[E-Pass] राजस्थान प्रवासी नागरिक घर वापसी योजना 2020

Rajasthan Pravasi Nagrik Ghar Wapsi Yojana 2020 | Rajasthan Shramik E-Pass Online Registration | राजस्थान प्रवासी श्रमिक यात्रा योजना ई-पास ऑनलाइन पंजीकरण

Rajasthan-Pravasi-Nagrik-Ghar-Wapsi-Yojana
Rajasthan-Pravasi-Nagrik-Ghar-Wapsi-Yojana

Rajasthan Pravasi Nagrik Ghar Wapsi Yojana 2020: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको इस लेख के माध्यम से “राजस्थान प्रवासी नागरिक घर वापसी योजना (श्रमिक ई-पास)” की देंगे। जैसे कि आपको विदित होगा कि देशभर में कोरोना वायरस (COVID-19) की वजह 40 दिन का लॉकडाउन किया गया था, जो 03 मई को समाप्त होना था। परन्तु कोरोना महामारी के खतरे को देखते हुए इस लॉकडाउन को अगले 2 हफ्ते के लिए बढ़ाया गया है। अब लॉकडाउन 17 मई तक बढ़ा दिया गया है। इसी को देखते हुए कई राज्य सरकारें अब दूसरे राज्यों में फंसे अपने नागरिकों को निकालने के लिए कई योजनाएं बना रही है। राजस्थान सरकार भी अपने नागरिकों को हर राज्यों से निकालने के लिए “प्रवासी नागरिक घर वापसी योजना” को शुरू किया है।

इस लेख में हम आपको बताएंगे कि आप कैसे अपने मोबाइल एप्प से अपना ऑनलाइन पंजीकरण (रजिस्ट्रेशन) करा सकते हो। जैसे कि आप जानते हैं कोविड-19 लाॅकडाउन के चलते देश में हजारों मजदूर (श्रमिक) अलग-अलग राज्यों में फंसे हुए हैं और वह अपने अपने घर जाना चाहते हैं। इसी सिलसिले में राजस्थान सरकार ने ई-सेवा मित्र पोर्टल शुरू किया है, जिसके अंतर्गत राजस्थान के प्रवासी मजदूर जो दूसरे राज्य में फंसे हुए हैं, अपना रजिस्ट्रेशन कराकर राजस्थान वापस आ सकते हैं। इसके अलावा राजस्थान सरकार ने टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं, जिसके द्वारा प्रवासी श्रमिक अपना रजिस्ट्रेशन (Migrant Registration) करा सकते हैं।

राजस्थान प्रवासी नागरिक घर वापसी योजना 2020

Rajasthan Pravasi Nagrik Ghar Wapsi Yojana (Migrant Registration) – राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी ने राज्य के प्रवासी नागरिक जो अन्य राज्यो में फंसे हुए हैं, उन्हें घर वापसी बुलाने के लिए एक पोर्टल शुरू किया है। जिसके अंतर्गत राजस्थान के सभी नागरिक जो अपने राज्य से बाहर हैं अपना रजिस्ट्रेशन करा कर योजनाबद्ध तरीके से अपने घर वापस आ सकते हैं।

अगर उनके पास इंटरनेट वाला फोन नहीं है, तो आप हेल्पलाइन नंबर के जरिए भी अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं और घर आने की प्रक्रिया को चरणबद्ध तरीके से पूरा कर सकते हैं। पंजीकरण करने के बाद, राजस्थान सरकार अपनी सहमति देते हुए प्रवासी नागरिकों और मजदूरों की संख्या के हिसाब से उन्हें बुलाने की तारीख और समय तय करेंगी। इसके अलावा जो व्यक्ति अपने प्राइवेट वाहन से राजस्थान वापस आना चाहता हैं, उन्हें रजिस्ट्रेशन में इस बात का उल्लेख भी करना होगा। जो मजदूर अन्य राज्य से वापस आएंगे उनको 14 दिन के लिए क्वॉरेंटाइन में रखा जाएगा, उसके बाद उन्हें घरों को भेजा जाएगा।

प्रवासी श्रमिक/छात्र घर वापसी योजना २०२० की मुख्य विशेषताएं:
Highlights of Rajasthan Pravasi Nagrik Ghar Wapsi Yojana 2020:
योजना का नाम राजस्थान प्रवासी नागरिक घर वापसी योजना
घोषणा मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी द्वारा
आरंभ तिथि 27 अप्रैल 2020
अंतिम तिथि 17 मई 2020
उद्देश्य प्रवासी नागरिकों को घर वापस लाना
टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर 1800-180-6127
आधिकारिक वेबसाइट http://emitra.rajasthan.gov.in
COVID-19 प्रवासी नागरिक घर वापसी (यात्रा) योजना का उद्देश्य-

