प्रवासी मजदूर किफायती किराया आवास योजना की पूरी जानकारी

Affordable-Rental-Housing-Scheme-In-Hindi
Affordable-Rental-Housing-Scheme-In-Hindi

Migrant Workers Affordable Rental Housing Scheme 2020-: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको इस लेख के माध्यम से “प्रवासी मजदूर किफायती किराया आवास योजना” के बारे में पूरी जानकारी देंगे। अभी हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने देश के नाम संबोधन में देशवासियों के लिए 20 लाख करोड़ रूपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा की है। इस आर्थिक पैकेज को ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ के तहत शुरू किया गया है। जिसकी जानकारी पिछले दो दिनों से वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी द्वारा पेश की जा रही है। इस कोरोना स्पेशल पैकेज के पहले दिन एमएसएमई उद्योगों के लिए बजट पेश किया गया और दूसरे दिन किसानों, प्रवासियों एवं गरीबों के हित के लिए कई सारे फैसले लिए गये। जिन्हें इस COVID-19 के चलते सबसे ज्यादा परेशानी झेलनी पड़ रही है।

प्रवासी मजदूरों एवं शहर में रहने वाले गरीबों के लिए वित्त मंत्री द्वारा ‘अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग स्कीम’ को लाने की घोषणा की गई हैं। यह स्कीम प्रधानमंत्री जी की पीएम आवास योजना (PMAY) के तहत संचालित होगी। इस किफायती किराया आवास योजना के तहत मोदी सरकार गरीबों और प्रवासी मजदूरों को किफायती दाम पर घर उपलब्ध कराएगी। नीचे हम आपको Migrant Workers Affordable Rental Housing Scheme In Hindi | Pravasi Majdur Awas Yojana | केंद्र सरकार द्वारा प्रवासी मजदूरों के लिए किफायती दाम पर घर की पूरी जानकारी प्रदान कर रहे हैं। कृपया इसके लिए इस आर्टिकल को अंत तक ध्यान से पढ़ें।

प्रवासी मजदूर किफायती किराया आवास योजना की पूरी जानकारी

Migrant Workers Affordable Rental Housing Scheme Details – वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने प्रवासी मजदूर किफायती किराया आवास योजना या अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग स्कीम को ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ के अंतर्गत शुरू करने की घोषणा की है। अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग स्कीम के तहत सरकार गरीबों और प्रवासी मजदूरों को किफायती दाम पर घर उपलब्ध कराएगी। जैसे कि आपको विदित होगा कि कोरोना महामारी के चलते सबसे ज्यादा परेशानी प्रवासी मजदूर/श्रमिक/कामगार को हुए है। अब इस योजना के शुरू होने से उन्हें जरूर थोड़ी राहत मिलेगी। आइये नीचे जानते है इस योजना के बारे में विस्तार से:

योजना का नाम  किफायती किराया आवास योजना
प्रकार  राज्य स्तरीय / केंद्र स्तरीय
घोषणा की तारीख  14 मई 2020
घोषणा की गई  वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी द्वारा
लाभार्थी  प्रवासी मजदूर एवं शहरी गरीब नागरिक
संबंधित विभाग / मंत्रालय  आवास एवं शहरी मंत्रालय
आधिकारिक वेबसाइट https://pmayuclap.gov.in/
किस योजना के अंतर्गत  पीएम आवास योजना (PMAY)
किफायती किराया आवास योजना की मुख्य विशेषताएं-

Key Features of Affordable Rental Housing Scheme – इस अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग स्कीम को शुरू करने का केंद्र सरकार का मुख्य उद्देश्य बाहर से आने वाले प्रवासी मजदूरों को रहने के लिए घर प्रदान करना है।

  1. अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग स्कीम (ARHS) के तहत लाभार्थियों को सस्ते दामों में घर प्रदान किये जायेंगे, साथ ही इनसे इसके लिए बहुत ही कम किराया वसूला जाएगा।
  2. प्रवासी श्रमिक किफायती किराया आवास योजना के तहत बनाये जाने वाले घरों का निर्माण पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (PPP) मॉडल के तहत किया जाएगा।
  3. इस योजना के तहत लाभार्थियों को जो घर प्रदान किए जायेंगे, उसमें उन्हें सस्ते किराया के साथ ही बिजली, पानी एवं अन्य तमाम सुविधाएँ भी प्रदान की जाएगी।
  4. योजना के तहत सरकार ने एक बड़ा ऐलान यह भी किया हैं कि यदि उद्योगपति चाहें तो अपने उद्योग के पास में अपने मजदूरों के लिए घर बना कर उन्हें प्रदान कर सकते हैं। इसके लिए मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स, इंडस्ट्रीज और साथ ही इंस्टिट्यूशन्स को सरकार की ओर से प्रोत्साहन भी प्रदान किया जाएगा।
  5. इसके साथ ही प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मध्यम आय समूह यानि जिनकी आय 6 लाख रूपये से 18 लाख रूपये सालाना हैं। उन लोगों के लिए चलाई जा रही क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (CLSS) की अवधि को भी अब बढ़ा दिया गया हैं, यह अब मार्च 2021 तक कर दी गई हैं। इससे कम से कम 2.5 लाभ लोगों को फायदा मिलेगा।

