गृह मंत्रालय द्वारा शुरू की गई ट्विटर सेवा की जानकारी

||गृह मंत्रालय द्वारा शुरू की गई ट्विटर सेवा की जानकारी||
||(Information About Twitter Service by Home Ministry)||

गृह मंत्रालय शीघ्र ही ट्विटर सेवा का शुभारंभ करेंगे। ट्विटर सेवा को लोगों की शिकायतों को अलग अलग सामाजिक मीडिया के ज़रिये से प्रसारित किया गया है।
इस योजना के तहत मंत्रालय संबन्धित डिपार्टमेंट से तथा प्रभाग के ज़रिये से उनको बताता है। तथा उन पर क़ानूनी कार्यवाही करता है।
इस योजना के तहत ट्विटर सेवा को भारतीय तथा विदेशों में रहने वाले भारतियों के पासपोर्ट तथा विदेशी नीति के मामलों से जुडी शिकायतों का निवारण करने के लिए विदेश मंत्रालय इस सेवा को शुरू कर रहा है।
इस योजना के तहत केंद्रीय गृह सचिव राजीव महर्षि ने ट्विटर सेवा के सॉफ्टवेर के साथ मंत्रालय के लिए क्रियाविधि शिकायत समाधान बनाने के प्रस्ताव पर चर्चा करने के लिए राहिल खुर्शीद से मुलाकात की जो की दक्षिण पूर्व एशिया तथा दक्षिण एशिया के ट्विटर सेवा प्रमुख है।
इस योजना के अंतर्गत गृह मंत्रालय के एक अफसर के अनुसार मंत्रालय अपने अलग अलग डिपार्टमेंट के मामलों के साथ मंत्रालय सार्वजानिक सेवाओं से संबंधित कुछ खोजशब्द की पहचान करेगा।
इसके तहत प्रत्येक बार एक व्यक्ति एक शिकायत या खोजशब्द से संबंधित शिकायत को ट्विट्ट करेगा। जो की गृह मंत्रालय के एक सर्वर पर प्रतिबिंबित होगी।
इस योजना के तहत जहाँ इन शिकायतों पर क़ानूनी कार्यवाही होगी तथा संबंधित डिपार्टमेंट को उनके समाधान के लिए कार्यविधि शुरू करने तथा उसके बाद ट्विटर पर शिकायत करने वाले को अवगत किया जायेगा।
इस योजना के तहत एक अफसर ने कहा की खोजशब्द का सावधानी से चयन किया जायेगा तथा शुरुआत में एक कम से कम आरक्षण निश्चित करना है। की गृह मंत्रालय अपनी ट्विटर सेवा के अंतर्गत मामलों से संबंधित शिकायत तथा फालतू की शिकायत पर बिना समझे अपने डोमेन से कोई क़ानूनी कार्यवाही न करे।
इस योजना के तहत गृह मंत्रालय ने के अफसर से कहाँ की संबंधित ऑफिसर्स को नागरिकों की प्रॉब्लम तथा कठिनाइयों का समाधान करने के लिए एक वास्तविक वक्त के आधार पर बाटा जायेगा।
इस योजना के तहत गृह मंत्रालय लगभग 10 ट्विटर को बेहतर तरीके से संभल रहा है। जिसके तहत दो में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह तथा दूसरा राज्य के केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू तथा हंसराज गंगाराम अहिल युक्त है।

आप सरकारी अकाउंट को नीचे दिए हुए लिंक पर फॉलो कर सकते हैं:
यहाँ क्लिक करें ==> http://www.mea.gov.in/mea-on-twitter.htm

Leave A Reply

Your email address will not be published.