India's Largest Hindi Information Website

tourism.gov.in Prime Minister Swadesh Darshan & Prasad Scheme Information-प्रधानमंत्री स्वदेश दर्शन एवं प्रसाद योजना

स्वदेश दर्शन एवं प्रसाद योजना की जानकारी <=> Prime Minister Swadesh Darshan & Prasad Scheme Information

प्रधान मंत्री स्वदेश दर्शन योजना भारत के पर्यटन मंत्रालय द्वारा  2014 – 2015 में लॉन्च किया था। इस योजना के तहत स्पेसिफिक थीम पर निर्धारित पर्यटन सर्केट के इंटीग्रेड उन्नति के लिए है। स्वदेश दर्शन योजना के तहत आध्यात्मिक सर्किट की पहचान थीम सर्किट के रूप में उन्नति के लिए की गई है। इस योजना के तहत सरकार की पर्यटन की बढ़ोतरी के लिए एक विशेष पहल है।

इस योजना के तहत जहाँ पर पर्यटन स्थल है वहां की सभी सावर्जनिक सुविधाओं तथा पर्यटन से पहलुओं पर ध्यान दिया जाता है। इस योजना के तहत पर्यटन स्थलों के आवश्यक स्थानों को सभी सुविधाएँ प्रदान करी जाएँगी। इस योजना के तहत इन स्थानों के केंद्रों को सड़क, पानी, बिजली जैसी बेहतर सुविधाओं के साथ पार्किंग रहने के लिए अतिथिगृहों के निर्माण की योजना बनाई गई है। इस योजना के अंतर्गत 13 कथ्यपरक सर्किट की उन्नति हेतु पहचान की गई है जो की इस प्रकार है :-

  • विरासत सर्किट,
  • रामायण सर्किट,
  • आध्यात्मिक सर्किट,
  • ग्रामीण सर्किट,
  • वन्यजीव सर्किट,
  • पारिस्थितिकी सर्किट,
  • आदिवासी सर्किट,
  • डेज़र्ट सर्किट,
  • कृष्णा सर्किट,
  • तटीय सर्किट,
  • हिमालय सर्किट,
  • बौद्ध सर्किट,
  • पूर्वोत्तर भारत सर्किट आदि

इस योजना के तहत एक एकीकृत तरीके से उच्च मूल्य पर्यटन, स्थिरता तथा प्रतिस्पर्धा के नियमों पर विकास होगा। इस योजना के तहत सभी धारकों की चिंताओं, रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए और अनुभव पर्यटन पर ध्यान केंद्रित किया है। इस योजना के तहत केंद्र सरकार ने पांच राज्यों के 450 करोड़ रुपयों की मंजूरी दे दी है तथा उन पांच रोजयों के नाम इस प्रकार है :-

  • तमिलनाडु,
  • सिक्किम,
  • उत्तर प्रदेश,
  • उत्तराखंड,
  • मध्य प्रदेश आदि।
प्रधान मंत्री स्वदेश दर्शन योजना में पांच राज्यों में खर्च का ब्यौरा <=> Details About Expenditure of Prime Minister Swadesh Darshan & Prasad Scheme in Five States

✹✹➤➤ प्रधानमंत्री स्वदेश दर्शन योजना के तहत तमिलनाडु में 100 करोड़ रूपये की लागत वाली तटवर्ती योजना को मंजूरी दी है। इस योजना के तहत 100 करोड़ रूपये की लागत से चेन्नई, कन्याकुमारी, मममल्लपुरम, मनपुड, रामेश्वरम आदि को विकसित किया जाना है।

✹✹➤➤ इस योजना के तहत सिक्किम में 95.50 करोड़ रूपये के खर्च से पूर्वोत्तर सर्किट को मंजूरी दी है। इस योजना के तहत इस मंजूरी से आधार शिवर, शिल्प मार्किट, पैराग्लाइडिंग केंद्र, सांस्कृतिक सेंटर, पर्यावरण के तहत लॉग हट्स को विकसित किया जाना है।

✹✹➤➤ इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश में 70 करोड़ की लागत से रामायण सर्किट के अंतर्गत श्रृंगवेरपुर तथा चित्रकूट की उन्नति होगी। इस योजना के तहत इसमें उत्तर प्रदेश का अयोध्या जिला भी शामिल होगा।

✹✹➤➤ इस योजना के तहत उत्तराखण्ड में 83 करोड़ की लागत से धरोहर सर्किट को विकसित किया जायेगा। जिसके तहत इसमें बैजनाथ, कातरमल, देवीधुरा, जागेश्वर शामिल है।  

✹✹➤➤ इस योजना के तहत मध्य प्रदेश में 100 रूपये की लागत से धरोहर सर्किट के अंतराल में मांडू, भीमभेटका, चंदेरी, खजुराहों, ओरछा, ग्वालियर आदि को विकसित किया जायेगा।

प्रधान मंत्री स्वदेश दर्शन योजना की विशेषताएं <=> Prime Minister Swadesh Darshan Yojana Features

✹✹➤➤ इस योजना के तहत राष्ट्रीय स्तर पर एक सलाहकार होता है जो की PMC मिशन निदेशालय द्वारा नियुक्त किया जाता है।

✹✹➤➤ इस योजना के तहत यह एक पब्लिक फंडिंग के लिए आरम्भ की गई है तथा यह योजना प्रोजेक्ट कंपोनेंट्स के दौरान 100 % सेंट्रली फंडेड है।    

✹✹➤➤ इस योजना के तहत एक राज्य से दूसरे राज्य में ट्रांसफर व्यक्तिगत प्रोजेक्ट्स की फंडिंग द्वारा होता है।

प्रधानमंत्री स्वदेश दर्शन योजना के उद्देश्य Main Objects of Prime Minister Swadesh Darshan Scheme

✹✹➤➤ प्रधान मंत्री स्वदेश दर्शन योजना के तहत कई तरह की विषय गत सर्किट के साथ पूरा अनुभव मुहैया करना।

✹✹➤➤ इस योजना के तहत आर्थिक उन्नति एवं रोज़गार सृजन में गुणक तथा प्रत्यक्ष प्रभाव में साज़ पर्यटन क्षमता को बढ़ाना है।

✹✹➤➤ इस योजना के तहत पहचाने गए इलाकों में आजीविका को पैदा करने के लिए भोजन, हस्तशिल्प, संस्कृति तथा कला आदि को बढ़ावा देना है।

✹✹➤➤ इस योजना के तहत पहचान किये गए थीम बेस्ट सर्किट में आधारिक सरंचना एकीकृत को विकसित करना है।

✹✹➤➤ इस योजना के तहत ग़रीबों के हित में पर्यटन के दृष्टिकोण तथा सबसे अच्छे विकसित समुदाय के साथ चलना है।

✹✹➤➤ इस योजना के तहत लोकल समुदाय के मध्य इनकम के स्त्रोतो में बढ़ोतरी करना, क्षेत्र के समग्र तथा जीवन स्तर के विषयों में पर्यटन के महत्व के बारे में बताते हुए उनमें जागरूकता की भावना को पैदा करना है।

अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए हुए लिंक पर जाएँ:

इंग्लिश में जानकारी ➤➤➤➤ http://tourism.gov.in/swadesh-darshan-prasad-scheme-guidelines-०

You might also like
1 Comment
  1. PK Chaubey says

    Icould not yet find the dates for Ramayan Circuit anf the way to book it.

Leave A Reply

Your email address will not be published.