यूपी गौ ग्राम योजना: आवारा गायों के लिए गौशाला सुविधा उत्तर प्रदेश | Gau Gram Yojana

 Gau-Gram-Yojana-In-Hindi
Gau-Gram-Yojana-In-Hindi

 Gau Gram Yojana UP: उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य भर में गौ ग्राम योजना शुरू करने जा रही है। इसके बाद, सरकार गायों के कारण होने वाले किसानों की समस्या से निपटने के लिए कई गौशालाएँ (Cowsheds) खोलेंगे। तदनुसार, राज्य सरकार प्रत्येक जिले में विभिन्न गोशालों (Gaushalla) को खोलने की योजना बना रही है। पहले चरण में, सरकार वृंदावन के 108 गांवों में इस योजना को लागू करना शुरू कर देगी।

गायों के लिए शुरू होने वाली यह योजना उन्हें कत्लखाने में जाने से  रोकने में मदद करेगी। इसके अलावा, यह योजना किसानों को गायों को पीछे लाने और उनके दूध, मूत्र और गाय गोबर की बिक्री के माध्यम से अतिरिक्त आय (Additional Income) अर्जित करने में सक्षम करेगी। इस योजना में, प्रत्येक किसान को स्वदेशी नस्ल की दो उच्च दूध पैदा करने वाली गायों मिलेंगी। हसानन्द गौचर भूमि ट्रस्ट (Hasanand Gochar Bhoomi Trust) इस योजना के लिए पदाधिकारी है।

Latest Update – आप लोगों को ये जानकर प्रसन्नता होगी कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने राज्य के बेरोजगार युवकों के लिए “गोपालक योजना- कामधेनु डेयरी लोन स्कीम” की शुरुआत की है। इस योजना के माध्यम से बेरोजगार युवक डेयरी फॉर्म के बैंक से लोन पर सब्सिडी ले सकते हैं। गोपालक योजना उत्तर प्रदेश ऑनलाइन फॉर्म कामधेनु डेयरी लोन स्कीम के बारे में अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें। धन्यवाद-

Gopalak Yojana Uttar Pradesh Online Form-Kamdhenu Dairy Loan Scheme

उत्तर प्रदेश गौ ग्राम योजना (UP Gau Gram Yojana- Gaushala Scheme In Uttar Pradesh)

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया था कि यूपी गौ ग्राम योजना (UP Gau Gram Yojana) योगी सरकार की गौ हत्या रोकने और उन्हें पुनः आश्रित करने के लिए एक बहुत ही अच्छी पहल है। इस योजना की महत्वपूर्ण विशेषताएं इस प्रकार हैं:

  • यूपी गौ ग्राम योजना गायों की सुरक्षा और संरक्षण के लिए एक आवश्यक कदम है।
  • किसान गाय दूध से अतिरिक्त कमाई (Extra Earnings) कर सकते हैं जो प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत है और यहां तक ​​कि गाय मूत्र से भी किसान जैविक खाद के रूप में उपयोग कर सकते हैं।
  • प्रारंभ में, सरकार शहरी क्षेत्रों (Urban Areas) में गौशालाएँ खोल देगी और बाद में, सरकार विभिन्न तहसीलों और गांवों में भी इसे खोल देगी।
  • इसके अलावा, सरकार आम लोगों से इस तरह की कई गौशालाएँ (Cowsheds) खोलने की उम्मीद करती है।  
  • इस गौ ग्राम योजना का प्राथमिक उद्देश्य गायों को वध (Slaughtering) करने से रोकने और उनके उचित पालन के लिए गोशालों खोलने के लिए है।
  • इस योजना में, सरकार गांव में गोशालों खोलने के लिए वित्तीय सहायता (Financial Assistance) प्रदान करेगी।
  • तदनुसार, यूपी सरकार चरणबद्ध तरीके से राज्य में अधिक गोशाला खोलने की योजना बना रही है।
  • हसानन्द गोचर भूमि ट्रस्ट “महामना गोग्राम योजना (Mahamana Gogram Yojana)” के तहत गौशालाएँ खोलने को बढ़ावा देगा और स्वदेशी नस्ल की 10,000 गायों को समायोजित करेगा।
यूपी गौ ग्राम योजना- आवारा गायों के लिए गौशाला सुविधा उत्तर प्रदेश

