[Nikshay Portal] निक्षय पोषण योजना 2020 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

Nikshay-Poshan-Yojana-Portal-In-Hindi
Nikshay-Poshan-Yojana-Portal-In-Hindi

Nikshay Poshan Yojana Portal 2020-: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको इस लेख के माध्यम से “निक्षय पोषण योजना” की जानकारी देंगे। केंद्र सरकार ने क्षय रोग जैसे की टीबी जैसी बीमारी के लिए निक्षय पोषण योजना चला रखी है। यह सरकारी योजना उन लोगों के लिए प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की गई है जो क्षय रोग से ग्रसित है। निक्षय पोषण योजना टीबी मरीजों के लिए एक तरह की पोषण सहायता योजना (Nutritional Support Scheme) है। जिसमें रोगियों व प्रत्येक लाभार्थी को हर महिनें 500 रूपये उपचार के साथ-साथ दिये जाएंगे। निक्षय पोषण योजना 2020 के लिए आप स्वास्थ्य केंद्रों पर पंजीकरण व नामांकन कर सकते हैं, जहां से वे अपना इलाज ले रहें हैं।

टीबी एक खतरनाक और गंभीर बीमारी है जिससे हर साल लगभग हजारों लोगों की मौत हो जाती है। टीबी के मरीजों की मौत का कारण आज के समय में पोषण से भरपूर खाने की कमी है। क्योकि टीबी की बीमारी से लड़ने वाली दवाइयाँ तो बहुत है पर कहीं न कहीं अच्छे पोष्टिक भोजन की कमी है। डॉक्टरों के अनुसार टीबी की दवाइयों के साथ मरीज को अच्छे भोजन की भी बहुत जरूरत होती है और ऐसा ना होने पर कुछ परिस्थितियों में रोगी की मृत्यु तक हो जाती है। निक्षय पोषण योजना केंद्र सरकार की राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन (NHM) द्वारा वित्त पोषित योजना है। नीचे हम आपको Nikshay Poshan Yojana & Online Portal की पूरी जानकारी प्रदान कर रहे हैं। कृपया इसके लिए पूरा आर्टिकल अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें।

निक्षय पोषण योजना (Nikshay Portal) क्या है?

Nikshay Poshan Yojana & Portal Details – निक्षय पोषण योजना के लिए वैसे तो किसी तरह का पंजीकरण सरकार द्वारा नहीं मांगा गया है। पर रोगी को योजना का लाभ लेने के लिए निक्षय पोर्टल nikshay.in पर सूचित करना होता है। जिससे की वे अपने डेटाबेस में रोगी का रिकॉर्ड रख सकें। समय पर पर टीबी के मरीज को एसएमएस भी भेजें जाते हैं जिससे की वह अपना टिकाकरण न भूले। टीबी का इलाज करने वाले केन्द्रों को रोगियों का इलाज करने के लिए सरकार द्वारा भुगतान भी किया जाता है:

मरीजों की श्रेणी पहला प्रोत्साहन दूसरा प्रोत्साहन तीसरा प्रोत्साहन चौथा प्रोत्साहन
नये मरीज नामांकन के साथ आईपी फॉलो – अप एग्जामिनेशन के बाद 2 महीने के लिए फॉलो – अप एग्जामिनेशन के बाद 6 महीने के लिए N/A
औपचारिक रूप से रोगियों का ईलाज नामांकन के साथ आईपी फॉलो – अप एग्जामिनेशन के बाद 3 महीने के लिए ईलाज के बाद 5 महीने के लिए फॉलो – अप क्लिनिकल एग्जामिनेशन के बाद 8 महीने के लिए
टीबी से पीड़ित व्यक्ति नामांकन के साथ फॉलो – अप एग्जामिनेशन के 2 महीने के लिए क्लिनिकल एग्जामिनेशन के बाद 4 महीने के लिए फॉलो – अप सेशन के दौरान 6 महीने के लिए
Nikshay Poshan Yojana के लिए जरूरी दस्तावेज-

Documents Required for Nikshay Poshan Online Application: – डॉक्टर से प्रमाणित पेपर जो यह साबित करता हो की व्यक्ति टीबी का मरीज हो। जिसके लिए आवेदकों को मेडिकल प्रमाण पत्र (Medical Certificate) की आवश्यकता होगी। इसके अलावा ऑनलाइन आवेदन पत्र भी भरना होगा, जो पोर्टल पर उपलब्ध है। यह नामांकन फॉर्म सम्बंधित अधिकारी एवं हेल्थ केयर सेण्टर को मरीज का रिकॉर्ड रखने में मदद करेगा।

अतिरिक्त सहायता – यदि इस योजना के तहत नये मरीज हैं या औपचारिक रूप से मरीज का ईलाज हो रहा हैं तो सभी को 2 महीने के लिए अतिरिक्त उपचार एवं थेरेपी पर 1,000 रुपये सरकार के द्वारा मिलेंगे। यानि प्रति महीने के उपचार के लिए उन्हें 500 रुपये प्राप्त होंगे।

