स्वदेशी बिजनेस आइडिया की जानकारी: जानिए कैसे बने आत्मनिर्भर

Swadeshi Business Ideas Details In Hindi | Check Govt Subsidy Scheme List under Aatmanirbhar Bharat Abhiyan | स्वदेशी व्यवसाय करके कमाए लाखों का मुनाफा

Swadeshi-Business-Ideas-Details-In-Hindi
Swadeshi-Business-Ideas-Details-In-Hindi

Swadeshi Business Ideas 2020-: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको एक बहुत ही अच्छी और लाभदायक जानकारी देने जा रहे है, जिसका नाम ‘स्वदेशी बिजनेस आइडिया’ है। जैसे की आपको मालूम होगा कि देशभर में कोरोना महामारी की वजह से लॉकडाउन लगा हुआ है। लोग इस तालाबंदी के वजह से अपने घरों में और प्रवासी दूसरे राज्यों में फंसे हुए है। कई लोगों के व्यवसायों में ताले लग गए हैं और कईयों के काम बंद पढ़े है। देश की आर्थिक हालत भी ठीक नहीं है। तो आने वाले दिनों में लोगों को बहुत कठनाइयों का सामना करना पड़ेगा। इसी को देखते हुए प्रधानमंत्री मोदी जी अभी हाल ही में ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ की घोषणा की थी, जिसकी विस्तृत जानकारी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कांफ्रेंस में दी। इस आत्मनिर्भर भारत अभियान आर्थिक पैकेज में बहुत-सी कल्याणकारी योजनाओं को शुरू करने की घोषणा की गयी है।

इसी कड़ी में स्वदेशी बिजनेस आईडिया की भी बात कही गयी है। देश के अंदर बनी चीजें हमारे लिए कितनी फायदेमंद है। यह बात बताने की तो किसी को आवश्यकता नही है। यही बात जब हमारे देश के प्रधानमंत्री मोदी जी ने अपने पांचवे संबोधन के दौरान कहा कि हमें आत्मनिर्भर बनते हुए अपने देश की ही चीजों को अर्थात स्वदेशी वस्तुओं का ही अधिक से अधिक इस्तेमाल करना है। अभी स्वदेशी वस्तुएं होती क्या है और कैसे बनाई जाती हैं इसकी जानकारी हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से देंगे। नीचे हम आपको Swadeshi Business Ideas Details In Hindi | Check Govt Subsidy Scheme List under Aatmanirbhar Bharat Abhiyan | स्वदेशी व्यवसाय करके कमाए लाखों का मुनाफा की पूरी जानकारी प्रदान कर रहे हैं। कृपया अंत तक बने रहें।

स्वदेशी बिजनेस आइडिया 2020 (जानिए कैसे बने आत्मनिर्भर)

Swadeshi Business Ideas Details (Aatmanirbhar Bharat Abhiyan) – जैसे कि हमने आपको ऊपर बताया की प्रधानमंत्री मोदी जी ने अपने पांचवे संबोधन के दौरान कहा कि हमें आत्मनिर्भर बनते हुए अपने देश की ही चीजों को अर्थात स्वदेशी वस्तुओं का ही अधिक से अधिक इस्तेमाल करना है। वो सभी स्वदेशी वस्तुएं जो भारत में निर्मित होती है, ‘स्वदेशी’ कहलाती है। हम सभी भारतीयों का यह कर्तव्य है कि हम ज्यादा से ज्यादा स्वदेशी सामान खरीदे, जिससे हमारे छोटे और कुटीर उद्योगों को बढ़ावा मिल सके।

इस पोस्ट में हम आपको कुछ ऐसे ही स्वदेशी बिज़नस आइडियाज (Swadeshi Business Ideas) के बारे में विस्तारपूर्वक बताएंगे, जिनको अपनाकर आप भी घर बैठे अपना एक बहुत अच्छा व्यवसाय आरंभ कर सकेंगे। तो आइये जानते है जानते है कि भारत देश में हम कौन-कौन से स्वदेशी व्यवसाय शुरू कर सकते हैं:

इसे भी पढ़ें: SBI Mudra Loan- एसबीआई ई मुद्रा लोन | ऑनलाइन अप्लाई

स्वदेशी बिजनेस (Indigenous Business) क्या होता है?

