[DAY] दीनदयाल अंत्योदय योजना 2020 | राष्ट्रीय आजीविका मिशन

Deendayal Antyodaya Yojana 2020 In Hindi | National Livelihood Mission Online Application Form | दीनदयाल अंत्योदय लोन योजना ऑनलाइन आवेदन फॉर्म PDF

Deendayal-Antyodaya-Yojana-DAY-In-Hindi
Deendayal-Antyodaya-Yojana-DAY-In-Hindi

Deendayal Antyodaya Yojana 2020-: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको इस लेख के माध्यम से “दीनदयाल अंत्योदय योजना (राष्ट्रीय आजीविका मिशन)” की पूरी जानकारी देंगे। भारत सरकार के द्वारा देश के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के गरीब नागरिकों को स्वरोजगार और कुशल मजदूरी रोजगार जैसी सुविधाएँ उपलब्ध कराने के लिए शुरुआत की गई है। अंत्योदय योजना के तहत, कौशल विकास और गरीबी के आजीविका के अवसरों में वृद्धि करके, गरीब लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान किये जायेंगे। इस योजना को दो भागों मे बांटकर राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन (NULM) और राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (NRLM) की मदद से सभी गरीब लोगों तक इस योजना का लाभ दिया जाएगा।

जैसा कि हम सभी को विदित है कि देश के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के गरीब लोगों जो आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण मजदूरी करके जीवन-यापन कर रहे हैं। जिसके कारण कई लोगों के पास आय का कोई स्थिर साधन तक नहीं है। इन्हीं समस्याओं का समाधान करने के लिए केंद्र सरकार ने गरीब परिवारों को आर्थिक स्थिति को दुरस्त और जोखिम को कम करने के लिए “दीनदयाल अंत्योदय योजना 2020 (DAY)” की शुरुआत की है। इस योजना के अंतर्गत लाभप्रद स्वरोजगार और कुशल मजदूरी रोजगार के अवसर प्रदान किये जायेंगे। नीचे हम आपको दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना (Deendayal Upadhyaya Antyodaya Yojana) की पूरी जानकारी प्रदान कर रहे हैं। कृपया इस आर्टिकल को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें।

दीनदयाल अंत्योदय योजना (राष्ट्रीय आजीविका मिशन)

Deendayal Antyodaya Yojana (National Livelihood Mission) – दीनदयाल अंत्योदय योजना की सुविधाएँ को आसानी से लोगों तक पहुंचाने के लिए इस योजना को दो भागों मे बाटा गया है। पहला ग्रामीण भारत के लिए राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (NRLM) और दुसरा शहरी भारत के लिए राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन (NULM) के रूप में बांटा गया है। अंत्योदय लोन योजना को शहरी क्षेत्रों को आवास और शहरी गरीबी उन्मूलन मंत्रालय (HUPA) के द्वारा लागु किया गया है। वही ग्रामीण क्षेत्रों मे ग्रामीण विकास मंत्रालय (MoRD) को लागू किया गया है। यदि आप भी दीनदयाल अंत्योदय योजना के लिए पात्र हैं तो आज ही आवेदन करके इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। लाभ प्राप्त करने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा, जिसकी पूरी जानकारी नीचे खंड में दी गयी है:

योजना का नाम  दीनदयाल अंत्योदय योजना (DAY)
किसके अंतर्गत  राष्ट्रीय आजीविका मिशन
लॉन्च किया गया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
प्रारंभिक वर्ष  20 जनवरी 2015
उद्देश्य  गरीब लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान करना
घटक  राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन / राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन
सम्बंधित विभाग / मंत्रालय  आवास और शहरी गरीबी उपशमन मंत्रालय
डीएवाई-एनयूएलएम योजना http://nulm.gov.in/
आधिकारिक वेबसाइट https://aajeevika.gov.in/
राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (NRLM) क्या है?

