[UIDAI] अब आधार कार्ड हेतु बिना दस्तावेजों के आवेदन करें

Apply-for-Aadhaar-Card-Without-Documents
Apply-for-Aadhaar-Card-Without-Documents

Aadhaar Card Without Documents Online Apply-: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको इस लेख के माध्यम से ‘आधार कार्ड हेतु बिना दस्तावेजों के आवेदन प्रक्रिया’ की जानकारी देंगे। जैसे कि आपको विदित होगा कि आधार कार्ड हमारे लिए कितना महत्वपूर्ण दस्तावेज हो गया है। इसके बिना हमारे कोई काम नहीं होते, चाहे वो नया बैंक अकाउंट खोलना हो या कोई मोबाइल सिम लेना। हमारे दैनिक जीवन में ‘Aadhar Card (UID)’ की बहुत आवश्यकता है। आपको बता दे कि आधार एक सम्मिलित योजना है, जिसके तहत भारत में कानूनी रूप से निवास करने वाले सभी व्यक्तियों को आधार कार्ड प्राप्त करने का अधिकार है।

सरकार हर एक योग्य निवासी को बायोमेट्रिक विशेष पहचान पत्र उपलब्ध कराने के लिए काम कर रही है, लेकिन यह काम इतना आसान नहीं है। क्योंकि भारत के सभी निवासियों के पास पहचान और निवास के दस्तावेज़ नहीं है। UIDAI की वेबसाइट पर उपलब्ध नए आंकड़ों के अनुसार, 123 करोड़ लोगों को दस्तावेज प्रमाण जारी किया गया है। जिन लोगों के पास वैध दस्तावेज प्रमाण नहीं है, वे भी आधार प्राप्त कर सकते हैं। अब आप बिना किसी दस्तावेजों के आधार कार्ड हेतु आवेदन कर सकते हो। Aadhaar Card Without Documents Application का तरीका जानने के लिए इस आर्टिकल को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें।

बिना दस्तावेजों के आधार कार्ड हेतु आवेदन करने के तरीके-

Methods to Apply for Aadhaar Card without Documents – अगर आपके पास आधार कार्ड नहीं है, और आप इसके लिए आवेदन करना चाहते हैं। भले ही आपके पास पहचान और निवास को प्रमाणित करने के लिए कोई दस्तावेज प्रमाण नहीं है, तो आप बिना दस्तावेजों के आधार कार्ड हेतु आवेदन करने के लिए भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) द्वारा अधिकृत एक परिचयकर्ता (Introducer) की मदद ले सकते हैं। नीचे दिए गए तरीकों का पालन करें:

  1. सबसे पहले, अपने इलाके के आधार नामांकन केंद्र (UIDAI Enrolment Center) पर जाइये।
  2. उसके बाद, ‘Aadhaar Enrolment/Correction Form’ प्राप्त करे और उसमें सभी जानकारी सही प्रकार से भरे।
  3. एक परिचयकर्ता द्वारा प्रमाणित फॉर्म (Introductory Certified Form) प्राप्त करें, जिसे रजिस्ट्रार या आधार क्षेत्रीय कार्यालयों द्वारा पहचाना और अधिसूचित किया गया है।
  4. आधार कार्याधिकारी (Aadhaar Officer) को फॉर्म जमा करें।
  5. अपने बायोमेट्रिक डेटा जैसे कि फिंगरप्रिंट, आइरिस स्कैन और फोटो प्रदान करें।
  6. आपको एक रसीद मिलेगी, जिसमें Enrollment Number दिया गया होगा, इसका उपयोग आप आधार कार्ड स्टेटस (Aadhar Card Status) जानने के लिए कर पाएंगे।
  7. आधार एनरोलमेंट के 90 दिनों के भीतर आधार कार्ड दिए गए पते पर डाक के माध्यम से भेजा जाएगा।
UIDAI – आधार परिचयकर्ता कौन है?