UP Gau Gram Yojana Details – मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने वृंदावन में महामना गौ ग्राम योजना का आधारशिला रखा है। इसके अलावा, सरकार प्रत्येक किसान को स्वदेशी नस्ल की 2 गायों को प्रदान करने के लिए एक नई योजना शुरू करने की भी योजना बना रही है। इसके बाद, सरकार दिल्ली और अन्य मेट्रो शहरों में गाय के दूध, मूत्र और गोबर की आपूर्ति के लिए प्रयास करेगी। इसके अलावा, सरकार वृंदावन (Vrindavan) में 108 गांवों को विकसित करने की भी योजना बना रही है।
अभी फिलहाल UP Gau Gram Yojana (आवारा गायों के लिए गौशाला सुविधा उत्तर प्रदेश) के तहत आवेदन प्रक्रिया के बारे में उत्तर प्रदेश सरकार ने कोई अतिरिक्त जानकारी साझा नहीं की है। जैसे ही सरकार इसके बारे में कोई जानकारी साझा करेगी, हम आपको अपने इस पोर्टल के माध्यम से अवगत करा देंगे। इसके लिए हमारी वेबसाइट में आते रहें। धन्यवाद-

यूपी निराश्रित बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना 2021

अभी हाल ही में उत्तर प्रदेश सरकार ने “निराश्रित बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना” को शुरू किया है। इस योजना के अंतर्गत योगी सरकार ने निराश्रित पशुओं की देखभाल करने के लिए एवं उनके पालन-पोषण के लिए 30 रुपये प्रतिदिन देने का वादा किया है।
इसके अलावा योगी सरकार निराश्रित गोवंश के संरक्षण व भरण-पोषण के लिए स्थायी-अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल, गो संरक्षण केंद्र, गोवंश वन्य विहार व पशु आश्रय गृह आदि संचालित कर रही है। अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

UP Nirashrit Besahara Govansh Sahbhagita Yojana 2021

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश सरकारी योजनाओं की सूची और ताज़ा खबरें 2021-22

दोस्तों, यहां हमने यूपी गौ ग्राम योजना- आवारा गायों के लिए गौशाला सुविधा उत्तर प्रदेश (UP Gau Gram Yojana- Cowsheds Facility For Stray Cows In Uttar Pradesh) के बारे में पूरा विवरण प्रदान किया। यदि आपके पास इस पोस्ट से संबंधित कोई प्रश्न है तो नीचे अपनी टिप्पणी सबमिट करने या हमारे टीम के सदस्यों से संपर्क करने में संकोच न करें। रीडर मास्टर (www.readermaster.com) में आने के लिए धन्यवाद, इस तरह की अधिक कंटेंट के लिए बने रहें।

51 thoughts on “यूपी गौ ग्राम योजना: आवारा गायों के लिए गौशाला सुविधा उत्तर प्रदेश | Gau Gram Yojana”

    1. नमस्कार सुनील सोनकर जी,
      यूपी गौ ग्राम योजना योगी सरकार की गौ हत्या रोकने और उन्हें पुनः आश्रित करने के लिए एक बहुत ही अच्छी पहल है। इस योजना के तहत गायों की सुरक्षा और संरक्षण के लिए एक आवश्यक कदम उठाये गए है। किसान गाय दूध से अतिरिक्त कमाई के साथ गाय मूत्र से भी किसान जैविक खाद के रूप में उपयोग कर सकते है।
      हसानन्द गोचर भूमि ट्रस्ट महामना गोग्राम योजना के तहत गौशालाएँ खोलने को बढ़ावा देगा और स्वदेशी नस्ल की 10,000 गायों को समायोजित करेगा। यूपी गौ ग्राम योजना के तहत गौशाला खोलने के लिए अपने ग्राम प्रधान या वार्ड मेंबर से संपर्क करें।
      धन्यवाद