What is Swadeshi Business – दरअसल अपने ही देश में बहुत सारी चीजों का निर्माण किया जाता है और उनका डिस्ट्रीब्यूशन भी अपने ही देश में कर दिया जाता है। वही वस्तुए जो अपने देश में बनी हुई हो और हम उनके जरिए ही पैसा कमाते हो तो वह हमारी स्वदेशी वस्तुएं बन जाती हैं। यदि डिस्ट्रीब्यूशन के दौरान पैसा कमाया जाए तो वह हमारा स्वदेशी बिज़नेस बन जाता है। स्वदेशी व्यवसाय में बहुत सारे लघु और कुटीर उद्योग आते हैं जैसे- मुर्गी पालन, मछली पालन, बकरी पालन, डेयरी प्रोडक्ट, और अन्य लोकल प्रोडक्ट इत्यादि। इन बिज़नेस को करने के लिए सरकार सब्सिडी पर लोन (ऋण) भी उपलब्ध करती है।

Swadeshi-Business-Ideas-Aatmanirbhar-Bharat-Abhiyan
Swadeshi-Business-Ideas-Aatmanirbhar-Bharat-Abhiyan

अगर आप भी इन बिज़नेस को करके घर बैठे पैसे कमाना चाहते हो तो आज ही नाबार्ड (NABARD) के तहत लोन के लिए आवेदन करे। अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें।

इसे भी देखें: नाबार्ड – डेयरी कर्ज योजना लोन सब्सिडी हेतु आवेदन/पंजीकरण

बहुप्रचलित स्वदेशी बिजनेस आइडिया की पूरी जानकारी-

Popular Swadeshi Business Ideas Complete Details – वैसे तो प्रत्येक देश में बहुत सारी स्वदेशी चीजों का निर्माण होता है। ठीक इसी प्रकार भारत देश में भी बहुत सारी वस्तुओं का निर्माण देश के नागरिकों द्वारा किया जाता है। उन व्यवसायों को चलाने वाली कंपनी/फर्म ‘स्वदेशी कंपनी’ होती हैं और उन व्यवसायों को ही स्वदेशी व्यवसाय के नाम से जाना जाता है। ऐसे ही कुछ स्वदेशी उत्पाद का निर्माण करके आप स्वदेशी व्यवसाय आरंभ कर सकते हैं। नीचे हम आपको कुछ बहुप्रचलित स्वदेशी बिजनेस आईडिया की जानकारी दे रहे हैं, जो आपको आने वाले समय में बहुत ही अच्छा प्रॉफिट दे सकती है।