Who is Aadhaar Introducer – आधार परिचयकर्ता एक ऐसा व्यक्ति है जिसे रजिस्ट्रार या UIDAI के क्षेत्रीय कार्यालय द्वारा तैनात करते हुए उसके माध्यम से सूचना भेजी जाती है। परिचयकर्ता की जानकारी जिसमें उसका मूल विवरण, आवासीय पता और आधार डेटा शामिल हैं, UIDAI के CIDR (केंद्रीय पहचान डेटा रिपॉजिटरी) में रजिस्टर्ड हैं।

परिचयकर्ता का प्राथमिक कार्य आधार नामांकन के समय किसी ऐसे व्यक्ति को UIDAI से वाकिफ़ करवाना है, जिसके पास पहचान का कोई प्रमाण (POI) या पते का प्रमाण (POA) नहीं है। एक परिचयकर्ता एक रजिस्ट्रार के अधीन काम करता है जिसने उसे नियुक्त किया है। एक Introducer की भूमिका केवल उस क्षेत्र तक ही सीमित है, जिसके लिए उसे रजिस्ट्रार द्वारा नियुक्त किया गया है। अगर अन्य रजिस्ट्रार उसी परिचयकर्ता को सूचित करते हैं, तो वह अन्य स्वीकृत क्षेत्रों में भी व्यक्तियों को UIDAI से वाकिफ़ करा सकता है।

इसे भी देखें: अंतिम तिथि से पहले अपने आधार को पैन कार्ड से लिंक करें

आधार परिचयकर्ता बनने की योग्यता शर्ते-

Eligibility Conditions to become Aadhaar Introducer – एक व्यक्ति UIDAI के लिए एक परिचयकर्ता बन सकता है, यदि वह निम्नलिखित आवश्यकताओं को पूरा करता है:

  • उसकी आयु कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए।
  • इसके साथ ही उसका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं होना चाहिए।
  • उसे अपना आधार नंबर और विवरण UIDAI के रजिस्ट्रार को देना होगा।
  • वह रजिस्ट्रार का कर्मचारी, स्थानीय संस्था का सदस्य, स्थानीय संस्था का निर्वाचित प्रतिनिधि, पोस्टमैन, शिक्षक, डॉक्टर, आशा कार्यकर्ता आदि हो सकता है।
  • भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण का प्रस्तावक बनने के लिए एक स्थानीय NGO का प्रतिनिधि भी आवेदन कर सकता है।

इसे भी पढ़ें: Aadhar Card Update – आधार कार्ड अपडेट कैसे करें

एक UIDAI परिचयकर्ता की जिम्मेदारियां-

Responsibilities of a UIDAI Introducer – आधार परिचयकर्ता की मुख्य जिम्मेदारियां यह है कि वो बिना दस्तावेजों के आधार कार्ड आवेदन के लिए आये व्यक्तियों की मदद करनी होगी। इसके साथ ही UIDAI परिचयकर्ता की जिम्मेदारियां निम्न प्रकार से है:

  • परिचयकर्ता को यह जानना चाहिए कि आवेदक के नामांकन फॉर्म में दी गई जानकारी सही है या नहीं।
  • वह हर समय लोगों के लिए उपलब्ध होना चाहिए।
  • उसे फॉर्म में दी गयी जानकारी को भी खुद अपने स्तर पर जाँच लेना चाहिए।
  • अगर परिचयकर्ता फॉर्म में लिखी गई जानकारी सही पाता है, तो उसे एनरोलमेंट आवेदन मंजूर कर देना चाहिए।
  • उसे केवल उन निवासियों की मदद करनी चाहिए, जिनके पास निवास या पहचान का कोई प्रमाण नहीं है।
  • वह आधार नामांकन केंद्र ले जाने के लिए लोगों से शुल्क नहीं ले सकता है।
  • रजिस्ट्रार इस काम के लिए उसे एक रकम तय कर सकता है।

कृपया ध्यान दे – आधार परिचयकर्ता (Introducer) को किसी ऐसे व्यक्ति का एनरोलमेंट नहीं करना चाहिए, जो किसी (मृत या जीवित) व्यक्ति की जगह फर्जी आधार बनवाने आया हो। इसके साथ ही उसे किसी और की पहचान जानबूझकर लेने में किसी की मदद नहीं करनी चाहिए। साथ ही आवेदक के झूठे बायोमेट्रिक डेटा देने की योजना नहीं बनानी चाहिए। अगर वो ऐसा कोई काम करते पाया गया, तो परिचयकर्ता के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

UIDAI – Aadhaar Card Without Documents: https://uidai.gov.in/

इसे भी पढ़ें: आधार कार्ड अपॉइंटमेंट ऑनलाइन कैसे बुक करें

RM-Helpline-Team

1 Comment
  1. PREM Shankar says

    जिला संभल तहसील गुन्नौर ब्लॉक जुनावई डाक घर मिठनपुर भंवरु बरखेड़ा लक्ष्मीपुर मढैया

Leave A Reply

Your email address will not be published.