जवाहर गांव समृद्धि योजना: बिहार स्वर्णजयंती ग्राम स्वरोजगार योजना

Jawahar Gram Samridhi Yojana 2019-How to Apply for Bihar Swarnajayanti Gram Swarojgar Yojna | बिहार स्वर्णजयंती ग्राम स्वरोजगार योजना के लिए आवेदन कैसे करें

»»Ω∼जवाहर ग्राम समृद्धि योजना की जानकारी (Jawahar Gram Samridhi Yojana Details)∼Ω««

Jawahar Gram Samridhi Yojana 2019: जवाहर ग्राम समृद्धि योजना पिछली जवाहर रोज़गार योजना के विशाल संपादन, अच्छी तरह से संगठित तथा पुनर्व्यवस्था है तथा इस योजना को 1 अप्रैल 1999 को आरम्भ किया गया। इस योजना के तहत यह ग्रामीण निर्धनों के जीवनकाल की उत्तमता में बेहतर सुधार के लिए उन्हें ज्यादा से ज्यादा लाभदायक रोजगार मुहैया कराने के लिए डिजाइन किया गया है।
जवाहर ग्राम समृद्धि योजना की विशेषताएं (Features of Jawahar Gram Samridhi Yojana):

  • बिहार स्वर्णजयंती ग्राम स्वरोजगार योजना के तहत एससी तथा एसटी नागरिकों के लिए फंड का 22.5 % निर्धारित किया गया है
  • इस योजना के तहत 3 % सालाना आवंटन का इस्तेमाल विकलांगों के लिए बाधा रहित बुनियादी ढांचे की रचना के लिए किया जाएगा।
  • स्वर्णजयंती ग्राम स्वरोजगार योजना के तहत ग्राम पंचायत द्वारा सालाना काम को तैयार करने का एकमात्र अधिकार है तथा ग्राम सभा के अप्रूवल से इसका कार्यान्वयन है।
  • जवाहर गांव समृद्धि योजना के तहत इस प्रोग्राम में राज्य सरकार तथा केंद्र सरकार के बीच 25:75 % खर्च की साझेदारी के आधार पर केंद्र आयोजित योजना के रूप में जारी किया जायेगा।  
Φ⇒जवाहर ग्राम समृद्धि योजना के लक्ष्य (Jawahar Gram Samridhi Yojana Aims)-
  1. जवाहर ग्राम समृद्धि योजना के अंतर्गत यह प्रोग्राम ग्राम पंचायत स्तर पर पूरी तरीके से जारी किया जायेगा। तथा इस योजना को जिला परिषद, जिला ग्रामीण विकास एजेंसियां तथा गांवों की पंचायत के प्रत्यक्ष रूप से राज्य मिलान के साथ राशन भी जारी करेंगे।
  2. इस योजना के तहत ग्राम पंचायतों को प्रशासकीय निवेश तथा अचानकता पर एक साल में 7 हज़ार 500 रूपये या 7.5 % राशि जो भी न्यून हो तक निवेश करने की स्वीकृति है तथा टेक्नोलॉजी मशवरा लेने के लिए संपत्ति के रखरखाव पर 15 % राशि की लागत की जा सकती है।
  3. जवाहर गांव समृद्धि योजना के अंतर्गत ग्रामीण इलाकों में बेरोजगार निर्धनों के लिए निरंतर रोजगार तथा बेहतर रोजगार के अवसरों में बढ़ोतरी के लिए टिकाऊ परिसंपत्तियों सहित मांग-चालित ग्रामीण ढांचे की रचना करती है। तथा गांवों में रहने वाले नागररिकों अनुसूचित जनजाति तथा अनुसूचित जाति, शारीरिक रूप से विकलांग व्यक्तियों तथा गरीबी रेखा से नीचे (Below Poverty Line) रहने वाले परिवारों को प्राथमिकता दी जाती है।
  4. बिहार स्वर्णजयंती ग्राम स्वरोजगार योजना के तहत ग्राम पंचायतों के लिए पैसे गाँव की जंकसंख्या के आधार पर बाटें जायेंगे। तथा मौजूदा समय में 10 हज़ार से ज्यादा लोगों को इस योजना का फायदा हो चुका है। इस योजना के तहत जेडपी, डीआरडीए, तथा इंटरमीडिएट पंचायत समग्र मार्गदर्शन, देखरेख, तुक, आवधिक रिपोर्टिंग तथा निगरानी के लिए जिम्मेदार होंगे।
  5. स्वर्णजयंती ग्राम स्वरोजगार योजना के अंतर्गत राज्य सरकार मजदूरी को सही ढंग se व्यवस्थित कर देगी। इस योजना के लिए ग्राम सभाओं के अप्रूवल से ग्राम पंचायतों को 50 हज़ार रुपये तक के कामों को निष्पादित करने की पूर्ण शक्ति होगी। तथा ग्राम सभा की अनुमति लेने के पश्चात 50 हज़ार रुपये से ज्यादा के खर्च वाले कामों के लिए, ग्राम पंचायत शामिल  अधिकारियों के प्रौद्योगिक तथा प्रशासनिक अप्रूवल की डिमांड करेंगे।
Ω⇒जवाहर ग्राम समृद्धि योजना का लाभ लेने के लिए कहाँ सम्पर्क करे (Jawahar Gram Samridhi Yojana Online Application Process)-

Bihar Swarnajayanti Gram Swarojgar Yojna – जवाहर ग्राम समृद्धि योजना का लाभ लेने के आपको जिला ग्रामीण विकास एजेंसी, जिला कलेक्टर, खंड विकास अधिकारी, पंचायत सदस्यों तथा ग्राम प्रधान आदि के पास इस योजना से संबंधित जानकारी के लिए सम्पर्क कर सकते है।
जवाहर ग्राम समृद्धि योजना (Jawahar Gram Samridhi Yojana) की अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे:

यहाँ क्लिक करे >> Click Here

or

यहाँ क्लिक करे >> Click Here

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री द्वारा शुरू योजनाओं की सूची 2019-20 PDF

RH-Helpline-Team
RH-Helpline-Team

Leave A Reply

Your email address will not be published.