प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना 2020 के तहत मुफ्त राशन

Pradhan Mantri Gareeb Kalyan Anna Yojana 2020 | 3 Month Free Ration To Poor Needy People | 3 महीने तक प्रति व्यक्ति 10 किलो चावल/गेहूं और 1 किलो फ्री दाल

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना 2020 के तहत मुफ्त राशन | प्रधानमंत्री वृद्धा-विधवा-विकलांग पेंशन योजना डबल | उज्‍ज्‍वला स्‍कीम के तहत मुफ्त एलपीजी सिलेंडर | प्रधानमंत्री कंस्‍ट्रक्‍शन मजदूर आर्थिक सहायता | Pradhan Mantri Gareeb Kalyan Anna Yojana 2020 Free LPG Cylinder under PM Ujjwala Yojna

PM-Gareeb-Kalyan-Anna-Yojana-In-Hindi
PM-Gareeb-Kalyan-Anna-Yojana-In-Hindi

Pradhan Mantri Gareeb Kalyan Anna Yojana 2020: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको इस लेख के माध्यम से “प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना” के बारे में पूरी जानकारी देंगे। कोरोना वायरस संकट से निपटने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने 26 मार्च 2020 को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। केंद्र की सरकार ने गरीबों के लिए 1 लाख 70 हजार करोड़ रुपए के राहत पैकेज का ऐलान किया है। वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस राहत पैकेज की घोषणा की है। जैसे कि आपको विदित होगा कि पुरे देश को कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन किया गया है। इसी को देखते हुए केंद्र और राज्य सरकारें तरह-तरह की स्कीम ला रही है। जिसे गरीब लोगों की मदद की जा सके।

इसी को देखते हुए लॉकडाउन से प्रभावित गरीबों की मदद करने के लिए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को शुरू किया है। इस योजना के अंतर्गत जिन लोगों को तुरंत मदद की जरूरत है, उन्हें राहत दी जाएगी। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत 80 करोड़ गरीब लोगों को 3 महीने तक राशन के अलावा 5 किलो गेहूँ या 5 किलो चावल अतिरिक्त दिया जाएगा। इसके अलावा एक किलो दाल भी दी जाएगी। यह खाद्य सामग्री राशन के अलावा होगी और यह फ्री दी जाएगी। नीचे हम आपको Pradhan Mantri Gareeb Kalyan Anna Yojana 2020 (3 Month Free Ration to Poor Needy People) की पूरी जानकारी प्रदान कर रहे हैं। कृपया इसके लिए पूरा आर्टिकल अंत तक ध्यान से पढ़ें।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना 2020 के तहत मुफ्त राशन

Free Ration under PM Gareeb Kalyan Anna Yojana – जैसे कि हमने आपको ऊपर बताया कि केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस लॉकडाउन से प्रभावित गरीबों की मदद करने के लिए “प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज 2020” को शुरू किया गया है। इस योजना के अंतर्गत अगले 3 महीने तक प्रति व्यक्ति 10 किलो चावल/गेहूँ के साथ 1 किलो फ्री दाल उपलब्ध करवाया जाएगा। इसके लिए सरकार ने 1.70 लाख करोड़ के पैकेज का ऐलान है। इस योजना के अंतर्गत 80 करोड़ गरीबों को लाभ मिलेगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कुछ अन्य घोषणा भी करी, जो निम्न प्रकार से हैं:

किसको मिलेगा लाभ-

PM Gareeb Kalyan Anna Yojana के तहत आर्थिक पैकेज की राशि का इस्तेमाल 10 करोड़ गरीबों के खाते में सीधे रकम ट्रांसफर करने और उद्योगों को राहत देने के लिए किया जाएगा। कोरोना वायरस संक्रमण फैलने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने मंगलवार को देशभर में 21 दिन का लॉकडाउन घोषित किया था। इससे जनजीवन और आर्थिक गतिविधियां ठहर गई हैं।

गरीब वरिष्‍ठ नागरिकों, विधावाएं और दिव्‍यांगों को तीन महीने तक अतिरिक्त 1,000 रुपये डायरेक्‍ट बेनिफिट ट्रांसफर (DBT) के जरिए दिया जाएगा। महिला जन-धन खाताधारकों को 500 रुपए राशि उनके खाते में भेजी जाएगी। इससे 20 करोड़ महिलाओं को लाभ होगा। उज्‍ज्‍वला स्‍कीम के तहत 8 करोड़ से ज्‍यादा बीपीएल महिलाओं को इस कठिन समय में तीन महीने तक एलपीजी सिलेंडर मुफ्त में दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की मुख्य विशेषताएं-

