[KVs] केंद्रीय विद्यालय में एक छात्र एक वृक्ष अभियान 2020

One-Student-One-Tree-Campaign-In-Hindi
One-Student-One-Tree-Campaign-In-Hindi

One Student One Tree Campaign 2020-: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको केंद्रीय विद्यालय में एक छात्र एक वृक्ष अभियान के बारे में जानकारी देंगे। भारत सरकार ने 20 जुलाई 2019 को एक नया वन स्टूडेंट वन ट्री मिशन शुरू किया है। इस 1 छात्र 1 पेड़ पहल के अनुसार, सभी केन्द्रीय विद्यालयों (KVs) में प्रत्येक छात्र को अपने परिसर में एक पेड़ लगाने की आवश्यकता होगी। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री, रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने बेंगलुरु में स्कूली छात्रों के साथ पेड़ लगाए।

संघ सरकार का लक्ष्य इस एक छात्र एक वृक्ष अभियान के माध्यम से देश भर में केवी स्कूलों में 1 मिलियन पेड़ लगाने का है। यह 1 छात्र 1 पेड़ अभियान पर्यावरण को संरक्षित करने के लिए प्रधानमंत्री के दृष्टिकोण के अनुरूप है। दिल्ली सरकार ने पानी को बचाने और रीसायकल करने के लिए एक समान जीरो लिक्विड डिस्चार्ज पहल भी शुरू की है। एक विद्यार्थी एक पेड़ अभियान और ZLD पहल (One Student One Tree Campaign 2020 In Kendriya Vidyalaya) की पूरी जानकारी विस्तार से नीचे पढ़ें।

केवी स्कूलों में वन स्टूडेंट वन ट्री अभियान 2020

One Student One Tree Campaign in KV Schools – जैसे की हमने आपको ऊपर बताया कि केंद्र सरकार जल्द ही केवी स्कूलों में एक छात्र एक वृक्ष अभियान को शुरू करने जा रही है। यह योजना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के हरे और स्वस्थ वातावरण के विचार के अनुरूप है। इस One Student One Tree Campaign का मुख्य उद्देश्य पूरे देश में केंद्रीय विद्यालयों में एक मिलियन पेड़ लगाना है। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री, रमेश पोखरियाल जी की यह एक बहुत अच्छी पहल है। इससे न केवल वातावरण को लाभ मिलेगा वरन छात्र और छात्राएं भी अपने वातावरण के लिए जागरूक होंगे। और पेड़ लगाने की महत्वता को समझेंगे।

दिल्ली सरकार जीरो लिक्विड डिस्चार्ज (पानी बचाने की पहल)-

Delhi Govt Zero Liquid Discharge (Initiative to Save Water):

  • दिल्ली सरकार ने भी जीरो लिक्विड डिस्चार्ज (ZLD) पहल शुरू की है और इसे संबद्ध सभी स्कूलों में अनिवार्य किया गया है।
  • ZLD प्रणाली के प्रस्ताव को राज्य सरकार द्वारा सहमति दी गई है और जल्द ही कार्य करना शुरू कर देगा।
  • दिल्ली राज्य सरकार अपने सभी स्कूलों में पानी की 100% रीसाइक्लिंग की पहल करेगी।
  • सिस्टम को लागू करने के लिए स्कूलों को 90 दिन की समय सीमा दी जा चुकी है।
  • राज्य सरकार का लक्ष्य ZLD पहल के माध्यम से रीसाइक्लिंग और पुन: उपयोग करके पानी की बचत करना है।

सिस्टम उन गतिविधियों के लिए अपशिष्ट जल का उपयोग करने का निर्देश देता है। जिनके लिए स्कूल के यौगिकों में मीठे पानी का उपयोग किया जाता है। पर्यावरण के संबंध में छात्रों में जागरूकता पैदा करने के लिए, इको-क्लब को कुछ साल पहले बनाया गया था। उसी दिशा में नवीनतम कदम के अनुसार, स्कूलों में खपत होने वाले पानी को पुनर्नवीनीकरण किया जाएगा।

One-Student-One-Tree-Campaign-In-Kendriya-Vidyalaya
One-Student-One-Tree-Campaign-In-Kendriya-Vidyalaya
मानव संसाधन विकास मंत्रालय दीक्षारम्भ कार्यक्रम-

HRD Ministry Deeksharambh Program – इससे पहले, केंद्रीय सरकार ने स्टूडेंट इंडक्शन प्रोग्राम के लिए एक गाइड जारी किया है। जिसका नाम है दीक्षारम्भ है। इस योजना का उद्देश्य नए छात्रों को समायोजन करने और नए वातावरण में सहज महसूस करने में मदद करना है। इससे उन्हें संस्था के लोकाचार और संस्कृति को विकसित करने में मदद मिलेगी। इसके अलावा, छात्रों को अन्य छात्रों और संकाय सदस्यों के साथ बिल्डिंग बॉन्ड में सहायता मिलेगी। यह उन्हें बड़े उद्देश्य और आत्म-अन्वेषण की भावना के संपर्क में प्रदान करेगा।

UGC Deeksharambh Scheme के बारे में और अधिक जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें: Click Here

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री एयर कंडीशनर योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन करें

पाठकों, यहां हमने आपको केंद्रीय विद्यालय में एक छात्र एक वृक्ष अभियान (One Student One Tree Campaign 2020 In Kendriya Vidyalaya) के बारे में सभी जानकारी प्रदान कर दी है। अगर आपको यह जानकारी पसंद आयी है, तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले। अधिक जानकारी के लिए आप हमे अपना प्रश्न नीचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हो। हम आपकी पूरी सहायता करेंगे। हमारी वेबसाइट www.readermaster.com में आने के लिए धन्यवाद, अधिक अपडेट के लिए बने रहें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.