सम्बंधित सभी जानकारी प्रदान कर रहे हैं। कृपया इसके लिए पूरा आर्टिकल अंत तक ध्यान से पढ़ें।

उत्तर प्रदेश वृद्धावस्था पेंशन योजना (UP Old Age Pension Scheme 2019-20)

जैसे कि हमने आपको ऊपर बताया कि योगी सरकार ने हाल ही में उत्तरप्रदेश वृद्धावस्था पेंशन योजना शुरू की है। यह पेंशन योजना समाजवादी पेंशन योजना का ही नया रूप है, जिसे यूपी सरकार ने 15 अगस्त 2018 को आधिकारिक रूप से शुरू किया था। इस योजना के तहत सरकार प्रदेश के 50 लाख से अधिक वृद्ध लोगों (सीनियर सिटीजन) को पेंशन प्रदान करेगी। इसके लिए यूपी सरकार ने ऑफिसियल वेबसाइट http://sspy-up.gov.in/IndexOAP.aspx भी लांच की है।

यूपी वृद्धावस्था पेंशन योजना की विशेषताएं (Key Features of UP Old Age Pension Scheme):

  • वरिष्ठ नागरिकों को सहायता – इस योजना की मुख्य विशेषता यह है कि यह योजना योग्य वरिष्ठ नागरिकों के लिए बनाई गई है। ताकि उनका जीवन बेहतर हो सके और उन्हें दूसरों पर निर्भर न होना पड़े।
  • आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए – इस योजना में उन वरिष्ठ नागरिकों को लाभ प्रदान किया जायेगा जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं। इससे उन्हें अपनी आय का साधन मिल सकेगा और वे गरीबी से एक कदम ऊपर उठ सकेंगे।
  • विधवा एवं विकलांग लोगों को सहायता – पहले की योजना की तुलना में इस नई पेंशन योजना में कुछ संशोधन किये गये हैं। इस योजना में विधवा एवं विकलांग लोगों को भी सहायता प्रदान की जाएगी।
  • सहायता राशि – इस योजना के तहत यूपी राज्य सरकार लाभार्थियों को 800 रूपये प्रतिमाह पेंशन के रूप में प्रदान करेगी।
  • अधिक पाबंदी नहीं है – एक रिपोर्ट से पता चला है कि इस योजना में बहुत अधिक प्रतिबन्ध नहीं लगाये गये हैं। इसलिए उम्मीद हैं कि इस योजना के तहत पात्रता मानदंड को लोग आसानी से समझ सकते हैं। जिससे अधिक-से-अधिक लोग इसके लिए आवेदन कर सकते हैं।
उत्तर प्रदेश वृद्धावस्था पेंशन योजना पात्रता एवं आवश्यक दस्तावेज (Eligibility and Required Documents for UP Old Age Pension Yojana)-
  1. स्थाई निवासी – यूपी वृद्धावस्था पेंशन योजना का लाभ उन आवेदकों को मिलेगा। जिनका जन्म उत्तर प्रदेश राज्य में हुआ है और वे यही के स्थाई निवासी हैं। अतः आवेदकों को निवास प्रमाण देने के लिए अपना राशन कार्ड, मतदाता कार्ड या अन्य इसी तरह के किसी एक दस्तावेज की कॉपी जमा करनी होगी।
  2. आयु सीमा – जैसा कि नाम से ही समझ आ रहा है कि यह पेंशन योजना केवल वृद्ध लोगों के लिए है। जोकि 60 साल की उम्र पार कर चुके हैं। इसलिए नागरिकों को अपना जन्म प्रमाण पत्र या आयु प्रमाण पत्र जमा करना होगा।
  3. बीपीएल नागरिक – इस नयी पेंशन योजना का उद्देश्य हैं कि गरीब वरिष्ठ नागरिकों को सहायता प्रदान की जाए। इसलिए वे आवेदक जिनका नाम राज्य बीपीएल सूची में दर्ज हो वे इसके लिए योग्य हैं। अतः उन्हें आवेदन फॉर्म के साथ अपने जाति-प्रमाण पत्र की कॉपी भी जमा करनी चाहिए।
  4. सालाना आय सीमा – वृद्धजन पेंशन योजना के लिए आय-सीमा के बारे में जानकारी देनी आवश्यक है। आवेदकों को इस योजना का लाभ आर्थिक रूप से कमजोर एवं पिछड़े वर्ग में आने वाले लोगों को दिया जाना है। इसलिए आवेदकों को अपना आय का प्रमाण की कॉपी जमा करनी चाहिए।
  5. बैंक खाता विवरण- इस योजना में यह भी आवश्यक है कि आवेदक का बैंक में अकाउंट हो। क्योंकि इस पेंशन योजना में दी जाने वाली राशि लाभार्थियों के बैंक खाते में डाली जाएगी। अतः फॉर्म के साथ आवेदकों को बैंक खाते से सम्बंधित जानकारी देना होगी।

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना

उत्तर प्रदेश वृद्धावस्था पेंशन योजना आवेदन प्रक्रिया (UP Old Age Pension Scheme Application Process)-

वृद्धजन/बुढ़ापा पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए यदि आप योग्य हैं। तो आपको इसके तहत ऑनलाइन आवेदन करने के जरुरत है। अधिकारिक वेबसाइट में जानने के लिए नीचे दिए पर क्लिक करें। उसके बाद, नीचे दिए गए आसान चरणों का पालन करें।

