India's Largest Hindi Information Website

Kisan Karz Mafi Yojana 2019- किसान कर्ज माफी योजना मध्य प्रदेश

Kisan Karz Mafi Yojana 2019 Madhya Pradesh Complete Details | MP Farmer Loan Waiver Scheme | किसान कर्ज माफी योजना मध्य प्रदेश

Kisan Karz Mafi Yojana
Kisan Karz Mafi Yojana

Kisan Karz Mafi Yojana 2019 Madhya Pradesh: जैसे की आपको मालूम है की मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी है। कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। मुख्यमंत्री का कार्यभार सँभालते ही सीएम कमलनाथ ने सबसे पहले किसानों की कर्जमाफी वाली फाइल पर हस्ताक्षर किये। जैसे की कांग्रेस ने अपने चुनाव प्रचार में दावा किया था। मध्य प्रदेश में किसानों की कर्ज माफी का फैसला कांग्रेस सरकार की पहली कैबिनेट बैठक में हो सकता है।

हालांकि, किसान कर्ज माफी का प्रारुप क्या होगा ये बाद में पता चलेगा। किसान कर्ज माफी योजना (Kisan Karz Mafi Yojana) के अंतर्गत जून 2009 के बाद के कर्जदार किसानों को लाभ मिलेगा। बताया जा रहा है कि इससे लगभग 33 लाख किसानों को फायदा होगा। इससे लगभग 20 हजार करोड़ रुपये का वित्तीय भार सरकार पर आएगा। विदित है की चुनाव अभियान के दौरान कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने भाषण में कहा था कि जिस प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनेगी। उस प्रदेश में 10 दिन के अंदर किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। चुनाव के नतीजे आने के बाद, कांग्रेस की सरकार तीनों राज्यों क्रमशः मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान में बन गयी है।

किसान कर्ज माफी योजना मध्य प्रदेश का पूरा विवरण (Kisan Karz Mafi Yojana 2019 Madhya Pradesh Complete Details)

मुख्यमंत्री बनते हुए ही कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने भले ही किसानों का कर्ज माफ कर देने का आदेश जारी कर दिया हो। लेकिन अभी भी इसमें कई पेंच सामने आने वाले हैं। अभी केवल किसान कर्ज माफी (Farmer Loan Waiver) के लिए योजना बनाई जा रही है। कर्ज माफी के लिए नई सरकार जो पैमाना तैयार कर रही है। उसके अनुसार सरकार घोषणा तो तय समय में कर देगी। लेकिन इसकी पात्रता और मापदंड कर्ज माफी के लिए बनाई गई कमेटियां ही तय करेंगी कि किस किसान का कर्ज माफ होगा और किसका नहीं। ये कमेटियां राज्य स्तर से लेकर जिला स्तर तक गठित की जाएँगी। इनकी रिपोर्ट के बाद ही किसानों को कर्ज माफी के प्रमाणपत्र (Certificate) दिए जाएंगे। इस लेख में हम मध्य प्रदेश में किसान कर्ज माफी योजना से सम्बंधित सभी पहलुओं का विस्तार से वर्णन करेंगे।

मप्र में किसान कर्ज माफी योजना (Kisan Karz Mafi Yojana) कब शुरू होगी?

हालांकि, मप्र में किसान कर्ज माफी की कवायद चुनाव परिणाम आने के बाद से ही शुरू हो गई थी। राज्य सरकार के आला अधिकारियों ने मध्य प्रदेश के सभी जिलों से किसानों पर कितना कर्ज है, इसके आंकड़े मंगाना शुरू कर दिया था। कर्ज माफी के मॉडल के अध्ययन के लिए दो अधिकारी पंजाब और महाराष्ट्र से कर्ज माफी मॉडल (Loan Waiver Model) का अध्ययन कर भी आए हैं। कृषि और सहकारिता विभाग ने पंजाब, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र के मॉडल का अध्ययन कर रिपोर्ट तैयार की है। मुख्य सचिव बसंत प्रताप सिंह ने भी कृषि और सहकारिता विभाग (Agriculture & Cooperatives Dept) के अधिकारियों से इसकी तैयारी के बारे में पूछा है।

1. मध्य प्रदेश के किसानों पर सहकारी बैंक, राष्ट्रीयकृत बैंक, ग्रामीण विकास बैंक और निजी बैंकों का 70 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का कर्ज है।
2. इसमें 56 हजार करोड़ रुपये का कर्ज 41 लाख किसानों ने लिया है। वहीं, लगभग 15 हजार करोड़ रुपये डूबत कर्ज (NPA) है।
3. कर्ज माफी के लिए फिलहाल जिस फॉर्मूले पर मंथन हो रहा है, उसमें डूबत कर्ज को माफ करने के साथ नियमित कर्ज पर लगभग 25 हजार रुपये प्रोत्साहन दिया जाएगा।
Kisan Karz Mafi Yojana 2019 Madhya Pradesh (Order Letter)
Kisan Karz Mafi Yojana 2019 Madhya Pradesh (Order Letter)
मप्र किसान कर्ज माफी योजना (MP Farmer Loan Waiver Scheme) के अंतर्गत किन किसानों को फायदा होगा?

किसान ऋण/कर्ज माफी योजना के तहत कर्ज माफी जून 2009 के बाद के कर्जदार किसानों की होगी। इसमें लगभग 33 लाख किसानों को फायदा होगा। मप्र किसान कर्ज माफी योजना (MP Kisan Karz Mafi Yojana) की मुख्य विशेषताएं निम्न प्रकार से है:

  • इस योजना से राज्य सरकार पर लगभग 20 हजार करोड़ रुपये का वित्तीय भार आएगा।
  • मध्य प्रदेश के किसानों पर सहकारी बैंक, राष्ट्रीयकृत बैंक, ग्रामीण विकास बैंक और निजी बैंकों का 70 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का कर्ज है।
  • इसमें 56 हजार करोड़ रुपये का कर्ज 41 लाख किसानों ने लिया है।
  • वहीं, लगभग 15 हजार करोड़ रुपये डूबत कर्ज (NPA) है।
  • किसान कर्ज माफी के लिए फिलहाल जिस फॉर्मूले पर मंथन हो रहा है। उसमें डूबत कर्ज को माफ करने के साथ नियमित कर्ज पर लगभग 25 हजार रुपये प्रोत्साहन दिया जाएगा।

नोट – इस योजना के तहत सिर्फ खेती के लिए उठाए कर्ज पर ही माफी मिलेगी। किसानों द्वारा ट्रैक्टर व कुआं सहित अन्य उपकरणों के लिए लिया कर्ज माफी के दायरे में नहीं आएगा। इसमें भी यदि किसान ने दो या तीन बैंक से कर्ज ले रखा है, तो सिर्फ सहकारी बैंक का कर्ज माफ होगा। कर्ज माफी कुल दो लाख रुपये तक ही होगी। हालांकि, अधिकारियों का कहना है कि इस बारे में अंतिम निर्णय नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री के साथ होने वाली बैठक में होगा।

यह भी पढ़ें (Also Read): कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना मध्य प्रदेश (MP Krishak Sahakari Rin Mitra Yojana) & मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री कृषि समृद्धि योजना (MP Mukhyamantri Krishak Samridhi Yojana).

Readermaster Helpline Team

You might also like
1 Comment
  1. आरीफ पटेल says

    अभी तक किसानों का क़र्ज़ा माफ़ नहीं हूवा है हालत बहूत ख़राब है कब तक उनको भरोसा करवाये सर आप बताओ वरना मना कर दो

Leave A Reply

Your email address will not be published.