Key Features of Pradhan Mantri Gareeb Kalyan Anna Yojana – वित्त मंत्री ने प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि हम किसी को भूखा और रुपयों के बिना नहीं रहने देंगे। उन्होंने कहा कि 24-25 की रात को लॉकडाउन शुरू किया गया है। सरकार प्रभावितों और गरीबों की मदद के लिए काम कर रही है, हमें उन तक पहुँचना है। केवल 36 घंटे हुए हैं और हम पैकेज लेकर आए हैं। जो गरीबों का ध्यान रखेगा, जिन्हें तुरंत मदद की जरूरत है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत किसी गरीब को भूखा नहीं रहने दिया जाएगा।

अभी गरीबों को 5 किलो गेहूँ या चावल हर महीने प्रति व्यक्ति मिलता है इसके अतिरिक्त अगले तीन महीने तक 5 किलो प्रति व्यक्ति मुफ्त गेहूँ या चावल दिया जाएगा। एक किलो प्रति परिवार दाल भी दिया जाएगा। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण धन योजना (Gareeb Kalyan Anna Dhan Yojana) के तहत किसानों, मनरेगा, गरीब विधवा, गरीब पेंशनधारी और जन-धन अकाउंट धारी महिलाओं, उज्ज्वला योजना की लाभार्थी महिलाएं, स्वंय सेवा समूहों की महिलाओं और संगठित क्षेत्र के कर्मचारियों, कंस्ट्रक्शन से जुड़े मजदूरों को मदद दी जाएगी।

इसे भी पढ़ें: योगी सरकार – 1 हजार रुपये भरण-पोषण भत्ता प्रति दिहाड़ी मजदूर

पीएम गरीब कल्याण अन्न-धन योजना की अन्य सुविधा-

Other Facilities of PM Gareeb Kalyan Anna Dhan Yojana – इसके अलावा कंस्‍ट्रक्‍शन से जुड़े 3.5 करोड़ मजदूरों के लिए 31,000 हजार रुपए के फंड का सदुपयोग किया जाए। इसके लिए राज्‍य सरकारों से कहा जाएगा। कोरोना वायरस से जंग के लिए मेडिकल टेस्‍ट, स्‍क्रीनिंग और अन्‍य जरूरतों के लिए डिस्ट्रिक्‍ट मिनेरल फंड का उपयोग करने की आजादी राज्‍य सरकारों को दी जाएगी। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए भी इस फंड का उपयोग किया जाएगा।

100 से कम कर्मचारी वाली कंपनी जिसमें 90 फीसदी कर्मचारियों का वेतन 15,000 रुपए से कम है, उसके कर्मचारियों के EPFO खाते में सरकार अगले तीन महीने तक कर्मचारी और कंपनी की तरफ से पैसे डालेगी।

सरकार दोनों की तरफ से 12-12% का योगदान करेगी। इससे 80 लाख से ज्‍यादा मजदूरों को लाभ मिलेगा।

इसे भी पढ़ें: आयुष्मान भारत- PMJAY योजना के तहत कोरोना वायरस उपचार

केंद्र सरकार की अन्य योजना-

Other Central Govt Schemes – संगठित क्षेत्र के कर्मचारियों के लिए ईपीएफओ के रेगुलेशन में बदलाव किया जाएगा। अब कर्मचारी अपने प्रोविडेंट फंड खाते से 75% राशि या तीन महीने की सैलरी, जो भी राशि कम हो, की निकासी कर सकते हैं। ये पैसे उन्‍हें वापस नहीं करने होंगे। 50 लाख का बीमा कवर उन लोगों को मिलेगा जो कोरोना वायरस के इलाज में प्रत्‍यक्ष या अप्रत्‍यक्ष रूप से अपनी भूमिका निभा रहे हैं। इनमें डॉक्‍टर, पैरामेडिकल स्‍टाफ, सफाई कर्मचारी आदि शामिल हैं।

इसके साथ ही किसानों के खाते में 2,000 रुपये की किश्त अप्रैल के पहले हफ्ते में डाल दी जाएगी, इससे 8.69 करोड़ किसानों को फायदा मिलेगा। मनरेगा के तहत मजदूरी 182 से बढ़ाकर 202 रुपए की गई। 3 करोड़ सीनियर सिटीजंस, विधवाओं, दिव्यांगों को डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (DBT) का फायदा मिलेगा।

