India's Largest Hindi Information Website

[ऑनलाइन पंजीकरण] बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना | शिक्षा विभाग छात्र ऋण योजना | छात्रों हेतु 4 लाख रुपये तक लोन स्कीम | विद्यार्थी उच्च शिक्षा लोन योजना | Registration-Bihar Student Credit Card | Four Lakh Rupees Education Loan

Registration-Bihar Student Credit Card Rs 4-Four Lakh Education Loan Kushal Yuva Karyakram Shiksha Vibhag Apply Online for Swayam Sahayata Bhatta

बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना | बिहार छात्र ऋण कार्ड स्कीम | बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड स्कीम | स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड लोन इन बिहार | छात्रों हेतु 4 लाख रुपये तक लोन हिंदी में जानकारी | कुशल युवा कार्यक्रम | स्वयं सहायता भत्ता | Bihar Student Credit Card Yojana Apply | Students Credit Card Scheme Bihar Shiksha Vibhag | Education Department Credit Card Scheme Bihar | Kushal Yuva Karyakram | Swayam Sahayata Bhatta | Education Credit Card Loan Upto Rs 4 Lakh

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने बिहार राज्य में विधर्थियों की उच्च शिक्षा लोन के लिए इस योजना को आरम्भ किया है। वर्तमान समय में बिहार राज्य का उच्च शिक्षा में Gross Enrolment Ratio (GER) 14.3 प्रतिशत है और यही अनुपात यदि हम राष्ट्रीय स्तर पर देखें तो 24 प्रतिशत है। शिक्षा किसी भी राज्य या देश की रीढ़ की हड्डी है यही सोच के बिहार राज्य सरकार ने इस GER को 24 से 30 प्रतिशत तक पहुंचने के लिए ये योजना निकली है। कई बार आर्थिक कारणों से विद्यार्थी अपनी उच्च शिक्षा को नहीं कर पाते और अपने सही दिशा से वंचित रह जाते हैं इसी को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने इस कार्यक्रम के तहत 2015 – 20 में 7 निश्चय के अंतरगत बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना का सुभारम्भ किया गया था। किन्तु इस योजना को सही से चलने के लिए काफी सारे चेंज करने पड़े इसमें बैंक की भूमिका को कुछ ही तथायों तक सीमित किया गया जिससे स्टूडेंट्स को आराम से लोन मिल जाये और संसोधन के बाद फिर से बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना को आरम्भ किया गया। इस योजना के द्वारा विद्यार्थी उच्च शिक्षा के साथ साथ रोजगार प्राप्त करने में भी सफल होंगे। 

बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना के तहत शिक्षुक विधर्थियों को लगभग  चार लाख रुपये (400000 ) शिक्षा ऋण दिया जाएगा। इससे उनका शिक्षा का स्तर तो बढ़ेगा ही साथ में उनका जीवन स्तर  भी बढ़ेगा  उनको आगे बढ़ने के लिए सरकार की तरफ से 400000  की राशि दी जाएगी और सबसे अच्छी बात ये हैं की इस लोन में किसी तरह का कोई ब्याज नहीं लगेगा तो इससे पढ़ने वाले छात्र व छात्राओं को  बढ़ने का मौका मिलेगा। 

छात्र  क्रेडिट कार्ड योजना बिहार का लक्ष्य (Bihar Student Credit Card Scheme Targets )

इस योजना का सबसे अच्छा पहलू ये है की सरकार ने ये फैसला लिया है की कितने भी विद्यार्थी इस योजना का लाभ ले सकते हैं जितने भी इच्छुक होंगे सबको इस योजना का लाभ मिलगा। आगामी वित्तीय वर्ष 2018 -19  में 50000 और वित्तीय वर्ष 2019 -20 में 75000  एवं वित्तीय वर्ष 2020 -21  में 100000 अनुमानित विधार्थियों को इसयोजना का लाभ मिल सकता है जो की अपने आप में एक रिकॉर्ड है। 

 

 

बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना (Bihar Student Credit Card Scheme)

बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना को सरकार और  बैंकर्स समिति (एसएलबीसी) के मंजूरी देने के बाद  बुधवार को एसएलबीसी की 57वीं बैठक में इस योजना को हरी झंडी मिल गई। यह योजना आर्थिक हल युवाओं का बल योजना के अंतर्गत 7 निश्चय के अंतरगत इसकी नीव राखी गई है। इस योजना के तहत 12वीं पास करने के बाद जो विद्यार्थी उच्च शिक्षा ग्रहण करना चाहते हैं उन्हें 4 लाख तक का लोन क्रेडिट कार्ड योजना के तहत मिल सकेगा। इस लोन में शिक्षण संस्थानों का शुल्क साथ में खाने पीने पाठ्य सामग्री से सम्बंधित खर्चे शामिल होंगे।
स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड लोन बिहार में 12वीं पास व 10वीं पास डिप्लोमा होल्डर्स  भी इस योजना का लाभ उठा पाएंगे तथा स्नातक या उच्च शिक्षा के लिए उन्हें 400000 तक का लोन क्रेडिट मिलेगा। स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड द्वारा  बिहार के विद्यार्थियों को 12वीं कक्षा के बाद चार लाख का बैंक की तरफ से लोन मिलेगा और इस लोन राशि पर कोई ब्याज नहीं लगेगा जिससे गरीब विद्यार्थियों को आगे बढ़नेका मौका मिलेग। जिससे उन्हें आर्थिक तंगी से छुटकारा मिलेगा कर और उनका जीवन स्तर ऊपर उठेगा। स्टूडेंट्स बिहार क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ लेने के लिए इसका आवेदन ऑनलाइन भी कर सकते हैं। 

 

बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना के लिए पात्रता (Eligibility for Bihar Student Credit Card Scheme)

इस योजना में विहार राज्य वित्त बिभाग शिक्षा के लिए जो स्टूडेंट्स 12वीं  कक्षा उत्तीर्ण हों चाहे वो बिहार राज्य सेहो या सीमावर्ती राज्यों से हों उन्हें आगे पढ़ाई के लिए ऋण मिल पायेगा पर उन्हें बिहार का मूल निवासी होना चाहिए। 
  • विद्यार्थी जिस शिक्षण संसथान से पड़ा हो वो राज्य या केंद्र सरकार सम्बंधित नियामक एजेंसी द्वारा मान्यता प्राप्त हो। 
  • उच्च शिक्षा के लिए विद्यार्थी को सामान्य पाठ्यक्रम, तकनीकी या व्यवसाहिक कार्यकर्मो को लिए ऋण दिया जायेगा। 
  • इस योजना के लिए लिया स्टूडेंट्स को 12 वीं या समतुल्य कार्यक्रम जैसे पॉलिटेक्निक 10 वीं उत्तीर्ण करने के बाद दिया जायेगा। 
  • आवेदनकर्ता छात्रों के पास बिहारका मूल निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए। 
  • आवेदनकर्ता को इस योजना के तहत शिक्षण संसथान में हॉस्टल में रहने का भी शुल्क मिलेगा और यदि वो हॉस्टल से बहररहता है तो वहां भी उसे महंगाई के हिसाब से खर्चा मिलगा जो की सरकार द्वारा निश्चित होगा। 
  • उसे योजना में आवेदन करने की अधिकतम  आयु 25 वर्ष  तक रक्खी गई है और स्नातक करने के पश्चात स्नाकोत्तर के लिए अधिकतम उम्र सीमा  30 वर्ष निश्चित की गई है। 
  • यदि आवेदनकर्ता स्नातक कर चूका है तो वो दुबारा स्नातक उसी स्तर पर नहीं कर सकता जैसे की कला या विज्ञानं या अन्य संकाय में दुबारा करने पे ये लाभ नहीं मिलेगा। परन्तु स्नातक किये हुए यदि एम बी ए या एम सी ए इत्यादि करना चाहते हैं तो उन्हें ये लाभ मिलेगा। 
  • लाभार्थी यदि पढ़ाई बीचमे छोड़ देता है तो उसे आगे का ऋण इस योजना से नहीं मिलेगा। 

बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना के लिए जरूरी दस्तावेज (Documents Required for Bihar Student Credit Card Scheme)

आवेदकों को नजदीकी जिला प्रबंधन एवं परामर्श केंद्र  जमा करते समय बिहार स्टूडेंट क्रेडिट  स्वहस्ताक्षरित आवेदन पात्र के साथ निम्न दस्तावेज लगाने होंगे।

