प्रधानमंत्री स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना की जानकारी तथा पंजीकरण की प्रक्रिया व उद्देश्य

Pradhan Mantri Gram Swarozgar-Swarojgar Yojana Panjikaran Prime Minister Rural Self-Employment Scheme Registration Online Avedan Patra and Eligibility

ββ स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना की जानकारी ββ

ββ Information About Swarna Jayanti Gram Swarozgar Yojana ββ

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना को अप्रैल 1999 में आरम्भ किया गया। यह योजना ग्रामीण गरीबों को रोज़गार के अवसर मुहैया कराने के लिए एक समन्वित प्रोग्राम है। स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोज़गार योजना का मुख्य लक्ष्य गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे नागरिकों की सहायता करके क्षमता निर्माण, ट्रेनिंग, सामाजिक एकजुटता तथा आमदनी देने वाली सम्पतियों की व्यवस्था के माध्यम से उन्हें स्वयं मदद समूहों के रूप में संयोजित करना है।
इस योजना के अंतर्गत यह काम सरकारी सब्सिडी तथा बैंक लोन के माध्यम से किया जाता है। इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले नागरिकों को अनुदान तथा लोन मुहैया कराकर गरीबी रेखा से ऊपर लाना है। इस योजना के तहत 3 लाख 75 हज़ार स्वरोजगारियों को 1 हज़ार 370 करोड़ 68 लाख रूपये का अनुदान तथा लोन दिया गया है। इस योजना के तहत इस प्रोग्राम में ग्रामीण इलाकों में निरंतर इनकम सृजन के अवसर उत्पन्न करने के लिए गरीब नागरिकों की क्षमता तथा प्रत्येक इलाकें की जमीन आधारित तथा अन्य संभावनाओं के आधार पर भारी मात्रा में छोटे उद्यमों की स्थापना पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है।
स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना के तहत इसमें अलग अलग कारकों जैसे गरीब नागरिकों में क्षमता उत्पन्न करना, टेक्नोलॉजी हस्तांतरण, लोन, कौशल उन्नति ट्रेनिंग, ढांचागत तथा विपणन मदद पर खासकर जोर दिया जाता है। इस योजना के तहत अनुवृत्ति कुल योजना का खर्च के 30 % की दर से दी जाती है। परंतु इस योजना में अधिकतम सीमा 7 हज़ार 500 रूपये निर्धारित की गई है। इस योजना के तहत स्वयं मदद समूहों को योजना खर्च का 50 % तक अनुवृत्ति दी जाती है। जिसकी अधिकतम सीमा 1 लाख 25 हज़ार रूपये या प्रत्येक व्यक्ति 10 हज़ार रूपये है।
इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण निर्धनों में कमजोर वर्गों पर खासकर ध्यान दिया जाता है। इस योजना के तहत स्‍वरोजगारियों में से न्यूनतम 50 % अनुसूचित जनजातियों तथा अनुसूचित जातियों से 40 % महिलाओं तथा 3 % विकलांगो को युक्त किया जायेगा। इस योजना के अंतर्गत एक बार लोन देने के बदले बहु लोन की सेवाओं को वरीयता दी जाती है।

ββ स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोज़गार योजना के उद्देश्य ββ

ββ Purpose of Swarna Jayanti Gram Swarozgar Yojana ββ

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोज़गार योजना के तहत गाँव के निर्धनों में से असुरक्षित दलों पर विशेष ध्यान दिया जायेगा। इसके अलावा इसमें 50 % अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजातियां तथा 40 % महिलाओं को तथा 3 % विकलांग व्यक्तियों को दिया जाना चाहियें।

ββ स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोज़गार योजना के लिए कौन पात्र है ββ

ββ Who is Eligible for Swarna Jayanti Gram Swarozgar Yojana ββ

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोज़गार योजना के तहत ग्राम सभा के तहत विधिवत रूप से स्वीकृत बीपीएल (BPL) जनगणना के माध्यम  से पहचानी गई गरीबी रेखा से नीचे (Below Poverty Line) की घरेलु चीजों की लिस्ट, इस योजना के अंतर्गत मदद देने के लिए परिवारों को पहचानने का आधार बनेगा। इस योजना के तहत हितधारियों को स्वरोज़गार कहलाया जायेगा। इस योजना के अंतर्गत गाँव के निर्धनों को स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोज़गार योजना का दल बनाये जायेंगे।

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना के विषय में जो भी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस वेवसाइट पर क्लिक करे:

योजना की जानकारी हेतु ===> यहाँ क्लिक करें

Leave A Reply

Your email address will not be published.