    1. नमस्कार हेमंत सिंह जी,
      उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य भर में गौ ग्राम योजना शुरू करने जा रही है। इसके बाद, सरकार गायों के कारण होने वाले किसानों की समस्या से निपटने के लिए कई गौशालाएँ खोलेंगे। तदनुसार, राज्य सरकार प्रत्येक जिले में विभिन्न गोशालों को खोलने की योजना बना रही है। पहले चरण में, सरकार वृंदावन के 108 गांवों में इस योजना को लागू करना शुरू कर देगी।
      अधिक जानकारी के लिए अपने ग्राम प्रधान या वार्ड मेंबर से संपर्क करें।
      धयवाद

      1. गो ग्राम योजना की पहल करके राज्य सरकार का आभार
        जी मेरा नाम अन्नू पंडित गौ रक्षक दल बरसाना (मथुरा)
        जी में एक बात कहना चाहता हूँ कि राज्य सरकार ने ये योजना चालू करके बहुत अच्छा कार्य किया होना भी चाहिए सरकार जबतक साथ नहीं चलेगी गो हत्या नहीं रुकेगी..कब तक गौ भक्त प्रेमी लड़ते रहेंगे
        में सरकार से निवेदन करना चाहता हूँ की पहले गौशाला खोलने का मोका गौ सेवक को दिया जाए जो निस्वाथ गौ माता की सेवा मे लगें हैं सबसे पहले गौ संगठनो से सम्पर्क किया जाए जिन जिन गांव में गोशालायें हैं इस योजना का लाभ उन्हीं गोशाला वालों को दिया जाए ….

        1. Hello Sir,
          Muje gausala kholni hai or muje koi paisa bhi nhi chaiye meri appni jamin hai up mai muje paise ke liye nhi gausala kholi mai gau mata se bhout pyar karta hu mai aapna Jivan inko dena chata hu meri hepl karo

        2. sir muje gausala kholni hai or muje koi paisa bhi nhi chaiye meri appni jamin hai up mai muje paise ke liye nhi gausala kholi mai gau mata se bhout pyar karta hu mai aapna Jivan inko dena chata hu meri hepl karo

      2. Anilsharma12390@gmail.com

        गो ग्राम योजना की पहल करके राज्य सरकार का आभार
        जी मेरा नाम अन्नू पंडित गौ रक्षक दल बरसाना (मथुरा)
        जी में एक बात कहना चाहता हूँ कि राज्य सरकार ने ये योजना चालू करके बहुत अच्छा कार्य किया होना भी चाहिए सरकार जबतक साथ नहीं चलेगी गो हत्या नहीं रुकेगी..कब तक गौ भक्त प्रेमी लड़ते रहेंगे
        में सरकार से निवेदन करना चाहता हूँ की पहले गौशाला खोलने का मोका गौ सेवक को दिया जाए जो निस्वाथ गौ माता की सेवा मे लगें हैं सबसे पहले गौ संगठनो से सम्पर्क किया जाए जिन जिन गांव में गोशालायें हैं इस योजना का लाभ उन्हीं गोशाला वालों को दिया जाए ….

  1. गोपाल

    कृपया बताएं कि गौ शाला ट्रस्ट रजिस्ट्रेशन पहले जरूरी है अनुदान प्राप्त करने के लिए। अनुदान प्राप्त करने के मूलभूत आवश्यकताएं क्या है? ग्राम प्रधान को उचित जानकारी ना हो तो किससे संपर्क करें?

