India's Largest Hindi Information Website

mohfw.nic.in Janani Suraksha Plan-Yojana Benefits & Information of Registration-जननी सुरक्षा योजना की जानकारी

जननी सुरक्षा योजना की जानकारी (Information Of Janani Suraksha Plan)

जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई) राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के तहत एक सुरक्षित मातृत्व हस्तक्षेप है। इस योजना की शुरुआत 2005 में की गई थी। यह गरीब गर्भवती महिलाओं के बीच संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देकर मातृ एवं नवजात मृत्यु दर को कम करने के उद्देश्य से लागू किया जा रहा है तथा उन महिलाओं को 1 हज़ार रूपये की आर्थिक मदद दी जाएगी।

बच्चे का जनम हॉस्पिटल अथवा प्रक्षिशित दाई द्वारा किया जाना चाहिए। इस योजना के तहत अप्रैल 2016 में इस योजन की राशि 1400 बढाकर 6 हज़ार रूपये कर दी गयी है। यह योजना सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों (यूटीएस) में कार्यान्वित की जा रही है। इस योजना के तहत रजिस्टर्ड सभी हिताधिकारी के पास एमसीएच कार्ड के साथ जननी सुरक्षा योजना कार्ड भी होना आवश्यक है।

इस योजना के तहत एक आशा तथा कोई अन्य यकीन वाले कार्यकर्ता द्वारा ए. एन. एम. सामान्य स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा अफसर की देख भाल में आवश्यक रूप से बच्चे के जन्म की व्यवस्था करना जरुरी है। इसके तहत गर्भवती महिला के गर्भावस्था के दौरान स्वास्थ्य जांच तथा बच्चे के जन्म के पश्चात निगरानी तथा देखभाल करने में मदद मिलती है।

योजना वर्ष 2001-02 के दौरान ग्रामीण विकास स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के मंत्रालय से स्थानांतरित किया गया था। एनएमबीएस रुपये की वित्तीय सहायता का प्रावधान है। 500 / – दो जीवित बच्चों के जन्म तक की गर्भवती महिलाओं को जो उम्र के 19 साल प्राप्त कर ली है और गरीबी रेखा के नीचे (बीपीएल) परिवारों के लिए संबंधित है, के जन्म के प्रति। जब जेएसवाई रुपये की वित्तीय सहायता शुरू किया गया था। 500 / -, जो समान रूप एनएमबीएस के तहत गरीबी रेखा से नीचे की गर्भवती महिलाओं के लिए देश भर में उपलब्ध था, राज्यों के वर्गीकरण पर तथा साथ ही है कि क्या लाभार्थी ग्रामीण / शहरी क्षेत्र से था आधारित सहायता के वर्गीकृत पैमाने द्वारा बदल दिया गया था।

राज्यों कम स्टेट्स प्रदर्शन तथा उच्च संस्थागत प्रसव होने के 25% या उससे कम प्रदर्शन करने वाले राज्यों (एलपीएस) तथा उन जो संस्थागत प्रसव की दर 25% से अधिक है, के रूप में वर्गीकृत किया गया के रूप में कहा गया था संस्थागत प्रसव की दर यानी राज्यों के आधार पर राज्यों के प्रदर्शन में वर्गीकृत किया गया है। उच्च प्रदर्शन वाले 8 राज्य है तथा उन 8 राज्यों के नाम इस प्रकार है :-

  • जम्मू & कश्मीर
    राजस्थान
    उत्तर प्रदेश
    असम
    बिहार
    उत्तराखंड
    ओडिशा
    मध्य प्रदेश
    झारखंड
    छत्तीसगढ़ आदि इन राज्यों को कम प्रदर्शन करने वाले राज्यों में भी बाटां गया है।

जननी सुरक्षा योजना के उद्देश्य (Purpose Of Janani Suraksha Yojana)

@:= इस योजना के तहत इस योजना का लाभ सभी वर्ग की महिलाओं को गैर सरकारी संसथान तथा सरकारी संस्थानों पर बच्चे का जन्म करवा सकते है।

@:= इस योजना के तहत आशा को 100 रूपये महिला के बेहतर तरीके के बच्चे का जन्म करवाने तथा 100 रूपये बच्चे के जन्म के बाद डी. पी. टी. के तीन टीके लगवाने के पश्चात देय है।

@:= इस योजना के तहत संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देकर माँ तथा नवजात बच्चे की मृत्यु दर कम करना है।

@:= इस योजना के तहत आशा द्वारा प्रतिफल के बदले जन्म देने वाली महिला को पंजीकरण ANC चेक उप T.T. तथा आयरन की गोलियां दी जाएंगी।

@:= इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे वाली महिला दो बच्चों का जन्म घर पर कराती है तो उसे 500 रूपये देय है।

@:= इस योजना के तहत यदि किसी महिला की बच्चे के जन्म के दौरान महिला या बच्चे की मृत्यु हो जाता है तो यह लाभ तब भी देय है।

@:= इस योजना के तहत ग्रामीण इलाकों में 1400 रूपये तथा शहरी इलाकों में 1 हज़ार रूपये का लाभ देय है।

@:= इस योजना के तहत परिवहन सुविधा सभी वर्गों की ग्रामीण बच्चे को जन्म देने वाली महिला को देय है।

जननी सुरक्षा योजना के लाभ (Benefit Of Janani Suraksha Scheme)

@:= इस योजना के तहत गर्भवती महिला को मुफ्त सेवा प्रदान की जाती है।

@:= इस योजना के तहत सभी गर्भवती महिलाओं एव नवजात बच्चों को इस योजन का लाभ प्राप्त हुआ है।

@:= इस योजना के तहत महिलाओं को मुफ्त दवाइयां दी जाती है।

@:= इस योजना के तहत इन लाभों से माता एवं नवजात शिशुओं की मृत्यु दर में कमी आएगी।

@:= इस योजना के तहत महिला के डिस्चार्ज होने के बाद देय राशि चेक द्वारा दी जाएगी।

@:= इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे वाले परिवार की महिला के लिए घर में बच्चें को जन्म होने पर 500 रूपये की राशि का भुगतान प्रभारी द्वारा 7 दिन में चेक द्वारा दिया जायेगा।

जननी सुरक्षा योजना की अधिक जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे।

यहाँ क्लिक करे :- http://www.mohfw.nic.in/

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.