इसे भी देखें: खाद्य सुरक्षा मित्र योजना 2020 | ईट राइट इंडिया मूवमेंट

पीएम निक्षय पोषण योजना के लिए पात्रता (योग्यता)-

Eligibility for for PM Nikshay Poshan Yojana – टीबी मरीजो के लिए शुरू की गई निक्षय पोषण योजना का लाभ लेने के लिए रोगियों को नीचे दी गई पात्रता को पूरा करना होगा। वरना वे योजना के लिए पात्र नहीं होंगे:

  • व्यक्ति ने 1 अप्रैल 2018 या उसके बाद निक्षय पोर्टल पर सूचित कर दिया हो।
  • वह मरीज जो पहले से ही टीबी का इलाज ले रहें हैं, इसके पात्र होंगे।
  • इसके साथ ही जो व्यक्ति पोर्टल पर सरकार को सूचित नहीं करेगा, वह स्कीम का पात्र नहीं होगा।

इसे भी पढ़ें: आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत विशेष पैकेज की घोषणा

केंद्र सरकार की निक्षय पोषण योजना के लाभ-

Central Govt Nikshay Poshan Yojana Benefits – इस योजना से टीबी के उपचार के लिए मरीजों को एक मंच मिलता है। इसके साथ ही निक्षय पोषण योजना के लाभ निम्न प्रकार से हैं।

  1. निक्षय पोषण योजना का मुख्य उद्देश्य मरीजों की निगरानी करना, उन्हें आसानी से टीबी के इलाज के लिए सहयोग प्रदान करना है।
  2. इस योजना की खास बात यह है की केंद्र सरकार द्वारा एक डेटाबेस बनाया जाता है। जिसमें वे उन सभी रोगियों के लिए आवश्यक रिकॉर्ड समय-समय पर तैयार करते रहें।
  3. इसके अलावा टीबी रोगियों को 500 रूपये प्रति माह दिये जाते ही हैं।
  4. Nikshay Poshan Yojana में मदद लेने वाले रोगियों की कुल संख्या पूरे देश में 13 लाख से ऊपर है।
  5. यह योजना राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (National Health Mission) के तहत है शुरू की गई है।
Nikshay Poshan Yojana Online Registration-

निक्षय पोषण योजना के लाभार्थी मरीजों को Nutritional Support Scheme For TB Patients का लाभ उठाने के लिए सबसे पहले Nikshay Portal पर जाना होगा। उसके बाद, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए नीचे दिए स्टेप्स को फॉलो करें:

  1. NATIONAL TUBERCULOSIS ELIMINATION PROGRAMME की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएये।
  2. यहाँ पर आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म प्राप्त करने हेतु New Health Facility Registration बटन पर क्लिक करें।
  3. अब आप रजिस्ट्रेशन फॉर्म को सही से भरकर ऑनलाइन सबमिट कर दें।
  4. इसमें आवेदकों को सभी जरुरी जानकारी जैसे – राज्य, जिला, कांटेक्ट पर्सन नेम, मोबाइल नंबर आदि विवरण भरने होंगे।
  5. इसके बाद, आप Application को सेव कर लें। इस तरह से आपका निक्षय पोषण योजना के अंतर्गत नामांकन हो जाएगा।

ध्यान दे – यदि आप इस योजना में ऑफलाइन नामांकन करना चाहते हैं, तो इसके लिए आप इसमें शामिल होने वाले किसी भी सरकारी एवं निजी हेल्थ केयर सेंटर में जाकर नामांकन फॉर्म भर सकते हैं।

इसे भी देखें: पीएम मोदी पोषण अभियान 2020 की पूरी जानकारी

निक्षय पोषण योजना के लांच की जानकारी (विवरण)-
योजना का नाम  Nikshay Poshan Yojana
लांच की गयी  केंद्र सरकार द्वारा
घोषणा  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
लांच तारीख  अप्रैल, 2018
आधिकारिक पोर्टल  https://nikshay.in/
टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर  1800-11-6666
सम्बंधित विभाग स्वास्थ्य एवं कल्याण विभाग, भारत सरकार
Note – इसके अलावा किसी भी अन्य जानकारी के लिए आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट https://nikshay.in पर जा सकते हैं। या फिर जारी नोटिफ़िकेशन Nikshay Poshan Yojna PDF Notification भी देख सकते हैं और टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर 1800-116-666 पर भी संपर्क कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: आयुष्मान भारत योजना में नि:शुल्क COVID 19 उपचार / परीक्षण

RM-Helpline-Team

1 Comment
  1. Sushila Devi says

    Nikshay poshan yojna ka labh nahi Mel Raha hai

Leave A Reply

Your email address will not be published.