India's Largest Hindi Information Website

[J&K] जम्मू-कश्मीर आयुष्मान भारत/पीएम जन आरोग्य योजना

Jammu-Kashmir Ayushman Bharat & PM Jan Arogya Yojana | J&K Health Insurance Scheme In Hindi | जम्मू कश्मीर स्वास्थ्य बीमा के तहत 5 लाख का मुफ्त इलाज

Jammu-Kashmir-Ayushman-Bharat-Yojana-In-Hindi
Jammu-Kashmir-Ayushman-Bharat-Yojana-In-Hindi

Jammu-Kashmir Ayushman Bharat & PM Jan Arogya Yojana 2019-20: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको जम्मू और कश्मीर राज्य की एक नयी स्वास्थ्य बीमा योजना के बारे में जानकारी देंगे। जम्मू कश्मीर सरकार ने 1 दिसंबर 2018 को आयुष्मान भारत के तहत पीएम जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY) को लॉन्च किया था। जिससे जम्मू-कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश में PM-JAY स्वास्थ्य बीमा योजना से लगभग 31 लाख निवासियों को सीधा-सीधा लाभ मिला है। आयुष्मान भारत- प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के आधिकारिक लॉन्च को चिह्नित करने के लिए, राज्यपाल सत्यापल मालिक ने वार्षिक स्वास्थ्य कवरेज सुविधा का लाभ उठाने के लिए 10 लाभार्थियों के बीच सुनहरे कार्ड (Golden Card) वितरित किए थे।

आयुष्मान भारत योजना या प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना से गरीब और कमजोर वर्ग के परिवार किसी भी पैनल वाले अस्पताल में कैशलेस और पेपरलेस स्वास्थ्य सुविधाएं ले सकते हैं। और देश के निजी या सरकारी अस्पतालों में चिकित्सा या इलाज प्राप्त कर सकते हैं। पीएम जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY) में राज्य सरकार द्वारा प्रति परिवार को 5 लाख रूपये तक का स्वास्थ्य बीमा कवर दिया जाता है। इस आर्टिकल में हम आपको Jammu-Kashmir Ayushman Bharat & PM Jan Arogya Yojana के बारे में पूर्ण जानकारी प्रदान कर रहे हैं। कृपया इसके लिए पूरा लेख अंत तक ध्यान से पढ़ें।

जम्मू-कश्मीर आयुष्मान भारत/पीएम जन आरोग्य योजना

J&K Ayushman Bharat/PM Jan Arogya Yojana – जम्मू और कश्मीर में 126 सार्वजनिक, 29 निजी अस्पताल है जिनकी कुल संख्या 155 है। जो राज्य सरकार द्वारा आयुष्मान भारत और प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत सूचीबद्ध किए गए हैं। जहां पर जाकर लाभार्थी परिवार 5 लाख तक का मुफ्त ईलाज ले सकते हैं। इस सरकारी योजना का उद्देश्य पात्र लाभार्थियों को कैशलेस और मुफ्त स्वास्थ्य लाभ प्रदान करना है। सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना (SECC 2011) के अनुसार, जम्मू-कश्मीर के 6.30 लाख गरीब और कमजोर परिवार इसके हकदार हैं।

  1. इस अवसर पर, यह भी बताया गया कि 14 करोड़ रुपये के दावों का निपटान पहले ही हो चुका है। और सरकार इस योजना के तहत अधिक पंजीकरण करवा रही है।
  2. जम्मू-कश्मीर के लोगों ने बड़े पैमाने पर आयुष्मान भारत-पीएम जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY) को अपनाकर सरकारी योजनाओं के प्रति अपना सकारात्मक रुख व्यक्त किया है।
  3. जैसा की अभी हाल ही में धारा 370 और 35A हटाई गई है और सरकार को लग रहा था की लोगों के मन में गुस्सा और आक्रोश होगा।
  4. जिससे प्रदेश के नागरिक इसे नहीं अपनाएँगे पर ऐसा नहीं है लोगों ने केंद्र सरकार के इस फैसले का स्वागत किया और सरकारी योजनाओं में अपना पंजीकरण कराया।
  5. AB-PMJAY के तहत जम्मू और कश्मीर सबसे अधिक गोल्डन कार्ड वितरित करने वाला देश का पहला केंद्र-शासित प्रदेश बन गया है।

Jammu-Kashmir Ayushman Bharat/PM Jan Arogya Yojana की मुख्य विशेषताएं-
  • आयुष्मान भारत (राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन) योजना के तहत प्रति परिवार 5 लाख प्रति वर्ष के हिसाब से चिकित्सा दी जाएगी।
  • लाभार्थी निजी और सार्वजनिक दोनों निजी अस्पतालों में लाभ उठा सकते हैं।
  • इस योजना की एक प्रमुख विशेषता यह है कि पूरे देश में लाभ पोर्टेबल हैं। इसका मतलब है कि लाभार्थी देश भर में कहीं भी इसका लाभ ले सकता है।
  • केंद्र सरकार एक एस्क्रौ खाते के माध्यम से आयुष्मान भारत खाते से धन हस्तांतरित करती है।

इसके अलावा केंद्र सरकार ने हाल ही में जम्मू-कश्मीर में 85+ लोक कल्याणकारी योजनाओं को शुरू किया था। जिसकी जानकारी आप नीचे दिये गए लिंक पर क्लिक करके देख सकते हैं। धन्यवाद-

इसे भी पढ़ें: केंद्रीय सरकार ने जम्मू-कश्मीर में शुरू की 85 विकास योजनाएं

Jammu-Kashmir Ayushman Bharat Yojana Online Registration

दोस्तों, यहाँ हमने आपको जम्मू-कश्मीर आयुष्मान भारत/पीएम जन आरोग्य योजना (Jammu-Kashmir Ayushman Bharat & PM Jan Arogya Yojana 2019-20) के बारे में पूरी जानकारी प्रदान कर दी है। आशा करते है कि आपको यह जानकारी पसंद आयी होगी। अगर आपको इस पोस्ट से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना है तो नीचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हो। हम आपकी पूरी सहायता करेंगे। हमारी वेबसाइट www.readermaster.com में आने के लिए धन्यवाद, अधिक अपडेट के लिए बने रहें।

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.