UP-Old-Age-Pension-Apply-Online

Apply-Online-UP-Budhapa-Pension-Yojana
Apply-Online-UP-Budhapa-Pension-Yojana
  • इस पर क्लिक करने के बाद, स्क्रीन में कुछ विकल्प दिखेंगे। जहाँ आपको एक विकल्प ‘ऑनलाइन आवेदन करें’ भी दिखेगा, उस पर क्लिक करें।
  • इसके बाद, एक नया वेबपेज खुलेगा जहाँ आपको 4 और विकल्प दिखाई देंगे। आपको उनमे से ‘View Application Form’ विकल्प पर क्लिक करना है।
  • तद्पश्चात, आपके सामने यूपी बुढ़ापा पेंशन योजना का आवेदन फॉर्म खुलेगा। जहाँ आपको सारी जानकारी सही से भरनी होगी।
  • अब आपको सभी आवश्यक दस्तावेजों एवं आपकी फोटो को स्कैन करके आवेदन फॉर्म में ऑनलाइन अपलोड करना होगा।
  • इसके बाद, आपको ‘Save’ बटन पर क्लिक करके रजिस्ट्रेशन नंबर और एकनॉलेजमेंट पर्ची जनरेट करना होगा।
  • इस पंजीकरण नंबर को संभाल कर रखें। क्योंकि यह आपके आवेदन स्थिति की जाँच एवं अन्य कामों में आएगी।

अंत में आप सेव किए हुए आवेदन फॉर्म का प्रिंट निकाल लें और इसे अपने नजदीकी जिला समाज कल्याण अधिकारी के कार्यालय में जाकर जमा कर दें। आपको यह फॉर्म एक महीने के अंदर जमा करना होगा। नहीं तो यह रिजेक्ट भी हो सकता है। इस तरह से आप उत्तर प्रदेश वृद्धावस्था पेंशन योजना के लिए आवेदन को पूरा कर पाएंगे।

यूपी वृद्धजन पेंशन योजना स्टेटस की जाँच करें (Check UP Budhapa Pension Yojana Application Status)-

अगर आपने UP Old Age Pension Scheme तहत ऑनलाइन आवेदन किया है तो आप इसकी स्थिति की जाँच भी कर सकते हो। इसके लिए बस आपको निम्न चरणों का पालन करना होगा।

  • सबसे पहले आपको इसकी अधिकारिक वेबसाइट http://sspyup.gov.in/IndexOAP.aspx पर जाना होगा। वेबपेज पर ‘आवेदन की स्थिति’ विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद, अगले वेब पेज पर तीन विकल्प होंगे। जहाँ आपको ‘आवेदन की स्थिति जानने हेतु लोगिंग करें’ विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस विकल्प पर क्लिक करने के बाद, आपसे इसमें लॉगिन करने के लिए कहा जायेगा। जिसे आप अपने रजिस्ट्रेशन नंबर के साथ आसानी से कर सकते हैं।
  • पोर्टल में लॉगिन करने के बाद, आपको आपके आवेदन की सही स्थिति का पता लग जायेगा। इस तरह से आप यूपी वृद्धजन पेंशन योजना स्टेटस को चेक कर सकते हो।

उत्तर प्रदेश नई पेंशन योजनाएं 2019-20

उत्तर प्रदेश वृद्धावस्था पेंशन योजना 2019 की सूची देखें (Check UP Old Age Pension Scheme 2019 List)-

यूपी वृद्धावस्था पेंशन योजना 2019 की सूची में अपना नाम ऑनलाइन देखने के लिए निम्न बिन्दुओं का पालन करें।

  1. बुढ़ापा पेंशन लिस्ट 2019 में अपना नाम देखने के लिए आपको इसकी अधिकारिक वेबसाइट http://sspyup.gov.in/IndexOAP.aspx पर जाना होगा।
  2. वेब पोर्टल पर पहुंचने के बाद, आपको नीचे ‘पेंशनर सूची’ ऑप्शन दिखाई देगा उस पर क्लिक करें।
  3. फिर आपके सामने यूपी के सभी जनपद के नाम की सूची खुलेगी। उसमे से आप अपने जनपद का नाम चुनकर उस पर क्लिक करें।
  4. इसी तरह से अपने विकासखंड/ब्लॉक/क्षेत्र/ग्राम पंचायत का चयन करके आगे बढ़े।
  5. जब आप अपने ग्राम के नाम तक पहुँच जाओगे। उसके बाद, आगे वाले खंड में कुल पेंशनर की संख्या का लिंक दिखाई देगा।
  6. लिंक पर क्लिक करने के बाद, यहाँ से उस क्षेत्र में जितने भी पेंशनर हैं उनके नाम की सूची खुल जाएगी। इसके बाद, आप इस लिस्ट में अपना नाम चेक कर सकते हो।

यह भी पढ़ें (Also Read): उत्तर प्रदेश सरकारी योजनाओं की सूची 2019-20 (UP Mukhyamantri Yogi Adityanath Schemes List).

Readermaster Helpline Team

You might also like
1 Comment
  1. rahul says

    if she recieve a pf pension after the death of his husband.she can apply for a widow pension also.

Leave A Reply

Your email address will not be published.