What is National Rural Livelihood Mission (NRLM) – राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत, ग्रामीण क्षेत्रों में सामुदायिक संस्थानों के माध्यम से गरीब लोगों को आजीविका के विभिन्न स्रोत प्रदान करना है। इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों के लगभग 10 लाख लोगों को प्रशिक्षित किया जाएगा। राज्यों के सहयोग से केंद्र प्रायोजित कार्यक्रम लागू किया गया है। यह ग्रामीण आजीविका मिशन 2011 में शुरू किया गया था।

Deendayal-Antyodaya-Yojana-DAY-NULM

Deendayal Antyodaya Yojana- राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन 29 राज्यों के 586 जिलों और 5 केंद्र शासित प्रदेशों के तहत 4,459 ब्लॉकों में लागू किया गया है। कुछ वित्तीय वर्षों में 1.28 लाख ग्रामीण युवाओं को प्रशिक्षण प्रदान किया गया है और इनमें से 69,320 युवाओं को बेहतर मजदूरी वाले स्थानों में रोजगार मिला चूका है।

इसे भी देखें: स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना ऑनलाइन आवेदन करें

राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन (NULM) क्या है?

What is the National Urban Livelihood Mission (NULM) – राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के तहत, शहरी क्षेत्रों में प्रशिक्षण केंद्र, एसएचजी पदोन्नति, और बेघर लोगों को स्थायी आश्रय दिया जायेगा। इसका मतलब यह है कि निजी और सामूहिक सूक्ष्म निर्माण शहरों के लिए बेघर और सड़क के सामने कचरा बीनने वालों गरीब लोगों के लिए घरों का निर्माण, रोजगार के अवसरों और उपायों को सरकार द्वारा उपलब्ध कराया जाएगा। जिसके कारण उनकी आय में वृद्धि हो सके और वे भी अपना जीवन-यापन आराम से कर सके।

इस राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन में शहरी क्षेत्रों के लिए, दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना (Deendayal Antyodaya Yojana) के तहत, सभी 4041 शहरों और कस्बों को कवर करते हुए, पूरी शहरी आबादी को कवर किया जायेगा।

इसे भी पढ़ें: एक राष्ट्र एक राशन (वन नेशन वन राशन कार्ड) योजना क्या है

Deendayal Antyodaya Yojana की मुख्य विशेषताएं-
  • राष्ट्रीय आजीविका मिशन 2020 का उद्देश्य गरीब नागरिकों के लिए रोजगार के नए अवसर पैदा करना है।
  • भारत सरकार द्वारा इस योजना के लिए 500 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।
  • दीनदयाल अंत्योदय योजना के तहत, J&K और उत्तर पूर्व के सभी गरीब लोगों को योजना के लिए 18 हजार रुपये मिलते हैं।
  • इस योजना के तहत युवाओं को कुशल बनाकर आय बढ़ाने के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है।
  • अंत्योदय योजना के तहत, बेघर नागरिकों को रहने के लिए घर की व्यवस्था की जाती है।
  • दीनदयाल अंत्योदय योजना 2020 के तहत प्लेसमेंट और कौशल प्रशिक्षण के माध्यम से रोजगार के लिए 15 हजार दिए जाते हैं।
  • राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन ब्याज भुगतान में महिला स्वयं सहायता समूहों (SHGs) को वित्तीय सहायता प्रदान करता है।
  • सरकार की ओर से प्रत्येक समूह को 10,000 रुपये का प्रारंभिक समर्थन दिया जाएगा और पंजीकृत क्षेत्रों में स्तर संघों को 50,000 रुपये प्रदान किए जायेंगे।
  • सूक्ष्म उद्यमों और समूह उद्यमों की स्थापना के जरिए स्व-रोजगार को बढ़ावा दिया जाएगा। इसमें व्यक्तिगत परियोजनाओं के लिए 2 लाख रुपयों की ब्याज सब्सिडी औऱ समूह उद्यमों पर 10 लाख रुपयों की ब्याज सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन की प्राथमिकताएं-
  • कृषि आजीविका को बढ़ावा देना
  • गैर-कृषि आजीविका को बढ़ावा देना
  • ग्रामीण हाट की स्थापना
  • ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान
  • औपचारिक वित्तीय संस्थानों में ग्रामीण गरीबों की पहुंच सुनिश्चित करना है।

