India's Largest Hindi Information Website

[कुसुम योजना] किसान उर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाभियान स्कीम सौर पंप सब्सिडी के लिए | ऑनलाइन आवेदन पत्र | KUSUM Yojana 2018-19 in Hindi

[KUSUM Yojana] Kisan Urja Suraksha evam Utthaan Mahabhiyan Scheme for Solar Pump Subsidy | Online Application Form 2018-19 | Check Registration Process & PIB Official Notification

केंद्र सरकार (Central Government) कुसुम योजना 2018-19 (किसान उर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाभियान- Kisan Urja Suraksha evam Utthaan Mahabhiyan) के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित करने जा रही है। यह योजना मोदी सरकार की एक प्रमुख पहल में से एक है।  इस सौर ऊर्जा सब्सिडी योजना के तहत, सरकार कृषि/खेती के लिए सौर ऊर्जा संयंत्रों की स्थापना के लिए किसानों को कुल लागत का 60% सब्सिडी प्रदान करेगी। उम्मीदवार खेती के उद्देश्य और पंप और ट्यूब कुएं पाने के लिए कुसुम योजना (Kusum Yojana) के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

भारत में, किसानों को सिंचाई के लिए उपलब्ध पानी की कमी के कारण कई समस्याएं आती हैं। यह योजना किसानों को सौर ऊर्जा के प्रभावी उपयोग के लिए उपकरणों को स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित करेगी। कुसुम योजना उन राज्यों में किसानों के लिए फायदेमंद साबित होगी जो सूखे से प्रभावित होते हैं और इससे उनकी फसल को कम हानि होगी। इसे ध्यान में रखते हुए, केंद्र सरकार ने कुसुम योजना 2018-19 (KUSUM Scheme) लॉन्च की है। सरकार पहले चरण में किसानों को 17.5 लाख पंप मुहैया कराएगी। 2022 तक लक्षित 3 करोड़ सौर ऊर्जा संयंत्रों की स्थापना की कुल लागत 1.4 लाख करोड़ रुपये होगी, जिनमें से केंद्र सरकार 48,000 करोड़ रुपये (केंद्रीय बजट 2018-19 के अनुसार) प्रदान करेगी।

कुसुम योजना 2018-19 (KUSUM Yojana) के लिए आवेदन कैसे करें?

कुसुम योजना (Kusm Yojana) के तहत, केंद्र सरकार किसानो को अपनी जमीन पर पंप सेट और ट्यूब कुओं की स्थापना के लिए 60% सब्सिडी प्रदान करेगी। उदाहरण के लिए, यदि सौर पंप स्थापित करने की कुल लागत 1 लाख रुपये है, तो सरकार किसानों को सब्सिडी के रूप में 60,000 रुपये प्रदान करेगी। कृषि के लिए अन्य सौर ऊर्जा सब्सिडी योजनाओं की तरह, केंद्र सरकार जल्द ही इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन (Online Application) आमंत्रित करेगी।

यह एक नए समर्पित पोर्टल के माध्यम से किया जा सकता है जहां किसानों को इस सौर ऊर्जा सब्सिडी योजना (Solar Energy Subsidy Scheme) के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करने की आवश्यकता होगी। इस योजना के लिए आवेदन पत्र जमा करने की प्रक्रिया के बारे में अभी तक कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है, जैसे ही पंजीकरण से सम्बंधित कोई जानकारी मिलती है तो हम आपको सब्सिडी योजना का लाभ उठाने के लिए आवश्यक दस्तावेज़ों और अन्य प्रक्रियाओं की पूरी सूची के साथ यहां अपडेट करेंगे।

कुसुम योजना 2018-19 के तहत किसानों के लिए सब्सिडी (Subsidy for Farmers)-

सौर कृषि पंप सेट (Solar Farm Pump Set) स्थापित करने के लिए सभी किसानों को केंद्र सरकार से कुसुम योजना के तहत सब्सिडी मिल जाएगी। इस योजना के लिए किसानो को केवल 10% की अग्रिम लागत का भुगतान करना होगा। सभी नए कृषि पंप सेट मौजूदा पेट्रोल और डीजल पंप सेट को प्रतिस्थापित करेंगे। पंप और ट्यूब कुओं की स्थापना के लिए वितरण की लागत निम्नानुसार है:

केंद्र सरकार (Central Govt) सब्सिडी के रूप में कुल लागत का 60%
बैंक (Bank) किसानों को ऋण के रूप में कुल लागत का 30%
किसान (Farmer) कुल लागत का 10%

केंद्र सरकार ने अपने केंद्रीय बजट 2018-19 में 28,250 मेगावॉट की कुल ऊर्जा क्षमता उत्पन्न करने के लिए 1,40,000 करोड़ रुपये (1.4 ट्रिलियन) आवंटित किए हैं। डायरेक्ट बेनिफिट्स ट्रांसफर (DBT) के माध्यम से किसानों को सीधे उनके बैंक खाते में यह सब्सिडी दी जाएगी।

कुसुम योजना 2018-19 के तहत आय जनरेशन (Income Generation)-
  • अब किसान आसानी से कम से कम निवेश के साथ सौर ऊर्जा संयंत्र (Solar Power Plant) स्थापित कर सकते हैं और अपने कृषि उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए सूर्य ऊर्जा का उपयोग शुरू कर सकते हैं। इस नई योजना में किसानों को नए कृषि पंप देने, मौजूदा कृषि पंपों को सोलर करने और खेती के लिए ट्यूब कुएं भी प्रदान करना शामिल है।
  • भारतीय किसान कृषि प्रयोजनों के लिए बैंकों से ऋण लेते हैं। यदि किसान पर्याप्त मात्रा में फसलों का उत्पादन करने में असमर्थ हैं, तो उन्हें ऋण चुकौती के लिए पीड़ित होना पड़ता था। इसलिए, सरकार ने अपनी नई फसल के नुकसान को कम करने और अतिरिक्त आय अर्जित करने में मदद करने के लिए सौर पंप सेट और सौर ट्यूब कुएं (Solar Pump Sets & Solar Tube Wells) प्रदान करने के लिए इस नई योजना को लॉन्च किया है।
  • यह ऊर्जा भी बंजर भूमि के पुनरुद्धार के लिए उत्पन्न की जा सकती है जो आय उत्पादन के लिए नेतृत्व करेगी। इसके अलावा, किसान अतिरिक्त आय अर्जित करने के लिए डिस्काउंट में अपनी जेनरेट की गई बिजली बेच सकते हैं।

इस सौर ऊर्जा योजना (कुसुम योजना 2018-19 ) के बारे में अधिक जानकारी के लिए, पत्र सूचना कार्यालय (PIB) की आधिकारिक वेबसाइट में जाके अधिसूचना देखे। लिंक नीचे उल्लिखित है।

यहां क्लिक करें >> Click Here

नोट – कुसुम योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन जून महीने के अंत में आमंत्रित किये जाएगे। वैसे अभी तक इस योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया के बारे में ज्यादा जानकारी उपलब्ध नहीं है। जैसे ही किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाभियान (KUSUM) के बारे में आवेदन प्रक्रिया की जानकारी मिलेगी वैसे ही हम उसे यह अपडेट करेंगे।

उपयोगकर्ता, यहां हमने आपको सौर पंप सब्सिडी के लिए कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन पत्र 2018-19 (KUSUM Scheme for Solar Pump Subsidy Online Application Form 2018-19) के बारे में पूरी जानकारी प्रदान की है। यदि आपके पास इस लेख से संबंधित कोई प्रश्न है तो नीचे अपनी टिप्पणी सबमिट करें या इसे “अपना प्रश्न पूछें” अनुभाग पर छोड़ दें। हमारी वेबसाइट ReaderMaster.com (भारत की सबसे बड़ी ऑनलाइन विचार-विमर्श फोरम) में आने के लिए धन्यवाद, अधिक अपडेट के लिए बने रहें।

You might also like
2 Comments
  1. Anonymous says

    Kusum Yojna ke tahat mujhe bhi saur pump lagana hai. kaha avedan karna hoga…

  2. R.k. says

    Muje bhi lgana h

Leave A Reply

Your email address will not be published.