India's Largest Hindi Information Website

छत्तीसगढ़ में गरीब स्कूल छात्राओं हेतु सरस्वती साइकिल योजना की जानकारी तथा पंजीकरण-रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया व योग्यता

eduportal.cg.nic.in Saraswati Cycle Yojana-Scheme Chhattisgarh Government Online Registration BPL Poor School Girls Panjikaran Education Department

 सरस्वती साइकिल योजना की जानकारी छत्तीसगढ़ ¶

Information About Saraswati Cycle Scheme in These Chhattisgarh

सरस्वती साइकिल योजना की शुरुआत छत्तीसगढ़ सरकार ने की है। इस योजना में छत्तीसगढ़ सरकार विद्यार्थियों को निःशुल्क साइकिल देकर उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित किया जायेगा। इस योजना के तहत विद्यालय छोड़ने वाले विद्यार्थियों के अनुपात में इस वृद्धि के पीछे मुख्य वजह गरीबी, ब्याज तथा आस पास विद्यालयों का अभाव है।

इस योजना के तहत अनुसूचित जनजाति तथा अनुसूचित जाति से संबंधित विद्यार्थी विद्यालय छोड़ने वाले बच्चों के बीच बड़े होते है। इस योजना के तहत विद्यालय छोड़ने वाले छात्रों में ज्यादा बच्चे नौकरियों के लिए विद्यालय छोड़ते है। इस योजना के तहत दूसरी तरफ देखा जाये तो गरीब परिवार की बेटियों का विवाह हो जाता है या उन्हें कार्य करने के की वजह से स्कूल छोड़ना पड़ता है।

इस योजना के तहत उन लड़कियों को दूर स्कूल होने तथा गरीबी के कारण विद्यालय छोड़ना पड़ता है। इस योजना के तहत विद्यालय छोड़ने की दर में कमी करने के लिए राज्य सरकार लड़कियों को साइकिल देने का निर्णय लिया है। इसीलिए इस योजना को शुरू किया गया है।

इस योजना के तहत राज्य सरकार ने यही सोचा की साइकिल देना ही सही उपाय है। जिसके की छात्राओं को स्कूली पढाई को जारी रखने में सहायता मिलेगी। इस योजना के तहत लड़कियों को साइकिल मिलने से स्कूल दूर होने से लडकिया स्कूल जा सकेंगी। तथा सरकार ने यह भी कहा की अब हर गांव में स्कूल होगा।

¶¶ सरस्वती साइकिल योजना की विशेषताएं 

¶¶ Features of Saraswati Cycle Plan ¶¶

  • सरस्वती साइकिल योजना के तहत मुफ्त में साइकिल लेने के लिए लड़कियों का आठवीं पास होना चाहियें।
  • इस योजना के तहत छत्तीसगढ़ राज्य की जिला शिक्षा अधिकारी विद्यार्थियों को मुफ्त में साइकिल देने के लिए जिम्मेदार है।
  • इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे (Below Poverty Line), अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के परिवार की बालिकाओं को ही इस योजना के अंतर्गत मुफ्त में साइकिल प्राप्त होगी।
  • इस योजना के तहत बालिकाओं की संख्या 13 हज़ार है।
  • इस योजना के तहत रजिस्टर्ड विद्यार्थियों की संख्या जांजगीर-चंपा जिले में 7 हज़ार 500 है।

इस योजना के तहत छत्तीसगढ़ राज्य के आदिवासी नागरिकों की उन्नति करने के लिए तथा विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करने के लिए शैक्षिक डिपार्टमेंट ने आदिवासी जाति कल्याण डिपार्टमेंट के साथ मिलकर आठवीं क्लास के बाद उच्च शिक्षा को जारी रखने के लिए बालिका तथा बालक दोने के लिए मुफ्त में साइकिल उपलब्ध करा रही है।

इस योजना के तहत बालिकाओं को कम से कम 12th क्लास तक शिक्षा दी जा सकेगी। जिसके तहत सरकार ने अनुसूचित जनजाति तथा अनुसूचित जाति की बालिकाओं को जो 9th क्लास में है या जो 18 वर्ष से ज्यादा की है। सरकार उनको मुफ्त में साइकिल उपलब्ध करा रही है। इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे (Below Poverty Line) परिवार की कन्याओं को भी निःशुल्क साइकिल उपलब्ध होगी।

¶¶ सरस्वती साइकिल योजना के फायदे ¶¶

¶¶ Benefits of Saraswati Cycle Plan ¶¶ 

सरस्वती साइकिल योजना के तहत छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा उठाये गए शिक्षात्मक कदमों के परिणाम के रूप में विद्यालय छोड़ने वाले विद्यार्थियों के % में काफी मात्रा में कमी आयी है। इस योजना के तहत छत्तीसगढ़ राज्य में ग्रामीण महिलाओं का साक्षरता % भारत में औसत साक्षरता दर में बढ़ोतरी हो रही है। इस योजना के तहत हुए जनगणना के आधार से पता चलता है की महिला साक्षरता दर में लगभग 10 % की बढ़ोतरी हुए है। इससे देश तथा महिलाओं को काफी फायदा हुआ है।

सरस्वती साइकिल योजना के बारे में अधिक जानकारी के  लिए नीचे  दी  गई  वेबसाइट पर क्लिक  करे:
यहाँ क्लिक करे ===> http://eduportal.cg.nic.in/Schemes/Cycle_Yojna.aspx
You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.