कृपया ध्यान दे – Deendayal Antyodaya Yojana का लक्ष्य शहरी गरीब परिवारों कि गरीबी और जोखिम को कम करने के लिए उन्हें लाभकारी स्वरोजगार और कुशल मजदूरी रोजगार के अवसर का उपयोग करने में सक्षम करना है। जिसके परिणामस्वरूप मजबूत जमीनी स्तर के निर्माण से उनकी आजीविका में स्थायी आधार पर सराहनीय सुधार हो सके। इस योजना का लक्ष्य चरणबद्ध तरीके से शहरी बेघरों हेतु आवश्यक सेवाओं से लैस आश्रय प्रदान करना भी होगा।

इसे भी पढ़ें: आजीविका ग्रामीण एक्सप्रेस योजना 2020 | अंत्योदय लोन योजना

दीनदयाल अंत्योदय योजना के लिए पात्रता और दस्तावेज-
  1. आवेदक को भारत का निवासी होना अनिवार्य है।
  2. इसके साथ ही लाभार्थी आवेदक गरीब होना चाहिए।
  3. ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के गरीब लोग इस योजना में शामिल हो सकते हैं।
  4. साथ ही Deendayal Antyodaya Yojana हेतु निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होगा:
पासपोर्ट-साइज फोटो आधार कार्ड
पहचान पत्र आवास प्रामाण पत्र
वोटर आई कार्ड मोबाइल नंबर
Deendayal Antyodaya Yojana 2020 में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

जो भी इच्छुक और पात्र ग्रामीण और शहरी क्षेत्र के नागरिक इस दीनदयाल अंत्योदय योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं। वे सभी नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करके ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं:

  1. सबसे पहले, आपको दीनदयाल अंत्योदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://aajeevika.gov.in/ पर जाना होगा।
  2. वेब होमपेज पर ‘Login’ का ऑप्शन दिखेगा, जिस पर आपको क्लिक करना होगा।

    Deendayal-Antyodaya-Yojana-NRLM
    Deendayal-Antyodaya-Yojana-NRLM
  3. लॉग-इन पेज पर जाने के बाद, ‘Register’ बटन पर क्लिक करें।

    Deendayal-Antyodaya-Yojana-Online-Registration-Login
    Deendayal-Antyodaya-Yojana-Online-Registration-Login
  4. जिसके बाद, आपके सामने अंत्योदय योजना का रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा।
  5. आपको इस पंजीकरण फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे- यूजर नेम, ईमेल एड्रेस, पासवर्ड, मोबाइल नंबर आदि भरना है।
  6. सभी जानकारी भरने के बाद, ‘Create New Account’ टैब पर क्लिक कर दें।
  7. इसके बाद, आपको आप पोर्टल में ‘Login’ करके रोजगार (नौकरी) के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  8. इसी तरह से फिर आप आजीविका ग्रामीण एक्सप्रेस योजना के तहत दिए गए प्रोत्साहन के लिए आवेदन भी कर सकते हैं।
दीनदयाल अंत्योदय योजना संपर्क विवरण और हेल्पलाइन-
  • Deendayal Antyodaya Yojana – राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (DAY-NRLM),
  • ग्रामीण विकास मंत्रालय – भारत सरकार,
  • 7 वीं मंजिल, एनडीसीसी बिल्डिंग -II, जय सिंह रोड, नई दिल्ली (110-001)
  • फोन नंबर: (011) 2346-1708
नोट – ग्रामीण विकास मंत्रालय ने वास्तविक समय में और नियमित रूप से Deendayal Antyodaya Yojana की प्रगति की निगरानी के उद्देश्य से ऑनलाइन वेब आधारित प्रबंधन सूचना प्रणाली (MIS) विकसित किया था। एमआईएस प्रशिक्षण प्रदाताओं, प्रमाणन एजेंसियों, बैंकों और संसाधन संगठनों जैसे हितधारकों को भी सीधे आवश्यक जानकारी प्राप्त करने के लिए सक्षम बनाता है। जिसे निगरानी और अन्य उद्देश्यों और योजना की प्रगति को ट्रैक करने के लिए शहरी स्थानीय निकायों, राज्यों और HUPA मंत्रालय द्वारा भी संचालित किया जा सकता है।
RM-Helpline-Team
1 Comment
  1. Ayaz ansari says

    Ayaz ansari murgi pottri form kanpur alumandip
    suru karna chate hai

    meri sahayta ki jaay mahan daya hogi mujhe 500000 modi sarkar

Leave A Reply

Your email address will not be published.