वित्त मंत्री कोरोना वायरस (COVID 19) से लड़ने के लिए सभी तरह के राहत पैकेज की घोषणा करते हुए:

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (कुछ सामान्य प्रश्न)-

Pradhan Mantri Garib Kalyan Anna Yojana FAQs:

  1. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत कौन-कौन शामिल है?
    उत्तर – इस योजना के तहत वो सभी लोग शामिल हैं जो बीपीएल श्रेणी से सम्बन्ध रखते हैं या जिनकी वार्षिक आय बहुत ही कम है जैसे कि दिहाड़ी मजदूर, जन धन योजना के सभी लाभार्थी इत्यादि।
  2. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के लिए आवेदन कैसे करें?
    उत्तर – सरकार द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार इस योजना का लाभ लेने के लिए किसी प्रकार के आवेदन अथवा पंजीकरण की कोई जरूरत नहीं है।
  3. गरीब कल्याण योजना की लाभार्थी सूची (लिस्ट) कैसे चेक करें?
    उत्तर – गरीब कल्याण योजना की लाभार्थी सूची के लिए सरकार की तरफ से किसी प्रकार की कोई कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है।
  4. क्या अनाज और दालें बिलकुल मुफ्त में मिलेंगी और कितनी?
    उत्तर – सरकार 3 महीने अथवा जून 2020 तक बिलकुल मुफ्त में हर महीने 5 किलो अनाज या चावल और 1 किलो दाल मुहैया करवाएगी और उसके पश्चात बहुत ही कम रेट पर अनाज, चावल और दालें मिलेंगी।
  5. क्या नरेगा कर्मियों के लिए भी प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत कुछ शामिल है?
    उत्तर – जी हाँ, सरकार ने 1 अप्रैल 2020 से सभी नरेगा कर्मियों का दैनिक वेतन 20 रूपये बढाकर 202 रुपये कर दिया है।
  6. महिलाओं के लिए इस योजना के क्या फायदे हैं?
    उत्तर – सरकार ने अगले 3 महीने तक सभी महिला जन धन खाता धारकों को 500 रूपये उनके खाते में जमा करवाने का निर्णय लिया है।

Coronavirus Toll-Free Helpline No: 1075 / 11-23978046

Novel Corona-Virus Updates & Advisory: https://www.mohfw.gov.in/

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस प्रभावित लोगों के लिए केंद्र/राज्य सरकार की योजनाएं

RM-Helpline-Team

7 Comments
  1. Nageshwar says

    राशन कार्ड के लिए नंबर कैसे रजिस्टर करना है

  2. Manju soni says

    New rasan card banvana

    1. Rohit sharma says

      Dear, mem me rohit sharma mem hume bhi ration card banbana hai agar aap banbao to plz muje bata dena
      Mera ye whatsapp no hai.plz 9713936252 mem plz madad kar dena

  3. Akhilesh Chourasiya says

    Sarkar pagal BNA rha hsi
    Hame to kuchh BHI Nahi milla

  4. Harishankar says

    Meri pass rene ke liye ghar nahi hai

  5. Indu Devi says

    Indu Devi mintu thakur bihar bhagwanpur khajuri post pasatara Anshul patepur jila Vaishali Nagar pin code 843114 addhar nabar 788903558418 khata nabar 36052734069 IFSC code 0008396

    1. Helpline Dept says

      केंद्र सरकार ने सभी राज्यों और केंद्र शासित सरकारों को अपने क्षेत्रों में फंसे छात्र, प्रवासी मजदूर और पर्यटन सेनानी को निकालने के लिए अंतरराज्यीय यात्राएं शुरू करने का आदेश जारी कर दिया है। गृह मंत्रालय की ओर से मिलने वाली इस बढ़ी राहत में उन्होंने यह बताया है कि “सभी फंसे हुए व्यक्तियों को चिकित्सीय रूप से जांचा जाएगा और घर पहुंचने से पहले उन्हें क्वॉरेंटाइन किया जाएगा। गृह मंत्रालय ने केंद्र सरकार से बातचीत करके लोगों को घर जाने के लिए आवश्यक व्यवस्था और ट्रेन की सुविधाएं प्रदान करने का भी कहा है।”
      अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें:

      कोरोना लॉकडाउन – प्रवासी मजदूर और छात्र घर वापसी योजना

      धन्यवाद-
      टीम रीडरमास्टर

Leave A Reply

Your email address will not be published.