  • आवेदक के पास आधार कार्ड होना चाहिए।
  • 10वीं पास जिन्होंने पलोलिटेक्निक (मैट्रिक) किया हो उन्हें अंतिम सफल परीक्षा का अंक पत्र और प्रमाण पात्र की फोटोकॉपी लगानी होगी।
  • यदि कोई छात्रवृत्ति या कोई और प्रमाण पत्र हों  लगाने होंगे।
  • जिस भी संसथान में पढ़ना हो उसका पठ्यक्रम का विवरण  संसथान के नामांक का प्रमाण पत्र भी जरूरी है।
  • किसी कॉलेज में दाखिला ले रहे हैं उसका पे स्लिप फीस स्लिप होना अनिवार्य है। 
  • आवेदनकर्ता का और उसके सह आवेदनकर्ता के दो फोटोग्राफ। 
  • आवेदन करने के लिए आवेदनकर्ता  12 वीं पास होना चाहिए। 
  • आवेदन करने के लिए आय प्रमाण पत्र का भी होना अनिवार्य है। 
  • आवेदनकर्ता के पास किसी भी बैंक अकाउंट का खाता होना चाहिए जिसकी पासबुक की फोटोकॉपी भी होनी चाहिए जिसमे IFCS कोड  हो। 
  • आवेदक के घर का पता- पासबुक की छायाप्रतिलिपि और बिजली का बिल या टेलीफ़ोन का बिल वोटर कार्ड ड्राइविंग लाइसेंस या पासपोर्ट इत्यादि।
 वित्तीय वर्ष  अनुमानित विध्यार्थियों की संख्या
 2016-17  5,00,000
 2017-18  7,00,000
 2018-19  7,00,000
 2019-20  8,00,000
 2020-21  9,00,000

बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना ऑनलाइन आवेदन (Bihar Students Credit Card Scheme Online Application)

इस योजना का लाभ  लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन किये जायेंगे जिसके लिए आवेदनकर्ता को  https://www.7nishchay-yuvaupmission.bihar.gov.in/ आधिकारिक वेबसाइट  होगा। इस योजना में जो छात्र इच्छुक हैं और 12वीं कक्षा (पॉलिटेक्निक पाठ्यक्रम के लिए 10वीं) पास हों तो वो इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकता है। ऐसे इच्छुक छात्र मोबाइल एप्प से भी आवेदन कर सकता है। 

  • आवेदन कर्त्ता को सबसे पहले ऑनलाइन पोर्टल जो की 7 निश्चय वेबसाइट है या मोबाइल एप्प में अपनी सामान्य जानकारी भरनी पदड़ी उसके बाद मोबाइल नंबर व ई-मेल आईडी पर वन टाइम पासवर्ड (OTP one  time  password) प्राप्त होगा

  • इसके बाद आवेदनकर्ता को ऑनलाइन पोर्टल या एप्प में OTP भरने पर एक नया फॉर्म खुलेगा जिसमे छात्रों को अपना विवरण भरना होगा और भरने के बाद सबमिट बटन दबाने से 3 विकल्प खुलेंगे।
  • उसके बाद आवेदनकर्ता को स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड को क्लिक करने  ऍप्लिकेशनफॉर्म खुलेगा।
  • उसके उपरांत सारा विवरण भरने पर सबमिट बटन से सबमिट करना होगा।
  • इसे जमा करने के बाद, आवेदनकर्ता के पास एक पंजीकरण संख्या ऑनलाइन मिल जाएगी जो की उन्हें ईमेल या मोबाइल  में मिल जाएगी।
  • फॉर्म  ऑनलाइन भरने के बाद छात्रों को पंजीकरण संख्या और आवेदन प्रपत्र की पीडीएफ की प्रति जो की ईमेल आईडी  पर मिली होगी सबको अन्य दस्तावेजों के साथ काउंटर पर जमा करते वक़्त जरूरत होगी।
  • बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना ऑनलाइन आवेदन करते समय किसी भी तरह का कागजात ऑनलाइन संलग्न नहीं करना है
  • एप्लीकेशन को ऑनलाइन सब्मिट करवाने के बाद एक पीडीऍफ़ (PDF) डाउनलोड  के लिए आएगा जिससे आवेदनकर्ता को काउंटर में आते समय जरूरी कागजात क्या क्या लेन हैं उसकी जानकरी होगी।
  • आवेदक को जिला निबंधन एवं परामर्श केंद्र द्वारा पंजीकृत मोबाइल नंबर और ईमेल में काउंटर में आने की तारिख और समय SMS या Email द्वारा बेज दिया जायेगा यद्यपि छात्र अपनी सुविधानुसार भी केंद्र जा सकतेहैं।

बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड लोन में अधिकतम ऋण राशि (Maximum loan amount in Bihar Student Credit Card Loan)

इस योजना में राज्य सरकार अधिकतम 4 लाख रुपये तक का ऋण देगी। इसमें व्याज दर 4 प्रतिशत रहेगी और विकलांगों व महिलाओं व ट्रांसजेंडर  के लिए ये ब्याज दर सिर्फ 1 प्रतिशत रहेगी जो की सिंपल इंटरेस्ट में  कैलकुलेट होगा। लोन चुकाने की किस्तें आवेदनकर्ता के पढ़ाई  पूरी होने के 1 साल बाद या नौकरी लगने के 6 महीने बाद देनी होगी इसमें जो भी पहले होता है और तब तक कोई ब्याज नहीं लगेगा।

 

अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए PDF को डाउनलोड करके पढ़ें:

यहाँ क्लिक करें ==> Click Here

 यदि आप को और अधिक सहायता चाहिए तो नीचे कमेंट में अपना प्रश्न पूछें हम आप की पूरी सहायता करेंगे। 
You might also like
6 Comments
  1. MNSSBY says

    Thank you for sharing information.
    How to apply for Mukhyamantri Nishchay Swayam Sahayata Bhata Yojana (MNSSBY)?

  2. Anonymous says

    Sir ,
    B.ed education ke liye loan mil sakta hai,kya?

    1. Helpline Dept says

      बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना को सरकार और  बैंकर्स समिति (एसएलबीसी) के मंजूरी देने के बाद  बुधवार को एसएलबीसी की 57वीं बैठक में इस योजना को हरी झंडी मिल गई है। यह योजना आर्थिक हल युवाओं का बल योजना के अंतर्गत 7 निश्चय के अंतरगत इसकी नीव राखी गई है। इस योजना के तहत 12वीं पास करने के बाद जो विद्यार्थी उच्च शिक्षा ग्रहण करना चाहते हैं उन्हें 4 लाख तक का लोन क्रेडिट कार्ड योजना के तहत मिल सकेगा।
      इस लोन में शिक्षण संस्थानों का शुल्क साथ में खाने पीने पाठ्य सामग्री से सम्बंधित खर्चे शामिल होंगे।स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड लोन बिहार में 12वीं पास व 10वीं पास डिप्लोमा होल्डर्स भी इस योजना का लाभ उठा पाएंगे तथा स्नातक या उच्च शिक्षा के लिए उन्हें 4 लाख तक का लोन क्रेडिट मिलेगा।
      धन्यवाद

  3. Ashok kumar says

    Sir mera kam abhi take nahi hua hai lon case drcc se much nahi aaya hai

    1. Helpline Dept says

      बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना के तहत शिक्षुक विद्यार्थी को लगभग चार लाख रुपये का शिक्षा ऋण दिया जाएगा। इससे उनका शिक्षा का स्तर तो बढ़ेगा ही साथ में उनका जीवन स्तर भी बढ़ेगा। उनको आगे बढ़ने के लिए सरकार की तरफ से 4 लाख रुपये की राशि दी जाएगी। सबसे अच्छी बात ये हैं की इस लोन में किसी तरह का कोई ब्याज नहीं लगेगा तो इससे पढ़ने वाले छात्र व छात्राओं को बढ़ने का मौका मिलेगा।
      जो स्टूडेंट्स 12वीं कक्षा उत्तीर्ण हों चाहे वो बिहार राज्य से हो या सीमावर्ती राज्यों से हों उन्हें आगे पढ़ाई के लिए ऋण मिल पायेगा पर उन्हें बिहार का मूल निवासी होना चाहिए। विद्यार्थी जिस शिक्षण सस्थान से पड़ा हो वो राज्य या केंद्र सरकार सम्बंधित नियामक एजेंसी द्वारा मान्यता प्राप्त हो। उच्च शिक्षा के लिए विद्यार्थी को सामान्य पाठ्यक्रम, तकनीकी या व्यवसाहिक कार्यकर्मो को लिए ऋण दिया जायेगा।

  4. Govind kumar says

    Loan lene ke baad interest dena compulsory hai yadi haan hai toh job lagega tabhi dena hoga ya nahi vhi lagega toh dena parega.

Leave A Reply

Your email address will not be published.