Objective of Rajasthan Pravasi Nagrik Ghar Wapsi Yojana – प्रवासी नागरिक घर वापसी योजना का मुख्य उद्देश्य राजस्थान के जो मजदूर दूसरे राज्यों में फंसे हुए हैं, उन्हें वापस राज्य में बुलाना है। क्योंकि बहुत से राज्यो में श्रमिक ऐसी जगहों पर फंसे हुए हैं, जहां पर उन्हें खाना भी मुहैया नहीं हो रहा सोशल डिस्टेंसिंग की तो धज्जियां उड़ रही है। अगर दिल्ली की बात करी जाए तो वहां के शेल्टर होम में हजारों मजदूर फंसे हुए हैं। जिन्हें एक वक्त के खाने के लिए भी बड़ी मशक्कत का सामना करना पड़ता है, लाइन लगाने पड़ती है ऐसे में वह सोशल डिस्टेंस का पालन कैसे कर सकते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए राजस्थान सरकार ने इस पोर्टल को शुरू किया है, ताकि राजस्थान के मजदूर वापस अपने घर आ सके।

इसे भी पढ़ें: Rajasthan Jan Soochna Portal – राजस्थान जन सूचना पोर्टल

राजस्थान प्रवासी नागरिक घर वापसी योजना के लिए दिशानिर्देश-

Guidelines for Rajasthan Pravasi Nagrik Ghar Wapsi Yojana – अगर आप भी राजस्थान के रहने वाले हैं और आप कोरोना वायरस लॉकडाउन के चलते किसी अन्य राज्य में फंसे हुए हैं। तो आपको राजस्थान प्रवासी नागरिक घर वापसी (यात्रा) योजना में रजिस्ट्रेशन कराने के लिए निम्नलिखित दिशानिर्देशों को पालन करना पड़ेगा:

  • अगर आप राजस्थान के मूल निवासी हैं, तो आपके पास इसका कोई ना कोई प्रमाण पत्र होना जरूरी है।
  • श्रमिक/मजदूर मोबाइल एप्प को डाउनलोड करके इस पर अपना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।
  • मोबाइल ऐप यूज करने के लिए अगर आपके पास इंटरनेट कनेक्शन नहीं है तो आप टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर 1800-180-6127 के द्वारा भी अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।
  • अगर आपको अपने वाहन से जाना है तो रजिस्ट्रेशन में इस बात का उल्लेख करना होगा। उसके बाद संबंधित जिला कलेक्टर के द्वारा आप को ई-पास (e-Pass) दिया जाएगा।
  • इसके साथ ही आपको संबंधित विभाग द्वारा आपके घर जाने की तिथि बता दी जाएगी।

Download: COVID-19 Lockdown Migrant Registration Guidelines

Rajasthan Pravasi Nagrik Ghar Wapsi Yojna ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया-

Online Registration Process for Rajasthan Migrants Scheme – अगर आप राजस्थान के निवासी हैं और आप लॉकडाउन (तालाबंदी) के कारण किसी अन्य राज्य में फंसे हुए हैं तो आपको रजिस्ट्रेशन कराने के लिए निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करना पड़ेगा:

  1. सबसे पहले आपको ई-मित्र पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट emitra.rajasthan.gov.in पर जाना होगा।
  2. उसके बाद, आपके सामने Migrant Registration Service का वेब पेज खुल जायेगा।

    Rajasthan-Pravasi-Nagrik-Ghar-Wapsi-Migrant-Registration
    Rajasthan-Pravasi-Nagrik-Ghar-Wapsi-Migrant-Registration
  3. यहाँ पर आपको प्रवासी पंजीकरण फॉर्म को सही तरह से भरना होगा। जैसे आपको कहाँ से कहाँ तक जाना है।
  4. इसके बाद, अपना विवरण भरकर अपना फोन नंबर दर्ज करें। जिसके बाद, आपके मोबाइल फ़ोन पर एक OTP आएगा। इस ओटीपी को भरकर वेरीफाई करें।
  5. इसके साथ आप एक साथ अन्य प्रवासी (Add Migrant) को भी जोड़ सकते हो। अगर आप अपने स्वयं के वाहन से जा रहें है तो वह विवरण भी दर्ज करें।
  6. अंत में “Submit” बटन पर क्लिक कर दे। इस तरह से आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा और आगे की सूचना आपको फोन के द्वारा मिल जाएगी।

कृपया ध्यान दे – इसके साथ ही आप मोबाइल ऐप को डाउनलोड करके भी अपना पंजीकरण करा सकते हो। अगर आपके मोबाइल में इंटरनेट नहीं है तो आप टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर 1800-180-6127 पर कॉल करके भी अपने बारे में सारी जानकारी देकर आप अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

यह भी पढ़ें: कोरोना लॉकडाउन – प्रवासी मजदूर और छात्र घर वापसी योजना

RM-Helpline-Team

3 Comments
  1. Helpline Dept says

    सभी प्रवासी श्रमिक/मजदूर और छात्र आधिकारिक वेबसाइट पर जा कर अपना पंजीकरण कर सकते हैं। जिसके बाद नागरिक ई-पास (e-Pass) लेकर अपने घर वापस आ सकते हैं। इसके साथ ही योगी सरकार ने UP Majdur Helpline Number जारी किये हैं, जिसकी मदद से मजदूर इन हेल्पलाइन नंबर में कॉल करके अपना पंजीकरण कर सकते हैं।
    अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें:

    उत्तर प्रदेश प्रवासी मजदूर वापसी ऑनलाइन पंजीकरण 2020

    सादर धन्यवाद
    टीम रीडरमास्टर

  2. Mrinnmoy says

    From fill up kor ke kitna din bad e pas hogha

  3. रतना राम says

    रतना राम

Leave A Reply

Your email address will not be published.