  • डेयरी उद्योग (Dairy Industry): – यह सबसे अच्छा और बहुप्रचलित स्वदेशी बिजनेस है। क्योकि दूध, दही, पनीर, मावा, व छाछ की मांग बाजार में बहुत होती है। इसके साथ ही हम गोमूत्र से बने उत्पाद भी मार्किट में बेच सकते हैं। भारत देश में गाय को माता की पदवी दी जाती है। इसके चलते यदि हमारे पूर्वजों से पूछा जाए तो गोमूत्र का बहुत ज्यादा उपयोग होते हैं और यहाँ बेहद लाभदायक भी माना जाता है। पतंजलि परिधान का नाम तो आपने सुना ही होगा। यह एक ऐसा परिधान है जो पूरी तरह से स्वदेशी प्रोडक्ट बनाने का काम करती हैं। इस कंपनी द्वारा बनाए जाने वाले अधिकतर प्रोडक्ट गाय भैंस के दूध अथवा गोमूत्र से बनाए जाते हैं। डेरी उद्योग खोलने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें।
गोपालक योजना – ऑनलाइन फॉर्म कामधेनु डेयरी लोन
  • फ्रूट जैम अथवा जूस का व्यवसाय: – हमारे देश में फलों की बागवानी बहुत बड़े पैमाने पर होती है। ऐसे में यदि फलों से प्राप्त फ्रूट जैम अथवा जूस का व्यापार किया जाए तो यह एक सरल और बेहद ज्यादा कमाई वाला स्वदेशी व्यापार बन सकता है। फ्रूट जैम अथवा जूस का बिज़नेस करने के लिए कई सारी NGO मदद करती है। यह व्यवसाय खासतौर में महिलाओं के लिए भी है, क्योकि इस बिज़नेस को आप अपने घर से भी शुरू कर सकते हो।
  • मुर्गी पालन (Poultry Farm): – आये दिन बाजार में मुर्गी के अंडो और उसके मीट की भारी मांग रहती है। क्योकि मुर्गी के अंडे और मीट प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत है। अगर आप चाहो तो इस स्वदेशी बिज़नेस में अपना हाथ आज़मा सकते हो। इस व्यवसाय के लिए कई राज्य सरकार सब्सिडी के साथ लोन उपलब्ध करती है।
नाबार्ड मुर्गी पालन पोल्ट्री फार्म स्वरोजगार योजना
  • देशी साबुन बनाने का व्यवसाय: – साबुन बनाना कोई मुश्किल काम नहीं है यदि आप इसकी विधि जानते हैं तो आप देशी साबुन व्यवसाय में भी अपना हाथ आज़मा सकते हैं। अगर आप नहीं जानते तो आप ऐसे प्रशिक्षित लोगों से पूछ सकते हैं कि साबुन किस प्रकार बनाए जाते हैं और आप आसानी से घर बैठे साबुन बनाने का व्यवसाय आरंभ कर सकते हैं। साबुन बनाने की व्यवसाय को आप आसानी से स्वदेशी व्यवसाय से जोड़ सकते है। यह एक बहुप्रचलित और फायदे का बिज़नेस है।
  • स्वदेशी टूथपेस्ट बिज़नेस: – टूथपेस्ट आज के समय में हर व्यक्ति की दैनिक आवश्यकता है। क्योंकि स्वाद चखने के लिए दांतो का स्वस्थ रहना बेहद आवश्यक है। ऐसे में यदि आपको कुछ प्रकार की जड़ी बूटियों का ज्ञान हो तो आप भी देश में मौजूद बड़ी-बड़ी कंपनियों की तरह खुद का एक ऐसा व्यापार शुरू कर सकते हैं जिसमें आप अपना स्वदेशी टूथपेस्ट बाजार में बना कर भेज सकते हैं। आपने देश में स्थापित कंपनियों के नाम तो सुने ही होंगे जिनमें पतंजलि, डाबर विकको, विको वज्रदंती आदि कंपनियां है जो स्वदेशी टूथपेस्ट का निर्माण करते हैं और इनमें से बहुत से टूथपेस्ट आपने इस्तेमाल भी किये होंगे।
एमएसएमई COVID-19 उद्योग लोन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया
  • चाय और कॉफी का उत्पादन: – भारत देश में चाय और कॉफ़ी का बिज़नेस बहुत प्रचलित है। जहाँ चाय व्यवसाय में टाटा एक स्वदेश कंपनी है, वही कॉफ़ी उत्पादन में सीसीडी का नाम सबसे अवल है। यदि आप भी देश में पैदा होने वाली चाय और कॉफी से जुड़ा व्यापार करना चाहते हैं तो आप आसानी से इस व्यापार में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। बस इस स्वदेश बिज़नेस को करने के लिए आपको बैंक से थोड़ा ऋण लेना होगा और धैर्य के साथ अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाना होगा।
  • स्वदेशी गारमेंट्स (कपड़ो) का व्यापार: – यदि आप कपड़े बनाने के ज्ञाता है अर्थात एक टेलर हैं तो आप खुद का एक ब्रैंड रजिस्टर करके अपने ही देश में अपने ब्रांड से बने कपड़ों का व्यापार भी आसानी से कर सकते हैं। भारत को एक नई पहचान देते हुए अपने द्वारा बनाए जाने वाले कपड़ों को आप पूरे विश्व में भी फैला सकते हैं। शायद इसी Swadeshi Business Ideas को देखते हुए बॉलीवुड ने “सुई-धागा” नामक एक मूवी बनायीं थी।
स्वदेशी या भारतीय उत्पादों की सूची देखें-

Check Swadeshi or Indian Products List – स्वदेशी या भारतीय उत्पादों की व्यापक सूची नीचे देखें:

  1. स्वदेशी कोल्ड ड्रिंक्स: – कलिमार्क बोवोन्टो, रोज़ ड्रिंक (शर्बत), बादाम पेय, दूध, लस्सी, दही, छाछ, जूस, नींबू पानी, नारियल पानी, शेक, जलजीरा, ठंडाई, रूहअफजा, रसना, फ्रूटी, गोदरेज जंपिन आदि।
  2. भारतीय साबुन: – हिमालय, मसूर संदल, सिनथोल, संतूर, मेडिमिक्स, नीम, गोदरेज, पतंजलि (केश कांति), विप्रो, पार्क एवेन्यू, स्वातीक, अयूर हर्बल, केश निखार, हेयर एंड केयर, डाबर वाटिका, बजाज, नाइल।
  3. स्वदेशी टूथपेस्ट: – नीम, बबूल, विकको, डाबर, विको बजरादन्ती, एमडीएच, बैद्यनाथ, गुरुकुल फार्मेसी, चॉइस, एंकर, मेसवाक, बबूल, प्रोमिस, पतंजलि (दंत कांति, दंत मंजन)।
  4. इंडियन टूथब्रश: – अजय, प्रॉमिस, अजंता, रॉयल, क्लासिक, डॉ स्ट्रॉक, मोनेट।
  5. भारतीय चाय और कॉफी: – दिव्य पेया (पतंजलि), टाटा, ब्रह्मपुत्र, आसम, गिरनार, भारतीय कैफे, एमआर, एवीटी चाय, नरसस कॉफी, लियो कॉफी
  6. स्वदेशी ब्लेड: – पुखराज, गैलेंट, सुपरमैक्स, लेजर, एस्क्वायर, सिल्वर प्रिंस, प्रीमियम।
  7. भारतीय शेविंग क्रीम: – पार्क एवेन्यू, प्रीमियम, इमामी, बलसारा, गोदरेज, निविया।
  8. स्वदेशी शैम्पू: – हिमालय, निरमा, मखमली
  9. भारतीय टैल्कम पाउडर: – संतूर, गोकुल, सिनथोल, बोरोप्लस, कैविन के उत्पाद
  10. स्वदेशी दूध: – अमूल, अमूल्य, मदर डेयरी
  11. भारतीय मोबाइल कनेक्शन: – आइडिया, एयरटेल, रिलायंस, बीएसएनएल
  12. स्वदेशी वस्त्र या कपड़े: – रेमंड, सियाराम, बॉम्बे डाइंग, एस कुमार्स, मफतलाल, गार्डन वरली, अमेरिकन स्वान, गिन्नी एंड जॉनी, ग्लोबस, मैडम, मोंटे कार्लो फैशन लिमिटेड, रिलायंस रिटेल, आरएमकेवी इत्यादि।
प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत अभियान-

PM Aatmanirbhar Bharat Abhiyan – ऊपर हमने आपको कुछ स्वदेशी/भारतीय बिज़नेस आईडिया (Swadeshi Business Ideas) बताये हैं, ये सभी देशी व्यवसाय कम लागत वाले हैं। जिन्हें देश में रहने वाला कोई भी व्यक्ति छोटे स्तर पर आरंभ कर सकता है। जिससे भारत की अर्थव्यवस्था को विकास मिलेगा और आपके जीवन में भी कई बड़े-बड़े बदलाव आ सकते हैं। अर्थव्यवस्था में अपना महत्वपूर्ण योगदान प्रदान करते हुए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बात को समझते हुए यदि हम अपने देश में बनी वस्तुओं का इस्तेमाल अधिक से अधिक इस्तेमाल करेंगे तो ऐसे में हम अपने देश को विकास की ओर तीव्र गति से आगे ले जा सकेंगे। अगर आपके मन में इस पोस्ट को लेकर कोई संशय हो तो हमने नीचे कमेंट बॉक्स में पूछे। हम आपकी पूरी सहायता करेंगे। धन्यवाद-

यह भी पढ़ें: आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत विशेष पैकेज की घोषणा

RM-Helpline-Team

1 Comment
  1. पे््मसिंह परमार says

    पधानमँत्री कृषि योजना के तहत2018 मैं आवेदन किया था तो शाहगढ तहसील जिला सागर मध्यप्रदेश में बैक स्टेट बैंक ने वापसी कर दिया उनका कहना है लोन नहीं मिलेगा सरकार का बैंक नहीं जो ने ता ऊसे जनता को पैसा बटवा दे अतः गरीब बेरोजगारों से गुमराह करने वाली योजना न चलाई जा ये सब काम छोडकर दो साल से बैंक के चक्कर लगाते रहे मजदूरी करते तो आज लोकडाऊन मैं परेशानी नहीं होता तो हाथ जोड़ कर निवेदन है कि झूठ योजना से गरीब परिवार को न छले दया करें मजदुरी करने दे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.