[स्पेशल ट्रेन] प्रवासी श्रमिक मजदूर ऑनलाइन पंजीयन-रजिस्ट्रेशन

Pravasi Shramik Majdur Special Train Online Registration | Migrant Laborers Special Train Booking | प्रवासी श्रमिक स्पेशल ट्रेन ऑनलाइन बुकिंग राज्यवार

Pravasi-Shramik-Special-Train-Booking-Online
Pravasi-Shramik-Special-Train-Booking-Online

Pravasi Shramik Majdur Special Train Online Registration-: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से प्रवासी श्रमिक मजदूर ऑनलाइन पंजीयन-रजिस्ट्रेशन (स्पेशल ट्रेन)” की जानकारी देंगे। देश में कोरोना महामारी की गंभीर स्थिति को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 24 मार्च 2020 को ही लॉकडाउन घोषित कर दिया गया था। परंतु इस लॉकडाउन की वजह से पूरे देश में अलग-अलग राज्यों के कई सारे प्रवासी मजदूर, पर्यटक और छात्र अलग-अलग राज्यों में अपने घरों से दूर फंस गए थे। जिन की वापसी को लेकर प्रत्येक राज्य सरकार द्वारा आधिकारिक वेबसाइट पोर्टल जारी कर दिए गए हैं। जहाँ पर जाकर प्रवासी श्रमिक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करके अपने-अपने घर वापस जा सकते हैं।

अब दूसरे राज्यों में फंसे हुए प्रवासियों के साथ-साथ विद्यार्थियों और पर्यटक के बारे में सोचते हुए सरकार ने यह घोषणा कर दी है कि सरकार द्वारा बनाई गए अधिकारी मंडल की देख-रेख में अब उन लोगों को वापिस उनके घर तक पहुंचाया जाएगा। तो आइए जान लेते हैं कि इसी प्रक्रिया के माध्यम से प्रवासी श्रमिक ऑनलाइन पंजीयन कैसे करवाएं और श्रमिक स्पेशल ट्रेन से घर कैसे जाएँ- यहाँ हम आपको प्रवासी नागरिक घर वापसी योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | Pravasi Shramik Special Train Registration | राज्यवार लिंक, पंजीकरण पोर्टल, हेल्पलाइन नंबर की पूरी जानकारी दे रहे हैं। कृपया इसके लिए इस लेख को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें।

प्रवासी श्रमिक मजदूर ऑनलाइन पंजीयन (स्पेशल ट्रेन बुकिंग)

Pravasi Shramik Special Train Online Registration/Booking – वैसे तो प्रत्येक प्रदेश सरकार द्वारा अपने राज्य में रहने वाले प्रत्येक प्रवासी को अपने राज्य में बुलाने के लिए एक आधिकारिक वेबसाइट जारी कर दी गयी है। जिसमें पंजीकरण के बाद सरकार उन प्रवासियों तक पहुंचने में शीघ्रता दिखाएगी। जो तुरंत अपने राज्य में वापस लौटना चाहते हैं। परंतु इस प्रक्रिया के लिए भी कुछ दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं, तो आइए उन पर एक नजर डालते हैं:

  • सबसे पहले दूसरे राज्य में फंसे प्रवासी श्रमिक अपने राज्य के ऑनलाइन पोर्टल को सर्च करे, जिस राज्य में वह जाना चाहता है और जहाँ के वो मूल निवासी है।
  • उस ऑफिसियल पोर्टल के मिलते ही आपको वहां पर प्रवासी पंजीकरण फॉर्म भी प्राप्त हो जाएगा।
  • उस फॉर्म में आपसे आपके मूल पते का विवरण और साथ-साथ अपनी कुछ बुनियादी जानकारी पूरी तरह से सही भरनी होगी।
  • जब आप खुद से जुड़ी सभी जानकारी का विवरण उचित तरीके से वहां पर दे देते हैं तो आप उस फॉर्म को “Submit” का बटन दबाकर जमा करा सकते हैं।
  • अब आपने जिस राज्य में जाने के लिए आवेदन भरा है उस राज्य का प्राधिकरण केंद्र आप तक पहुंचने के लिए संपर्क करेंगे। आपको उस शहर व राज्य से किस तरह से बाहर निकाला जाएगा, उसकी पूरी प्रक्रिया के बारे में वह आपको स्वयं बताएंगे।

Pravasi Shramik Special Train विवरण पोर्टल में प्रस्तुत करें-

Submit Migrant Workers Special Train Details in the Portal – राज्य सरकार द्वारा जारी की गई आधिकारिक पोर्टल के जरिए जब आप अपना फॉर्म पूरा भर देते हैं। उसके बाद आपसे जुड़े कुछ सवाल अधिकारियों द्वारा पूछे जाते हैं। जैसे आपने अपने एंड्रॉयड फोन में “Arogya Setu App” डाउनलोड किया है अथवा नहीं? यदि आपने आरोग्य सेतु एप Install नहीं किया है तो सबसे पहले आपको उसे इंस्टॉल कराया जाएगा। उसके बाद, ऐप डाउनलोड करते ही आप से जुड़ी प्रत्येक जानकारी आपको वहां पर सही क्रमवार तरीके से भरनी होगी। प्रत्येक प्रवासी के लिए यह निर्देश जारी किया जा चुका है कि राज्यवार तरीके से उसे अपना प्रवासी श्रमिक फॉर्म भरने के लिए निम्नलिखित विवरण उस फॉर्म में प्रदान करने होंगे:

  • आवेदकों का नाम
  • मोबाइल नंबर
  • आरोग्य सेतु एप की स्थिति
  • लिंग (स्त्री/पुरुष)
  • आवेदक की श्रेणी
  • आयु
  • परिवार के सदस्यों की संख्या
  • आधार कार्ड नंबर
  • आप किस राज्य में फंसे हुए हैं
  • आप की वर्तमान स्थिति

इन सभी जानकारी को उचित तरीके से भरने के बाद, आपकी एक सेल्फी खींचने के लिए कहा जाता है। उस फोटो को क्लिक करके आप फॉर्म के साथ अपलोड कर सकते हैं।

ध्यान दे – देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे प्रवासी श्रमिक/मजदूर अधिकतर भारत के मुख्य शहर उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, गुजरात, दिल्ली, मुंबई, बिहार, झारखण्ड, उत्तराखंड के साथ-साथ कई अन्य देशों में भी मौजूद हैं। मुख्य रूप से देश में लगभग 10 करोड ऐसे प्रवासी मजदूर हैं, जो अपने राज्य से दूसरे राज्यों में काम ढूंढने के लिए जाते हैं। मुख्य रूप से यह मजदूर अपने राज्यों से निकलकर दूसरे राज्यों में काम की तलाश में भटकते फिरते हैं।

इसे भी पढ़ें: बिहार प्रवासी श्रमिक वापसी हेतु स्पेशल ट्रेन की ऑनलाइन बुकिंग

प्रवासी श्रमिक स्पेशल ट्रैन ऑनलाइन पंजीकरण पोर्टल (राज्यवार)-

Pravasi Shramik Special Train Online Registration Portal (State-wise):

राज्य का नाम  ऑनलाइन पंजीकरण लिंक
उत्तर प्रदेश यहाँ क्लिक करें
उत्तराखंड यहाँ क्लिक करें
मध्य प्रदेश यहाँ क्लिक करें
छत्तीसगढ़ यहाँ क्लिक करें
हरियाणा यहाँ क्लिक करें
गुजरात यहाँ क्लिक करें
पंजाब यहाँ क्लिक करें
महाराष्ट्र यहाँ क्लिक करें
हिमाचल प्रदेश यहाँ क्लिक करें
राजस्थान यहाँ क्लिक करें
बिहार यहाँ क्लिक करें
झारखण्ड यहाँ क्लिक करें
तमिलनाडू यहाँ क्लिक करें
कर्नाटक यहाँ क्लिक करें
केरल यहाँ क्लिक करें
तेलंगाना यहाँ क्लिक करें
आन्ध्र प्रदेश यहाँ क्लिक करें
ओडिशा यहाँ क्लिक करें
पश्चिम बंगाल यहाँ क्लिक करें
अरुणाचल प्रदेश यहाँ क्लिक करें
गोवा यहाँ क्लिक करें
चंडीगढ़ यहाँ क्लिक करें
दिल्ली यहाँ क्लिक करें
लद्दाख यहाँ क्लिक करें
जम्मू कश्मीर यहाँ क्लिक करें
प्रवासी मजदूरों के लिए राज्यों सरकारों द्वारा उठाए जाने वाले कदम-

Steps to be taken by the State Govt for Migrant Workers – प्रवासी मजदूरों की समस्याओं को समझते हुए जब केंद्र सरकार ने प्रत्येक राज्य की सरकार को यह आदेश दे दिया है कि वह राज्यों में फंसे हुए प्रत्येक प्रवासी मजदूर को उनके निजधाम तक भेजने की तैयारियां करें। तो उनके लिए कुछ दिशा-निर्देश भी जारी किए गए हैं। ताकि यह सारा काम शांति से निपटाया जा सके और किसी भी प्रकार की कोई समस्या इस प्रक्रिया के दौरान उत्पन्न ना हो। तो आइए जानते हैं कि केंद्र सरकार ने किन Pravasi Shramik Special Train दिशा-निर्देशों को जारी किया गया है, जो राज्य सरकार के द्वारा पालन किए जाने आवश्यक हैं:

  1. केंद्र सरकार द्वारा राज्य सरकार के मंत्रियों को यह आदेश दिए गए हैं कि जिन लोगों को वह दूसरे राज्य में भेजना चाहते हैं, उनकी पूरी जिम्मेदारी प्रत्येक जिले के नोडल अधिकारी को देनी चाहिए।
  2. यदि प्रवासी मजदूरों/छात्रों और पर्यटक का समूह एक राज्य से दूसरे राज्य तक भेजा जाता है तो इस बात का ध्यान अवश्य रखा जाए कि उन लोगों के बीच एक सामाजिक दूरी अवश्य हो।
  3. एक राज्य से बाहर निकलने वाले व्यक्ति को दूसरे राज्य में पहुंचाने से पहले उसकी स्क्रीनिंग करना बेहद आवश्यक है।
  4. जिन बसों और गाड़ियों के जरिए प्रवासी लोग एक राज्य से दूसरे राज्य की ओर प्रस्थान करेंगे। उन यातायात के साधनों में प्रवासियों को बैठाने से पहले उन्हें अच्छी तरह से साफ किया जाए।
  5. जो प्रवासी एक राज्य से निकलकर अपने मूल राज्य में पहुंच गए हैं उन्हें उनके घर पर छोड़ने से पहले 14 दिन के लिए क्वॉरेंटाइन अवश्य किया जाए।

Pravasi Shramik Special Train Online Registration (FAQs)-
  • प्रश्न – यदि दिल्ली में कोई प्रवासी फंस गया है तो वह अपने मूल राज्य में वापिस कैसे जा सकता है?
    उत्तर – यदि कोई प्रवासी दिल्ली में फंसा हुआ है और वह अपने राज्य वापस लौटना चाहता है तो उसे सम्बंधित राज्य सरकार द्वारा जारी किए गए पंजीकरण फॉर्म को भरना होगा।
  • प्रश्न – प्रवासी मजदूरों का एक राज्य से दूसरे राज्य में गमन की प्रक्रिया कब जारी होगी?
    उत्तर – प्रवासी लोगों को एक राज्य से दूसरे राज्य में पहुंचाने का काम जारी करने का आदेश सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार आरंभ कर दिया गया है।
  • प्रश्न – प्रवासी श्रमिक पंजीकरण फॉर्म के अंतर्गत किन-किन दस्तावेजों को जमा कराना आवश्यक है?
    उत्तर – यदि कोई प्रवासी अपने राज्य वापस लौटना चाहता है तो उसे प्रवासी पंजीकरण फॉर्म में अपना आधार कार्ड नंबर, मोबाइल नंबर, अपना पता राज्य का नाम और साथ ही अपनी एक फोटो भी जमा करानी आवश्यक है।
कोरोना लॉकडाउन – प्रवासी मजदूर और छात्र घर वापसी योजना
  • प्रश्न – क्या Arogya Setu App इंस्टॉल करना आवश्यक है?
    उत्तर – जो लोग पहले से ही अपने घरों में सुरक्षित है उनके लिए यह एप्प इंस्टॉल करना कुछ आवश्यक नहीं है परंतु जो लोग दूसरे राज्यों में फंसे हुए हैं और अपने घर वापस लौटना चाहते हैं तो उन्हें अपने फोन में आरोग्य सेतु एप Install जरूर करना चाहिए।
  • प्रश्न – क्या घर पहुंचने के बाद भी प्रवासियों को Quarantine करना जरूरी है?
    उत्तर – एमएचए द्वारा जारी की गई दिशा-निर्देशों के अनुसार जिन प्रवासियों को उनके घर भेजा जा रहा है, उन्हें 14 दिन क्वॉरेंटाइन करना बेहद आवश्यक है। क्योंकि कोरोना एक ऐसी महामारी है जिसके लक्षण मरीजों में दिखाई नहीं दे रहे हैं। परंतु 14 दिन के अंदर इससे होने वाले लक्षण और समस्याएं दिखने लगती है। इसलिए क्वॉरेंटाइन के समय उन प्रवासियों पर निगरानी रखने का काम नोडल अधिकारियों द्वारा नियुक्त कर्मचारियों द्वारा किया जाएगा।

Pravasi Shramik Special Train PIB Report

यह भी पढ़ें: Lockdown – श्रमिक एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन सूची | ऑनलाइन बुकिंग

RM-Helpline-Team

2 Comments
  1. Umesh Kumar Yadav says

    बिहार राज्य में प्रवासी श्रमिक स्पेशल ट्रेन हेतु ऑनलाइन पंजीयन कैसे करें?

    1. Helpline Dept says

      बिहार सरकार ने प्रवासी श्रमिक, मजदूर, कामगारों को घर वापसी के लिए योजना बनायीं है। इसके तहत केंद्र और सभी राज्य सरकारों ने श्रमिक स्पेशल ट्रेन शुरू की गयी है। जिसकी मदद से प्रवासी श्रमिक ऑनलाइन बुकिंग करके अपने घर वापस जा सकते है। इसके साथ ही सरकार ने पंजीयन हेल्पलाइन नंबर भी जारी किये है। जिन लोगों के पास इंटरनेट का कोई माध्यम नहीं है वो इन हेल्पलाइन नंबर्स में कॉल करके अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।
      बिहार प्रवासी श्रमिक वापसी हेतु स्पेशल ट्रेन की ऑनलाइन बुकिंग के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें:
      Bihar Migrant Workers Special Train Online Booking

Leave A Reply

Your email address will not be published.