  2. Sir
    हमारे गांव में करीब 50 से ज्यादा आवारा पशुओं की कोइ सुविधा नहीं है जो हम लोगो के फसल को अच्छे से नहीं होने देते काफी समस्या है इसका निस्तारण कैसे होगा।

    1. Ramanuj chaudhary

      हमारे गांव में करीब 50 से ज्यादा आवारा पशुओं की कोइ सुविधा नहीं है जो हम लोगो के फसल को अच्छे से नहीं होने देते काफी समस्या है हम लोगों ने पशुओं को गांव के गवशाले में कैद करादिए दुसरे दिन पशुओं को छोड़ दिया गया इसका निस्तारण कैसे होगा।

  3. hamare gram me pahle se karib 6 saal se 250 gayo ke sath gausala ka sanchalan kar rhe h hmena to koi sarkari anudan milta h or na hi hamari gausala ka rgistyration hua h

  4. उत्कर्ष तिवारी

    हमने एक गौधाम सोसाइटी रजिस्टर कराई है।
    मेरी भूमि जालौन डिस्ट्रिक्ट में कालपी से लगभग 25 km पर रायपुर गांव में है।
    हमारी सोसाइटी गौ माता के जीवन को बचाने के लिए कार्य करना चाहती है।
    मार्ग दिखाए कैसे सरकार की नीतियों का लाभ उठा कर हम कार्य कर सकते हैं।
    धन्यवाद!

  5. Utkarsh tiwari

    हमने एक गौधाम सोसाइटी रजिस्टर कराई है। मेरी भूमि जालौन डिस्ट्रिक्ट में कालपी से लगभग 25 km पर रायपुर गांव में है। हमारी सोसाइटी गौ माता के जीवन को बचाने के लिए कार्य करना चाहती है। मार्ग दिखाए कैसे सरकार की नीतियों का लाभ उठा कर हम कार्य कर सकते हैं।
    धन्यवाद!

  6. Udit pratap singh

    नमस्कार सर,
    मेरा नाम उदित प्रताप सिह है मै ग्राम सेहरामऊ दक्षिणी जिला शाहजहाँपुर का मूल निवासी हू गौशाला बनाने हेतू जमीन खोज ली है कृपया मार्गदर्शन करे।
    मो०_9598888377

  7. Maa Uma Gaushala

    Hmara pass registered welfare society h jiske tht hm gaushala chlate h pr ajtk hme koi anuda ya srkari shayta nhi mili h aik bar kamdhenu yojna mai kosis ki thi government se to pass ho gya but bank me 7,00,000 Rs. Hmse Bank mai deposit krwaye bhi for bhi yojna nhi mili kaafi paisa bhi brbad ho gya… Kya ab apki is yojna se hme Kuch shayta mil skti h.. phone number 8179631446. umagaur81@gmail.com. Village Phphrana, Modinagar. Ghaziabad up 201204

  8. Gyan Varidhi Chaturvedi

    Sir,
    I want to open gaushalla for service of cow. I shall bring all cow in my gaushalla nearby Kanpur city and I shall try to keep all such type of cows . How government will help me in opening gaushalla in my paternal village ? How much financial help will be given by government and what are the rules for the same . I want to serve the nation by opening a chain of gaushallas in each district. & shall try to adjust all cows in those gaushallas.
    Thanks & regards
    G.V.Chaturvedi

    1. Hello GV Chaturvedi,
      We are glad to know that you are interested to serve the stray cows by opening Cowsheds (Gaushalla) in Uttar Pradesh. UP Govt has several schemes for those people who want to serve cows. Gopalak Yojana is one of them. To know more about this scheme, kindly read the full article by clicking the link below.
      Gopalak Yojana Uttar Pradesh
      Thanks & Regards
      Team Readermaster

  9. उत्तर प्रदेश सरकार इस योजना के तहत लोन में कितनी सब्सिडी देगी?

  10. Ku farmers ko barbad karne me lage ho jo pahle tha baisa kardo kuki cattle usse bhi jyada achhi tarike se mar rhe hai. Farmers ro rhe hai aur aap AC me baith kr bate kr rhe ho. No sol for this problem.