पीएम अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग स्कीम हेतु पात्रता मापदंड-

Eligibility Criteria for PM Affordable Rental Housing Scheme – इस किफायती किराया आवास योजना का लाभ उठाने के लिए लाभार्थी को निम्नलिखित पात्रता मानदंड का पालन करना होगा।

  • इस योजना का लाभ देश में रहने वाले सभी प्रवासी व गरीब नागरिक उठाने के लिए पात्र हैं।
  • किफायती किराया आवास योजना में ऐसे प्रवासी मजदूरों को सस्ते दामों में घर प्रदान किये जायेंगे, जिनके पास रहने के लिए घर एवं रोजगार उपलब्ध नहीं है।
  • ऐसे गरीब व्यक्ति जोकि शहरी क्षेत्र में रहते हैं लेकिन उनके पास रहने के लिए घर नहीं हैं, उन्हें ही इस योजना के तहत शहर में रहने के लिए सस्ते दामों एवं कम किराये वाले घर प्रदान किये जायेंगे।
  • एमआईजी (MIG) – ऐसे लोग जोकि शहरी क्षेत्र में रहते हैं और मध्यम आय समूह के अंतर्गत आते हैं, उन्हें भी इस योजना के तहत लाभ प्रदान किया जाएगा।

इसे भी देखें: कोरोना राहत पैकेज की दूसरी किस्त जारी: जानिए किसे क्या मिलेगा

किफायती किराया आवास योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज-

Required Documents for Affordable Rental Housing Scheme – इस अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग स्कीम का लाभ लेने वाले सभी प्रवासी मजदूरों एवं शहरी गरीब लोगों को आवेदन के समय निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता हो सकती है।

  • आवेदक की पासपोर्ट-साइज फोटो
  • आधार कार्ड (Aadhaar Card)
  • आय प्रमाण पत्र (Income Certificate)
  • बीपीएल राशन कार्ड (BPL Ration Card)
  • मोबाइल नंबर (Mobile Number)
  • आधार कार्ड से लिंक बैंक अकाउंट का विवरण
प्रवासी श्रमिक किफायती किराया आवास योजना में आवेदन/पंजीकरण प्रक्रिया-

Migrant Workers Affordable Rental Housing Scheme 2020 Application / Registration Process – अभी फिलहाल वित्त मंत्री द्वारा इस अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग स्कीम की केवल घोषणा की गई है। किफायती किराया आवास योजना को आने वाले 1 महीने के अंदर लागू किये जाने की संभावना है। जैसे ही सरकार द्वारा इस योजना को लागू कर इसके लिए आवेदन/पंजीकरण करने की प्रक्रिया को साझा किया जाएगा। हम सभी जानकारी इस पोर्टल में अपडेट कर देंगे। जिसके बाद, आप भी इस योजना का लाभ उठा कर किफायती दामों में आवास प्राप्त कर सकेंगे। इसके लिए हमारी वेबसाइट पर आते रहें। धन्यवाद-

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री आवास योजना 2020-21 ग्रामीण और शहरी लिस्ट

अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग कॉम्प्लेक्स योजना (New Update)-

अभी हाल ही में केंद्रीय कैबिनेट ने ‘Affordable Rental Housing Complexes (AHRCs)’ को मंजूरी दी है। इस स्कीम में शहरी प्रवासियों और गरीबों के लिए किराये के घर विकसित किये जाएंगे। यह स्कीम “PM आवास योजना” की उपयोजना के रूप में है। सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडे़कर ने कैबिनेट के फैसलों के बारे में जानकारी देते हुए यह बात कही है। इस योजना से कंस्ट्रक्शन वर्कर्स, लेबर्स और प्रवासी मजदूर जैसे असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों और गरीबों को किफायती किराए के साथ रहने को घर मिल सकेगा।

इस योजना के अंतर्गत 1,000 रुपये से 3,000 रुपये प्रति माह के किराए पर अलग-अलग श्रेणी के लोगों को घर उपलब्‍ध कराए जाएंगे। निःसंदेह यह योजना गरीब प्रवासी श्रमिकों और मजदूरों को इस कोरोना काल के समय थोड़ी राहत देगी। इसके साथ ही सरकार ने रेहड़ी पटरी एवं सड़क विक्रेता हेतु सूक्ष्म ऋण योजना या ‘पीएम स्वनिधि लोन स्कीम’ शुरू की है।

यह भी पढ़ें: PMAY – प्रधानमंत्री आवास योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन करें

RM-Helpline-Team

Leave A Reply

Your email address will not be published.