प्रधानमंत्री द्वारा बढ़ाया गया आशा, आंगनवाड़ी कर्मियों, सहायक, तथा स्वस्थ्य कर्मियों हेतु नया वेतन / मानदेय – पारिश्रमिक दर


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आशा, एएनएम और आंगनवाड़ी श्रमिकों व कर्मचारियों के पारिश्रमिक / मानदेय में ऐतिहासिक वृद्धि की घोषणा की है। घोषणा के अनुसार, केंद्र सरकार द्वारा आशा कर्मियों को दी जाने वाली नियमित प्रोत्साहन को दोगुना कर दिया जाएगा। सभी आशा श्रमिक और उनके सहायक अब प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और पीएम सुरक्षा बीमा योजना के तहत मुफ्त बीमा कवर का लाभ उठा सकते हैं। बढ़ा हुआ वेतन या पारिश्रमिक अक्टूबर 2018 के महीने से सभी के लिए प्रभावी होगा। देश भर में आशा, एएनएम और आंगनवाड़ी श्रमिकों को प्रोत्साहित करने के लिए यह एक अच्छा कदम है।

हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से लाखों आशा, आंगनवाड़ी और एएनएम (सहायक नर्स मिडवाइफ) कर्मियों के साथ बातचीत की है। इस बातचीत में प्रधानमंत्री ने आंगनवाड़ी श्रमिकों को मानदंड बढ़ने की भी घोषणा की तथा साथ ही, उन आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायक जो सामान्य अनुप्रयोग सॉफ्टवेयर (कॉमन एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर / आईसीडीएस-सीएएस) जैसी तकनीकों का उपयोग करते हैं उन्हें अतिरिक्त प्रोत्साहन भी देने की बात की। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि आशा, एएनएम और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता लंबे समय तक अपने वेतन बढ़ाने की मांग कर रहे थे। अब उनकी मांग जल्द ही पूरी होने जा रही है।

Prime Minister Announcement for Hike in Remuneration for ASHA, Anganwadi and Health Workers

‘आशा’ और ‘आंगनवाड़ी’ कार्यकर्ताओं के मानदेय में वृद्धि

आशा, एएनएम और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के पारिश्रमिक व वेतन को बढ़ाने के फैसले की महत्वपूर्ण विशेषताएँ और मुख्य तथ्य निम्नानुसार हैं:
⦉१⦊ आशा बहनें जो प्रोत्साहन राशि प्राप्त करते करती थी वो अब दोगुना हो गई है।
⦉२⦊ आशा कर्मियों और सहायकों को लगभग 4 लाख का मुफ्त बीमा कवरेज मिलेगा। इस 4 लाख बीमा कवर में प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के तहत 2 लाख बीमा कवरेज और पीएम सुरक्षा बीमा योजना के तहत 2 लाख बीमा राशि शामिल हैं। इसके अलावा, सभी आशा कर्मियों और उनके सहायकों को इस बीमा के लिए प्रीमियम राशि का भुगतान नहीं करना पड़ेगा केंद्र सरकार इस लागत को वहन करेगी।
⦉३⦊ इसके अलावा, आंगनवाड़ी श्रमिकों के लिए मानदंड में काफी वृद्धि हुई है:

  • जिन सभी आंगनवाड़ी श्रमिकों को अब तक 3000 रुपये मिलते थे, अब उन्हें 4500 रुपये मिलेगा।
  • इसी प्रकार, 2250 रुपये प्राप्त करने वाले श्रमिकों को अब 3500 रुपये मिलेंगे।
  • आंगनवाड़ी हेल्पर्स (सहायिका) को अब 1500 रुपये की पिछली राशि के बदले 2250 रुपये मिलेंगे।

⦉४⦊ प्रधानमंत्री ने यह भी घोषणा की कि आंगनवाड़ी श्रमिक और सहायक जो आधुनिक तकनीक जैसे कि सामान्य अनुप्रयोग सॉफ्टवेयर (आईसीडीएस-सीएएस) का उपयोग करते हैं, अब अतिरिक्त प्रोत्साहन प्राप्त करेंगे। आशा, एएनएम और आंगनवाड़ी श्रमिकों के प्रदर्शन के आधार पर ये प्रोत्साहन 250 रुपये से 500 रुपये तक प्रदान की जाएगी।

आशा-एएनएम और आंगनवाड़ी श्रमिकों के पारिश्रमिक में वृद्धि के लाभ:

प्रधानमंत्री इन आशा श्रमिकों, एएनएम और आंगनवाड़ी श्रमिकों को “अपने लाख हाथ” के रूप में संबोधित करते हुए कहा कि सरकार का प्राथमिक ध्यान गुणवत्ता “सभी के लिए स्वास्थ्य” सुनिश्चित करना है। नवजात शिशुओं की टीकाकरण प्रक्रिया और माताओं को उचित शिक्षा देना बड़े पैमाने पर किया जा रहा है।
प्रधान मंत्री मोदी ने मां और बच्चे दोनों को लाभ पहुंचाने के लिए उचित टीकाकरण पर जोर देते हुए कहा कि अब आशा, एएनएम और आंगनवाड़ी श्रमिकों की प्रशिक्षण प्रक्रिया अब नई तकनीक के परिचय के साथ सरलीकृत है। प्रधानमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पूरे देश से आशा कार्यकर्ता, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और एएनएम (सहायक नर्स मिडवाइफ) के रूप में तीनों टीमों के साथ बातचीत की।
उन्होंने एक साथ काम करने, अभिनव प्रौद्योगिकी का उपयोग करने और स्वास्थ्य और पोषण सेवाओं के वितरण में सुधार लाने और पोषण अभियान के लक्ष्य को प्राप्त करने के उनके  प्रयासों की सराहना की।

प्रधानमंत्री द्वारा वेतन वृद्धि घोषणा के बारे में और अधिक यहाँ पढ़ें

यहां हमने आशा-एएनएम और आंगनवाड़ी श्रमिकों के लिए पीएम मोदी के पारिश्रमिक / मानदेय के बारे में पूरा विवरण प्रदान किया। यदि आपके पास इस पोस्ट से संबंधित कोई प्रश्न है तो नीचे अपनी टिप्पणी सबमिट करने या हमारे टीम के सदस्यों से संपर्क करने में संकोच न करें। ReaderMaster.Com (हिंदी और अंग्रेजी में भारत का पहला विश्वकोष) को पढ़ने हेतु धन्यवाद।


महत्वपूर्ण सूचना बोर्ड

इस जानकारी पर सभी जानकारी दी गई है और www.readermaster.com वेबसाइट भारतीय कॉपीराइट अधिनियम 1957 – आईआरसीसी – आईटी सेल एक्ट के तहत आरक्षित है। व्यक्तिगत या संगठन लाभ के लिए इस पृष्ठ या वेबसाइट से जानकारी का उपयोग नियमों और विनियमन के तहत एक अवैध और दंडनीय अपराध है। इस पृष्ठ और वेबसाइट पर पूरी जानकारी विभिन्न स्रोतों से और विभाग के अधिकारियों की मदद से ली गई है। अगर आपको कोई लिंक या प्रक्रिया मिल रही है तो कृपया साइट व्यवस्थापक या हमारी हेल्पलाइन टीम से संपर्क करें। हमारा सुझाव है कि आप केवल विभागीय व्यक्ति से सहायता लें और सेवा से संबंधित सहायता के लिए किसी को भी कोई पैसा न दें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top