  11. Gaurav Kumar Saroj

    सर कोई हेल्पलाइन नम्बर बताईये जिसपे कॉल करने पर आवारा गायों तथा बैलो को हमारे गाँव से गौशाला ले जायें प्लीज

  12. Bhavishya Pandey

    मेरे पास एक बछडा़ है और मेरे घर के कुछ लोग उसे घर मे रखने कि अनुमति नहीं दे रहे हैं और उसे घर से बहार निकाल दिया है।
    अब आप से मेरा निवेदन है कि आप जितनी जल्दी हो सकता है आप मेरी मदद्त कर।

  13. Arihant jain 9045078887

    हम सरधना, जिला -मेरठ मे लोगो द्वारा छोड़ी गयी गायो को जिनको चोट , बीमार हो जाती है अपनी छोटी गौशाला मे लाकर उपचार करते hai…पर हमे उचित मार्गदर्शन की जरूरत है जिससे अपने सेवा कार्य को विस्तार कर सके .. वरना गौशाला बंद हो जाएगी .. हमे सरकारी सहयोग और मार्गदर्शन की बहुत आवश्यकता hai…

  14. उत्तर प्रदेश बरेली गांव ताखा और सुवटिया
    Name Sanjay Yadav contact number
    9988617424

    1. नमस्कार संजय यादव जी,
      उत्तर प्रदेश सरकार की कैबिनेट बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निराश्रित, बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना 2019 (Uttar Pradesh Awara Pashu Yojana) को मंजूरी दे दी है। राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई निराश्रित, बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना का पालन करने वाले किसानों को 30 रुपये प्रतिदिन प्रति पशु के हिसाब से पैसे दिये जाएंगे।
      राज्य सरकार द्वारा 2012 में की गई पशुगणना के अनुसार यूपी में 205.66 लाख गोवंश हैं जिनमें से 12 लाख के लगभग गोवंश बेसहारा या निराश्रित हैं। उत्तर प्रदेश में जब योगी सरकार आई थी तो उन्होने बताया भी था की योगी सरकार की योजनाओं की सूची में गोवंश की सुरक्षा को भी प्राथमिकता दी जाएगी। अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।
      UP Nirashrit Besahara Govansh Sahbhagita Yojana 2019
      धन्यवाद-

  15. नमस्कार दोस्तों,
    अभी हाल ही में उत्तर प्रदेश सरकार ने “निराश्रित बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना” को शुरू किया है। इस योजना के अंतर्गत योगी सरकार ने निराश्रित पशुओं की देखभाल करने के लिए एवं उनके पालन-पोषण के लिए 30 रुपये प्रतिदिन देने का वादा किया है।
    इसके अलावा योगी सरकार निराश्रित गोवंश के संरक्षण व भरण-पोषण के लिए स्थायी-अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल, गो संरक्षण केंद्र, गोवंश वन्य विहार व पशु आश्रय गृह आदि संचालित कर रही है। अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

    UP Nirashrit Besahara Govansh Sahbhagita Yojana 2019

    धन्यवाद-

  16. your name Raghvendra Sharma

    Main Raghvendra Sharma Jila Amroha se main gay ki Ki Seva karta hun aur Mujhe abhi tak koi yogdan nahin mila hai hi aur Hamare Yahan per Bahut Si Ge Awara bhi ghoom Rahi Hai Jab Ham Pari gay Hain To Unki Seva Kaise Hogi isiliye Hamare Yahan ka Pradhan bhi Sahi Nahin Hai Hamen Apne Apne purpose se se Gau Seva Gau Seva karne ka mauka Mile aur Aawara pashuon ki dekhbhal ho bahut se choti per Suri ghoom rahe hain Hamen Koi upay batao Jo gehun ka anudan Kaise mile Aur gayon Ka Sanrakshan Ho

  17. शुभम पांडेय

    ग्रामीण इलाकों में गौशाला बनवाने के लिए सरकार जो आर्थिक सहायता देती है उसका लाभ हमें कैसे प्राप्त होगा इसके बारे में हमें कुछ जानकारी दीजिए क्योंकि हमारे प्रधान जी को कुछ पता नहीं है उनसे पोस्टर करते यह सब योजना कुछ नहीं है तो इसके बारे में हमको कुछ जानकारी दीजिए जिससे कि हम योजना का लाभ उठा सकें

  18. Dear All
    Jai Gaumata present time is very hard and tough time for Cow and Bulls total environment is plastic garbage our green garbage is
    fifty percent polithene plastic mix eaten by outsider cow , bulls the greedy people losses the importance of cow mostly Indian Cow Breeds
    so we are facing high B.P. , Sugar , cholesterol, week eyesight ,some time i saw the Brazil improve the Indian indigenous cow breeds but we are more focus Jersey, H F , cow those are very harmful for us and we increases decease in our body foreign cow breeds are very harm full for us these cow increase cancer, asthma, BP, sugar so our Indian Cow breed anti Cancer, anti asthma and Indian cow urine and Gobar is very useful for us in my experience i use gaudhan ark its results is wonderful our Indian Cow is Real Gaumata.

  19. गोपाल पांडेय

    मैं गोपाल पांडेय s/o लष्मीसँकर पांडेय ग्राम खलिशपुर कला पोस्ट त्रिलोचन महादेव जौनपुर का एहने वाला हु मुझे एक गौसाल खोलना है जिसके लिए हमारे पास 20 बिस्व का जमीन है यह खोलना कैसे ह आई मुझे रेगेस्ट्रिशन करवाने के लिए क्या करना होगा आप प्लीज मेरी हेल्प कीजिये

  20. Bhagwan Prasad Singh

    Sir Hamare Pass 5 Bigha Jameen hai Jisme Mai Goshala Kholna Chahta hu. Hamara beta Abhi Veterinai kourse kar raha hai. Ham Chahate hai ki deshi goyo ko nasl sudhar kar unhe sahiwal aur geer goyo me badal diya joy jisse garib kisano ke phasal ko bachane ke sath sath ham apna bhi rojgar kar sakte hai aur desh ke vikas me apna sahyog kar sakte hai . iske bad ek dairy form kholna chahte hai jisase ki kam se kam 500 logo ko rojgar diya ja sake. Plese help me on my mob. no. 9838926254.

  21. My gram Panchayat pawa district mahoba me awara pashu 200 hai Jose faslo ki bhari pareshsni hai gram Pradhan ko amdani see MATLAB hai ki gaushala hai Samsya upai batai

  22. Namskar sir ji mera name Lokendra yadav h m firozabad jile ke Harganpur gaou se hu hamare gaou m 100 se jyaada avara pashu h inke rakhrkhau ke liye kanha apply kre please btaye

  23. सैकड़ों आवारा गायों से कैसे निजात पाएं, हमारे गाव में 100 से भी ज्यादा गाय है।
    कोई helpline no. हो तो दीजिए।
    Vill- Khuntajhal
    Post- SULTANGARH
    Block- khajuha
    Distt- Fatehpur
    Pincode- 212657

  24. महामन,
    आपकी गौ संरक्षण की योजनाओं में तो राष्ट्र भू स्वाभिमान प्रदर्शित है, लेकिन शहरों, कस्बों और रास्तों में घायल और दयनीय गौ वंश का बेसहारा घूमना बंद नहीं है।

    इनमें टैग लगी गाऐं भी शामिल हैं।

    लोगों के सरकारी लाभों को प्राप्त करने के बाद ऐसी गायों के बेसहारा घूमने के घटनाक्रम उपस्थिति हैं।

    #Mathura #Bajna #Baldeo

    क्रपया कर लालची लोगों के चंगुल में गायों को न पहुंचने दें, जिससे गौ वंश को वापस बेसहारा भटकने के लिऐ छोड़ दिया जाऐ।

    क्रपया न्यायपूर्ण कार्यव्यवस्था प्रभावी कराते हुऐ सार्वजनिक स्थलों पर घूमते गौ वंश की दुर्दशा का समाधान करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top